WWW- World Wide Web Hindi में! WWW का एक अल्टिमेंट गाइड

WWW- World Wide Web Hindi.

WWW- World Wide Web Hindi

WWW Meaning in Hindi:

WWW – World Wide Web

 

WWW Full Form:

Full Form of WWW का फूल फॉर्म हैं –

World Wide Web

WWW Full Form in Hindi-

World Wide Web

 

World Wide Web (WWW) in Hindi:

WWW Kya Hai:

टर्म World Wide Web (WWW) दुनिया भर में इंटरनेट से कनेक्‍ट पब्लिक वेब साइट्स के कलेक्‍शन को रेफर करता है, जिसके साथ क्लाइंट डिवाइस जैसे कंप्यूटर और सेल फोन जो इसके कंटेंट का उपयोग करते हैं। कई सालों से इसे “वेब” के रूप में जाना जाता है।

 

Definition Of The WWW In Hindi:

हिंदी में वर्ल्ड वाइड वेब की परिभाषा:

World Wide Web (संक्षिप्त WWW या वेब) एक इनफॉर्मेशन स्‍पेस है जहां डयॉक्‍युमेंटस् और अन्य वेब रिसोर्सेस Uniform Resource Locators (URLs) द्वारा आइडेन्टीफाइ होते है, हाइपरटेक्स्ट लिंक द्वारा लिंक्ड किए जाते है, और इंटरनेट के माध्यम से एक्सेस किया जा सकता है।

 

What is Difference Between WWW and Internet in Hindi?

हिंदी में WWW और इंटरनेट के बीच क्या अंतर है?

वेब, जिसे आमतौर पर जाना जाता है, अक्सर इंटरनेट के साथ उलझन करता है। हालांकि दोनों जटिलता से जुड़े हुए हैं, लेकिन वे अलग-अलग चीज़ें हैं।

इंटरनेट, जैसा कि इसका नाम बताता है, एक नेटवर्क – एक विशाल, वैश्विक नेटवर्क जिसमें छोटे नेटवर्क शामिल है। इंटरनेट में इंफ्रास्ट्रक्चर और अन्य टेक्नोलॉजीज को सपोर्ट किया जाता है।

इसके विपरीत, वेब एक कम्युनिकेशन्स मॉडल है, जो कि HTTP के माध्यम से इंटरनेट पर इनफॉर्मेशन को एक्‍सचेंज करने को सक्षम करता है।

 

History of the World Wide Web in Hindi:

वर्ल्ड वाइड वेब का इतिहास हिंदी में:

World Wide Web से पहले इंटरनेट में केवल टेक्‍स्‍ट से भरी स्क्रीन होती थी (इनमें आमतौर पर केवल एक फ़ॉन्ट और फ़ॉन्ट साइज ही होती थी) हालांकि, इनफॉर्मेशन एक्‍सचेंज करने के लिए यह बहुत अच्छा था, लेकिन इनफॉर्मेशन को पढ़ने के लिए यह बहुत उबाऊ था।

इसे अधिक सौंदर्यवादी बनाने की कोशिश में, Compuserve और AOL जैसी कंपनियों ने GUI (Graphical User Interfaces) को डेवलप करना शुरू कर दिया।

GUI ने थोड़ा कलर और थोड़ा लेआउट जोड़ा, लेकिन अभी भी यह उबाऊ था। निस्संदेह आईबीएम पर्सनल कंप्यूटर केवल विंडोज इंटरफेस को अपनाना शुरू कर रहे थे – इससे पहले MSDOS इंटरफेस के साथ वे बहुत आदिम थे। इसलिए उस समय इंटरनेट उपयोगी हो सकता है, लेकिन यह अच्छा नहीं दिख रहा था।

शायद World Wide Web नेट को न केवल बचाया बल्कि उसने अपनी उपस्थिति से कुछ ऐसे बदलाव किए, जिससे इमेजेस और साउंड को डिस्‍प्‍ले और एक्सचेंज किया जा सकने लगा।

एक अन्य महत्वपूर्ण बिल्‍डींग ब्‍लॉक URL या Uniform Resource Locator था। इसने हमको एक साइट नाम के द्वारा अपना रास्ता ढूंढने के लिए एक और ऑप्‍शन उपलब्‍ध करवाया। दुनिया भर में वेब पर हर साइट का एक युनिक URL (जैसे www.itkhoj.com) होता है।

दूसरा फीचर Hypertext Markup Language (html) था, जिसने वेब पेजेस को अलग-अलग फॉण्ट और साइज, पिक्चर, कलर इत्यादि को डिस्‍प्‍ले करने की अनुमति दी।

यह टिम बर्नर्स ली था जिन्होंने यह इन सभी को एक साथ लाया और World Wide Web बनाया। वर्ल्ड वाइड वेब का पहला ट्रायल दिसंबर 1990 में स्विट्जरलैंड में CERN लैबोरेट्रीज (यूरोप की सबसे बड़ी रिसर्च लैबोरेट्रीज में से एक) में हुआ था। 1993 तक ब्राउजर और वेब सर्वर सॉफ्टवेयर उपलब्ध हो गए थे, और 1992 तक कुछ प्रारंभिक साइटें जैसे विश्वविद्यालय इलिनोइस, जहां मार्क एंड्रीसन शामिल हो गए। 1992 के अंत तक, लगभग 26 साइटें हो गई थीं।

पहला ब्राउजर जो इसका लाभ उठाने के लिए लोकप्रिय रूप से उपलब्ध था, वह 1993 में Mosaic था। लेकिन Mosaic स्‍लो था और वह पिक्चर डाउनलोड को हैंडल नहीं कर पाता था।

इसलिए Mosaic और घरेलू मॉडेम के साथ जो वर्तमान मॉडेम कि स्‍पीड के छह गुना से भी ज्‍यादा स्‍लो थे, शुरुआती विश्वव्यापी वेब अनुभव बहुत ही घटिया था।

30 अप्रैल 1993 को, CERN के डायरेक्टर्स ने एक वक्तव्य दिया जो इंटरनेट इतिहास में एक सही मील का पत्थर साबित हुआ। इस दिन, उन्होंने घोषणा की WWW टेक्नोलॉजी का उपयोग स्वतंत्र रूप से कोई भी कर सकता हैं और इसके लिए CERN को कोई भी फीस देनी नहीं होगी।

ब्राउज़र ने वास्तव में सब कुछ बदलना शुरू कर दिया। 1994 के अंत तक लाखों ब्राउज़र कॉपीज उपयोग में थी – और वे तेजी से बढ़ा रही थी!

उसी वर्ष मार्क एंड्र्सन ने Netscape Corporation की स्थापना की, और वर्ल्ड वाइड वेब कंसोर्टियम, जो वर्ड वाइड वेब स्‍टैंडर्ड के डेवलपमेंट का एड्मिनिस्टर्स करती है, का गठन टिम बर्नर्स ली ने किया था।

तब हम वास्तव में विकास देखना शुरू कर चुके थे। हर साल 1994 से 2000 तक, इंटरनेट ने बड़े पैमाने पर वृद्धि देखी, जो इससे पहले किसी भी टेक्नोलॉजी के साथ नहीं देखा गया था। इंटरनेट का युग शुरू हो गया था!

1990 के दशक के मध्य में पहले Search Engines दिखाई देने लगे, और Google को प्रमुख बाजार काबिज करने के लिए ज्यादा समय नहीं लगा।

शुरुआती दिनों में, वेब को मुख्यतः इनफॉर्मेशन डिस्‍प्‍ले करने के लिए उपयोग किया जाता था। ऑनलाइन शॉपिंग और ऑनलाइन माल की खरीद थोड़े समय के बाद आया।

पहली बड़ी कमर्शियल साइट Amazon थी, इस कंपनी ने शुरुआती दिनों में केवल पुस्तक बाजारों पर ध्‍यान केंद्रित किया था। अमेज़ॅन के कांसेप्ट को 1994 में डेवलप किया गया था, और यह वही साल था जब कुछ लोग दावा करते हैं कि वर्ल्ड वाइड वेब में आश्चर्यजनक 2300 प्रतिशत बढ़ोतरी हुई है!

अमेज़ॅन ने देखा कि ऑनलाइन शॉपिंग भविष्य का तरीका हैं, और उसने पुस्तक बाजार को उस क्षेत्र के रूप में चुना जहां बहुत कुछ हासिल किया जा सकता था।

1998 तक World Wide Web पर 750,000 कमर्शियल साइटें थीं, और हम यह देखना शुरू कर रहे थे कि इंटरनेट मौजूदा उद्योगों में महत्वपूर्ण बदलाव कैसे लाएगा। उदाहरण के लिए ट्रैवल में, हम अलग-अलग एयरलाइंस और होटलों की तुलना करने और सबसे सस्ता किराया और एकोमोडेशन प्राप्त करने में सक्षम थे – जो इससे पहले करना मुश्किल था।

होटलों ने विशेष रूप से निर्मित वेबसाइटों के माध्यम से अंतिम मिनट दरों की पेशकश शुरू की, इस प्रकार वेब की शक्ति को बिक्री माध्यम के रूप में आगे बढ़ाया गया।

चीजें और भी आगे बढ़ीं – इन सभी घटनाक्रमों ने तेजी से पारंपरिक बाजारों में काम करने के तरीके को बदल दिया।

 

The World Wide Web uses three protocols:

वर्ल्ड वाइड वेब तीन प्रोटोकॉल का उपयोग करता है:

i) HTML (Hypertext Markup Language):

इस लैग्‍वेज से हम अपने वेब पेजों को लिखते हैं।

 

ii) HTTP (Hypertext Transfer Protocol ):

हालांकि अन्य प्रोटोकॉल जैसे FTP इस्तेमाल किया जा सकता है, यह सबसे कॉमन प्रोटोकॉल है। इसे विशेष रूप से World Wide Web के लिए डेवलप किया गया था और इसकी सरलता और गति के लिए अनुकूल थी।

यह प्रोटोकॉल सर्वर से HTML डयॉक्‍युमेंट कि रिक्‍वेस्‍ट करता है और ब्राउज़र में इसे मुहैया कराता है।

 

iii) URLS (Uniform Resource Locator):

वेब को काम करने की अनुमति देने के लिए आवश्यक पहेली का अंतिम भाग एक URL है।

यह वह एड्रेस है जो इंडिगेट करता है कि वेब पर कोई भी डयॉक्‍युमेंट कहाँ रहता है।

वर्ल्ड वाइड वेब

WWW के इतिहास से हमें क्‍या सीखना चाहिए?

हमने टिम बर्नर्स ली के निर्माण के इतिहास में कुछ प्रमुख मील पत्थर को कवर किया है। मील के पत्थर, जिन्होंने हमारे ग्‍लोबल कम्‍युनिकेशन के तरीके को बदल दिया। कई सबक हैं जो हम अपने इतिहास से सीख सकते हैं।

वेब लगातार बदल रहा है। जो भी वर्तमान में लेटेस्ट, ग्रेटेस्‍ट टेक्नोलॉजी है, उसे और अधिक फास्‍ट और बेहतर कुछ के द्वारा रिप्‍लेस कर दिया जाएगा।

वेब अभी भी बदल रहा है, कुछ भी सेट नहीं है और यह वेब के बारे में सबसे बड़ी चीजों में से एक है। किसी भी विज्ञान की तरह यह लगातार विकसित हो रहा है।

भविष्‍य में वेब इसके वर्तमान स्वरूप में नहीं रह जाएगा। हम डेस्कटॉप के माध्यम से वेब को एक्‍सेस किया करते थे, लेकिन आज हम मोबाइल और टैबलेट पर इसे ज्यादा एक्‍सेस करते हैं।

 

WWW- World Wide Web Hindi.

WWW- World Wide Web Hindi, What is World Wide Web in Hindi, What is WWW in Hindi, full form of WWW, Information About World Wide Web In Hindi, Essay On World Wide Web In Hindi, World Wide Web PDF In Hindi, World Wide Web Definition In Hindi, World Wide Web Definition Computer, History Of WWW In Hindi, What Is The Meaning Of WWW In Hindi. WWW Kya Hai. WWW Full Form in Hindi.

सारांश
आर्टिकल का नाम
www in hindi
लेखक की रेटिंग
51star1star1star1star1star