Router Information Hindi में! राउटर क्या है? राउटर कैसे काम करते हैं?

Router in Hindi:

Router Information Hindi

What Is Router In Hindi:

Routers छोटे इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस होते हैं जो वायर्ड या वायरलेस कनेक्शन के माध्यम से कई कंप्यूटर नेटवर्क को कनेक्‍ट करते हैं।

Routers डिवाइस में सॉफ़्टवेयर होता हैं जो किसी विशेष ट्रांसमिशन के लिए, उपलब्ध paths का सर्वोत्तम path निर्धारित करने में सहायता करते हैं।

आसन भाषा में Router एक कंप्‍यूटर नेटवर्क को दूसरे कंप्‍यूटर नेटवर्क से कनेक्‍ट करता हैं या एक कंप्‍यूटर नेटवर्क को इंटरनेट से कनेक्‍ट करता हैं।

इसलिए Route कि पोजिशन आपके मॉडेम और कंप्यूटर के बीच होती है।

नेटवर्क को इंटरनेट से कनेक्‍ट करने के लिए Route मॉडेम से कनेक्‍ट होना चाहिए। इसलिए, अधिकांश राउटर में एक विशिष्ट ईथरनेट पोर्ट होता है जिसे केबल या डीएसएल मॉडेम के ईथरनेट पोर्ट से कनेक्ट करने के लिए डिज़ाइन किया गया है।

 

History of Router in Hindi:

एक राउटर की आइडीया, जिसे गेटवे कहा जाता था, कंप्यूटर नेटवर्किंग रिसर्चर्स का एक ग्रुप से आया जो एक अंतर्राष्ट्रीय नेटवर्क वर्किंग ग्रुप नाम के एक आर्गेनाइजेशन था, जो 1972 में इंटरनेशनल फेडरेशन फॉर इन्फॉर्मेशन प्रोसेसिंग की एक कमेटी बन गई।

1974 में, पहला router डेवलप किया गया था और 1976 तक, PDP-11 आधारित Router इंटरनेट का एक प्रोटोटाइप एक्सपेरिमेंटल वर्जन बनाने के लिए इस्तेमाल किया गया था। 1970 के दशक के मध्य से लेकर 1980 के दशक तक मिनी कंप्यूटरों को Router के रूप में इस्तेमाल किया गया था।

आज, हाई-स्पीड मॉडर्न Router वास्तव में तेजी से डेटा पैकेट फॉरवार्डिंग के लिए अतिरिक्त हार्डवेयर वाले कंप्यूटर और एन्क्रिप्शन जैसे विशेष सिक्‍युरिटी फ़ंक्शन हैं।

 

How Routers Work in Hindi:

राउटर कैसे काम करते हैं:

Router Information Hindi

एक राउटर उपलब्ध routes और उनकी कंडिशन का एक टेबल बनाता है और किसी भी पैकेट के लिए सर्वोत्तम मार्ग निर्धारित करने के लिए डिस्टेंस और कॉस्‍ट एल्गोरिदम के साथ इस इनफॉर्मेशन का उपयोग कर सकता है।

टेक्निकल शब्दों में, एक राउटर एक लेयर 3 नेटवर्क गेटवे डिवाइस है, जिसका अर्थ है कि यह दो या अधिक नेटवर्क्स को जोड़ता है और राउटर OSI मॉडल की नेटवर्क लेयर पर ऑपरेट होता है।

रूटर में एक प्रोसेसर (CPU), कई प्रकार की डिजिटल मेमोरी और इनपुट आउटपुट (I/O) इंटरफेस होते हैं।

Routes नेटवर्क लेयर एड्रेस या लॉजिकल एड्रेस IP address को एक्‍सेस होता हैं। इसमें एक routing table होता हैं, जो इसे route के बारे में निर्णय लेने में सक्षम बनाता है, उदाहरण के लिए ट्रांसमिशन के लिए सोर्स और डेस्टिनेशन के बिच कौनसे संभावित पाथ उपलब्‍ध हैं और इनमे सर्वोत्‍तम पाथ कौनसा हैं।

यह routing table डायनामिक होता हैं और राउटिंग प्रोटोकॉल से अपडेट होता हैं।

Routes एक कनेक्‍टेड नेटवर्क से पैकेट प्राप्‍त करता हैं और उसे दूसरे कनेक्‍टेड नेटवर्क को पास करता हैं। एक बार जब Routes पैकेट के लिए सर्वोत्तम मार्ग का पता लगा लेता है, तो यह पैकेट को उपयुक्त नेटवर्क के साथ दूसरे राउटर से गुजरता है। यह राउटर डेस्टिनेशन एड्रेस को चेक करता है और पैकेट को सबसे अच्छे मार्ग से सोर्स नेटवर्क पर भेजता है।

 

 

Types of Routers in Hindi:

राउटर के प्रकार:

मार्केट में कई तरह के Routers हैं।

1) Broadband Routers:

Broadband Routers का उपयोग कंप्यूटर नेटवर्क को दूसरे नेटवर्क से कनेक्ट करने या इंटरनेट से कनेक्ट करने के लिए किया जा सकता है।

 

2) Wireless Routers:

वायरलेस Router आपके घर या ऑफिस में वायरलेस सिग्नल बनाते हैं। इसलिए, वायरलेस Router की सीमा के भीतर कोई भी पीसी, लैपटॉप या स्‍मार्टफोन इससे कनेक्ट हो सकता है और आपके इंटरनेट का उपयोग कर सकता है।

अपने वायरलेस राउटर को सुरक्षित करने के लिए, आपको अपने वाई-फाई को स्‍ट्रॉंग पासवर्ड से प्रोटेक्‍ट करना होगा।

 

 

Router Information Hindi.

Router Information Hindi, Router Information in Hindi, What is Router in Hindi. Router in Hindi.

सारांश
लेखक की रेटिंग
51star1star1star1star1star