यूसी ब्राउज़र इतना प्रसिद्ध क्यों था? लेकिन फिर इसे प्‍ले स्‍टोर से क्यों हटाया गया?

UC Browser Hindi

UC Browser Hindi

UC Browser को चीनी मोबाइल इंटरनेट कंपनी UCWeb द्वारा विकसित किया गया एक वेब ब्राउज़र है, जिसका मालिक Alibaba Group है। Google Chrome, Safari और Firefox के बाद, दिसंबर 2018 तक, यह बाजार में शेयर का चौथा सबसे लोकप्रिय मोबाइल ब्राउज़र रहा है।

मूल रूप से अप्रैल 2004 में J2ME-only एप्लिकेशन के रूप में लॉन्च किया गया, यह एंड्रॉइड, ब्लैकबेरी ओएस, आईओएस, जावा एमई, सिम्बियन, विंडोज फोन और माइक्रोसॉफ्ट विंडोज सहित कई प्लेटफार्मों पर उपलब्ध है।

 

UC Browser In Hindi

क्या आप UC ब्राउज़र के यूजर हैं? वैसे, आपको यह जानकर हैरानी होगी कि यदि आप UC Browser का उपयोग कर रहे हैं तो आप दुनिया भर में उन 400 मिलियन यूजर्स में से एक हैं जो UC Browser का उपयोग करते हैं।

यह ब्राउज़र एशिया में नंबर एक ब्राउज़र माना जाता है और दुनिया भर में दूसरा सबसे लोकप्रिय ब्राउज़र है। इस आर्टिकल में, आपको पता चल जाएगा कि यह ब्राउज़र दुनिया भर में इतना प्रसिद्ध क्यों था और इसके बाद इसे दुनिया भर में भारी आलोचना का सामना क्यों करना पड़ा।

इस ब्राउज़र की इस भारी सफलता के पीछे कुछ मुख्य कारण जो आप इस आर्टिकल में विस्तार से पढ़ेंगे:

Night mode

Mini version

Cloud boost technology

Browsing with gestures

Multiple languages

Download in the background

UDisk

Optimized preloading

Wi-Fi sharing

आपको यह बताने से पहले कि इस ब्राउज़र ने इतनी प्रसिद्धि क्यों हासिल की, मैं आपको समझाऊंगा कि वास्तव में UC browser क्या है और इसे किसने पेश किया। आपको यह भी पता होना चाहिए कि ब्राउज़र क्या हैं और किस उद्देश्य से इसका उपयोग किया जाता है।

Browser Hindi में! ब्राउज़र क्या हैं? इनके बारे में आपको क्या पता होना चाहिए

 

UC Browser Hindi

UC Browser मूल रूप से एक मोबाइल ब्राउज़र है जिसे 2004 में पेश किया गया था। इस ब्राउज़र का निर्माता UCWeb है।

UCWeb एक चीनी कंपनी है। UCWeb का 65% से अधिक मार्केट शेयर है और इसे चीन की नंबर एक कंपनी माना जाता है।

 

UC Browser इतना प्रसिद्ध क्यों है?

यह ब्राउज़र समय-समय पर अपडेट किया गया है और यूजर-फ्रैंडली है। इसका सरल इंटरफ़ेस उपयोग करना आसान बनाता है। इसे लोकप्रिय बनाने वाले कुछ अन्य कारण हैं:

i) Night Mode:

नाइट मोड फीचर आपकी बैटरी लाइफ को बचाने में आपकी मदद करता है। अगर आपकी अपनी बैटरी खत्म हो रही हैं तो आपको UC Browser में नाइट मोड पर स्विच करना होगा।

इस प्रकार यह आपके बैटरी लाइफ को बढ़ा सकते है।

यह फीचर रात में ब्राउज़ करते समय आपकी आंखों की सुरक्षा में भी मदद करती है। यह विशेषता क्या करती है कि यह स्क्रीन की रोशनी को कम करती है। यह फीचर पूरी तरह से मुफ्त है।

आप मेनू में जाकर night option पर टैप करके UC Browser में नाइट मोड पर जा सकते हैं।

 

ii) Mini Version:

UC Browser कम जगह वाले एंड्रॉइड फोन के लिए भी उपलब्ध है। ऐसे मामलों में, आप UC Browser के mini version का उपयोग कर सकते हैं।

इस तरह, आप अपने एंड्रॉइड फोन पर इस छोटे पैकेज का आनंद ले सकते हैं जिसमें कम स्‍पेस है। यह इंस्‍टॉलेशन के लिए अधिकतम 20 MB स्‍पेस लेता है जो UC Browser की तुलना में बहुत कम है।

इस मिनी वर्शन का यूजर इंटरफेस भी UC Browser से थोड़ा अलग है। UC Browser की तुलना में इसमें अधिक पॉवरफुल डाउनलोड फीचर्स हैं।

 

iii) Cloud Boost Technology:

यह तकनीक मूल रूप से ब्राउज़िंग की स्‍पीड को बढ़ाने के लिए UCWeb के सर्वर का उपयोग करती है। इससे लोडिंग फास्‍ट होती है।

आपको अपनी पसंद के अनुसार इस फीचर को एनेबल या डिसेबल करने की अनुमति है।

यह क्लाउड सिस्टम उस सर्वर से डेटा प्राप्त करता है जो इसके निकटतम उपलब्ध है। इससे लोडिंग का समय तेज हो जाता है।

 

iv) Browsing With Gestures:

आप UC Browser पर gestures के साथ ब्राउज़िंग का आनंद ले सकते हैं। यह UC Browser में एक ऐड-ऑन है।

अपनी पसंदीदा वेबसाइट के gestures को सेव कर सकते हैं और उन gestures को ड्रॉ करके ओपन कर सकते हैं।

UC Browser पर gesture आइकन पर क्लिक करें और उस वेबसाइट के gesture को ड्रॉ करें जिसे आप अपनी उंगली से ओपन करने का इरादा रखते हैं। तब आप जादू देख पाएंगे।

आप gesture का उपयोग करके UC ब्राउज़र में टैब स्विच भी कर सकते हैं। इसी तरह, आप टैब को ओपन कर सकते हैं या बस ऊपर या नीचे स्वाइप करके उन्हें बंद कर सकते हैं।

 

v) Multiple Languages:

जैसा कि इस ब्राउज़र के 400 मिलियन से अधिक यूजर्स हैं, इसका मतलब है कि विभिन्न भाषाओं वाले विभिन्न देशों के लोग इसका उपयोग कर रहे हैं।

इस प्रकार यह प्रॉडक्‍ट कई भाषाओं में उपलब्ध है। इसका उपयोग लगभग 11 भाषाओं में किया जा सकता है।

आप सभी लोकप्रिय OS पर भी इसका आनंद ले सकते हैं। इन OS में शामिल हैं:

एंड्रॉयड

ब्लैकबेरी

आईओएस

विंडोज

सिम्बियन

ऑपरेटिंग सिस्टम: यह क्या हैं? इसके फंक्‍शन और टाइप

 

vi) Downloads in the Background:

जब आप अपना UC Browser को बंद कर देते हैं, तो भी डाउनलोड की प्रोसेस जारी रहती हैं। यह ब्राउज़र को बंद करने पर बंद नहीं होती।

यदि यह डाउनलोडिंग प्रोसेस वाई-फाई कनेक्शन द्वारा डिस्कनेक्ट हो जाती है तो यह तब भी फिर से शुरू हो जाएगी जब कनेक्शन स्थापित हो जाएगा।

 

vii) U-Disk:

UC Browser आपको कम या सीमित स्‍टोरेज के मामले में एक बड़ा सपोर्ट देता है। अगर आप अपने फोन में स्टोरेज कम होने के कारण अपनी फाइल को सेव नहीं कर पा रहे हैं तो आप U-Disk का इस्तेमाल कर सकते हैं।

U-Disk एक क्लाउड सर्विस है जो आपके डेटा को क्लाउड में स्‍टोर करती है। इस प्रकार आप अपने डाउनलोड को क्लाउड स्टोरेज में सेव कर सकते हैं।

2019 में एंड्रॉइड के लिए सर्वश्रेष्ठ क्लाउड स्टोरेज सर्विसेस और ऐप्स!

 

viii) Optimized Preloading:

Optimized Preloading में, जब आप UC ब्राउज़र पर एक वेब पेज पढ़ रहे होते हैं, तो अगला पेज प्रीलोडेड होता है।

जब आप अपने वर्तमान पेज को पढ़ने के लिए प्रतिस्पर्धा करने वाले होते हैं और आप उस पेज के अंत में होते हैं, तो अगला पेज लोड हो जाता है।

इस तरह, यह अपने यूजर्स को एक उत्कृष्ट पढ़ने का अनुभव प्रदान करता है।

 

ix) Wi-Fi Sharing:

UC Browser की वाई-फाई शेयरिंग सुविधा के साथ, आप डाउनलोड की गई फ़ाइलों को अन्य डिवाइसेस के साथ अपने वाईफ़ाई पर शेयर कर सकते हैं। इससे फ़ाइल ट्रांसफर बहुत आसान हो जाता है।

 

x) Ad blocking Feature:

कई इंटरनेट यूजर्स ad blockers का उपयोग कष्टप्रद विज्ञापनों को ब्‍लॉक करने के लिए करते हैं। इसका एक अन्य कारण इंटरनेट कनेक्शन को फास्‍ट करना है।

UC Browser शक्तिशाली ad blocking फीचर प्रदान करता है जिसकी सहायता से आप विज्ञापनों को ब्लॉक कर सकते हैं और ब्राउज़र को पहले से भी अधिक तेज़ कर सकते हैं।

 

“UC Browser ने जनवरी 2018 तक भारत में 130 मिलियन मासिक सक्रिय यूजर्स की संख्या को पार किया। यह भारत में छठा सबसे अधिक डाउनलोड किया जाने वाला ऐप है।

 

यहां UC Browser 12.0 वर्शन के टॉप फीचर्स हैं

1) Better Video Experience

UC Browser पर वीडियो की खपत में 60% की वृद्धि के साथ, मोबाइल ब्राउज़र का नवीनतम पुनरावृत्ति अब यूजर्स को एक ही समय में वीडियो डाउनलोड करने और स्ट्रीम करने की अनुमति देता है। वीडियो के थंबनेल पर एक नया प्रिव्‍यू यूजर्स को वीडियो डाउनलोड करने या न करने के बारे में बेहतर निर्णय लेने की अनुमति देता है।

 

2) Data Saver

UC Browser अब VP9 Codec वीडियो कोडिंग फॉर्मेट को सपोर्ट करता है, जिसे कंपनी किसी भी क्‍वालिटी को खोए बिना पिछले वर्शन की तुलना में 50% डेटा सेव करने में मदद करने का दावा करती है।

VP9 एक ओपन और रॉयल्टी-मुक्त वीडियो कोडिंग फॉर्मेट है जिसे Google द्वारा विकसित किया गया है और इसका उद्देश्य तेजी से वीडियो स्ट्रीमिंग है। यह फुल HD की तुलना में अधिक रिज़ॉल्यूशन वाले वीडियो के लिए ऑप्टिमाइज़ किया गया है। Google Chrome और मोज़िला फ़ायरफ़ॉक्स पहले से ही अपने मोबाइल ब्राउज़र पर इस एन्कोडिंग का उपयोग करते हैं।

 

3) Security

UC Browser 12.0 हाल ही में प्रकट गंभीर CPU कमजोरियों, स्पेक्टर और मेलडाउन के बारे में चिंताओं को संबोधित करता है।

 

4) Optimisation for Lower-end Phones

एक उन्नत कोर U4 कर्नेल के साथ, UC Browser अब रैम के रिसोर्सेस के बिना वेबसाइटों को चलाने में सक्षम है – जो कई Google Chrome यूजर्स के लिए एक महत्वपूर्ण दर्द की बात हैं। UCWeb का कहना है कि यह नया फीचर ब्राउज़र को रैम पर 1GB या 2GB जैसे कम साइज वाले फोन पर आसानी से कार्य करने की अनुमति देती है।

 

India growth of UC Browser in Hindi:

नए फीचर्स के अलावा, UC Web ने घोषणा की कि उसके मोबाइल ब्राउज़र के भारत में अब 130 मिलियन से अधिक मासिक सक्रिय यूजर्स है, जबकि इस प्लेटफॉर्म पर वीडियो तेजी से लोकप्रिय श्रेणी बन रहे हैं, जो ज्यादातर अपने डेटा कंप्रेशन तकनीक के लिए जाना जाता है।

स्टेटकाउंटर के अनुसार, एक थर्ड-पार्टी ब्राउज़र मॉनिटरिंग प्‍लेटफॉर्म, UC Browser जनवरी 2017 और जनवरी 2018 के बीच भारत में टॉप का मोबाइल ब्राउज़र था। पिछले महीने भारत में, मोबाइल ब्राउज़र का मार्केट शेयर UC Browser का 43.27% था, जिसके बाद Google Chrome 35.73 % के साथ था।

 

लाखों एंड्रॉइड यूजर्स सावधान रहें: मैलवेयर वितरित करने के लिए अलीबाबा के UC Browser का उपयोग किया जा सकता है

UC Browser, Alibaba के स्वामित्व वाले UCWeb से बेहद लोकप्रिय मोबाइल ब्राउजर में एक डिज़ाइन दोष है, जो हमलावरों को रूसी सुरक्षा फर्म डॉ वेब के शोधकर्ताओं के अनुसार, इंटरनेट पर किसी भी सर्वर से फाइलों के साथ कंपनी के सर्वर से डाउनलोड को स्वैप करने की अनुमति देता है।

कंपनी ने इस मोबाइल ब्राउज़र के बारे में चेतावनी दी है क्योंकि यह Google के आधिकारिक प्ले स्टोर सर्वर से गुजरे बिना अतिरिक्त सॉफ्टवेयर लाइब्रेरी डाउनलोड किया जा सकता है।

“यह Google Inc. के नियमों का उल्लंघन करता है और एक गंभीर खतरा पैदा करता है क्योंकि यह दुर्भावनापूर्ण सहित किसी भी कोड को एंड्रॉइड डिवाइस पर डाउनलोड करने में सक्षम बनाता है,” डॉ वेब शोधकर्ताओं ने चेतावनी दी है।

UC Browser ने भारत में प्ले स्टोर से 500 मिलियन से अधिक डाउनलोड के साथ एक बड़े यूजर-बेस को आकर्षित किया है और यह थर्ड-पार्टी ऐप स्टोर के माध्यम से भी उपलब्ध है।

मैलवेयर क्या है और यह क्या कर सकता है?

 

UC Browser को Google Play Store से हटा दिया गया

UC Browser को Google Play स्टोर से हटा दिया गया है। Alibaba के स्वामित्व वाला मोबाइल ब्राउज़र, जिसको पिछले महीने 500 मिलियन से अधिक डाउनलोड किया गया हैं और भारत में इसके 100 मिलियन से अधिक यूजर्स हैं, अब यह प्ले स्टोर में कहीं भी दिखाई नहीं देता है।

हालाँकि, UCWeb के अन्य एप्लिकेशन जैसे UC Browser Mini और UC News अभी भी प्ले स्टोर पर उपलब्ध हैं। पिछले कुछ महीनों में यह बात सामने आई है कि यह ब्राउजर अपने भारतीय यूजर्स का पर्सनल डेटा चीन के एक सर्वर में भेज रहा था।

हालाँकि, प्ले स्टोर से ऐप के निष्कासन का कारण बताते हुए Google या UCWeb ने अभी तक कोई आधिकारिक प्रतिक्रिया नहीं दी है।

 

UC Browser Hindi.

UC Browser In Hindi, UC Browser Hindi Mai, UC Browser Hindi News

सारांश
आर्टिकल का नाम
UC Browser in Hindi
लेखक की रेटिंग
51star1star1star1star1star