Modem Hindi में! कंप्यूटर नेटवर्किंग में मॉडेम क्या है?

11072
Modem in Hindi

Modem Full Form – Modem in Hindi

Modem Full Form

Full Form of Modem is – Modulator–Demodulator

Modem Full Form in Hindi

Modem Ka Full Form हैं – Modulator–Demodulator

- Advertisement -

What Is a Modem in Hindi?

मॉडेम एक नेटवर्क हार्डवेयर डिवाइस है जो किसी कंप्यूटर को एक टेलिफोन लाइन या केबल या सैटेलाइट कनेक्शन पर डेटा भेजने और प्राप्त करने की अनुमति देता है, जिससे डिजिटल डेटा को फोन लाइन पर उपयोग किए गए एनालॉग सिग्नल में कन्‍वर्ट किया जा सकता है।

मॉडेम क्या है?

Modem Kya Hai

मोडेम का उपयोग टेलीफोन लाइनों के माध्यम से एक कंप्यूटर नेटवर्क से दूसरे कंप्यूटर नेटवर्क में डेटा ट्रांसफर के लिए किया जाता है। कंप्यूटर नेटवर्क डिजिटल मोड में काम करता है, जबकि एनालॉग तकनीक का उपयोग फोन लाइनों पर मैसेज को ले जाने के लिए किया जाता है।

मोडम एक इनपुट और एक आउटपुट डिवाइस है। इसका उपयोग टेलीफोन लाइनों पर इनफॉर्मेशन और डेटा भेजने और प्राप्त करने के लिए किया जाता है।

कम से कम दो तरीके हैं जिनका उपयोग इलेक्ट्रॉनिक रूप से डेटा और इनफॉर्मेशन का प्रतिनिधित्व करने के लिए किया जा सकता है। एक तरीका डिजिटल है और दूसरा तरीका एनालॉग है। डिजिटल प्रतिनिधित्व का उपयोग करने वाली मशीनें एनालॉग प्रतिनिधित्व को नहीं समझ सकती हैं और इसके विपरीत।

जब कोई कंप्यूटर मॉडेम का उपयोग करके दूसरे कंप्यूटर से बात करता है, तो वह दूसरे कंप्यूटर से डिजिटल जानकारी और डेटा भेजता और प्राप्त करता है। यह जानकारी कंप्यूटर के बीच टेलीफोन लाइन पर यात्रा करती है।

टेलीफोन लाइनें एनालॉग रूप में डेटा और सूचना भेजती हैं डिजिटल रूप में नहीं।

इसलिए, कंप्यूटर से डिजिटल इनफॉर्मेशन और डेटा को एनालॉग रूप में रखने के लिए एक अनुवादक की आवश्यकता होती है ताकि डेटा को टेलीफोन लाइन पर भेजा जा सके। इसी प्रकार, टेलीफोन लाइन के ऊपर आने वाली एनालॉग इनफॉर्मेशन और डेटा को डिजिटल रूप में (जो कि कंप्यूटर समझता है) अनुवाद करने के लिए दूसरे छोर पर एक अनुवादक की आवश्यकता होती है। तो यही काम मोडम करता हैं।

लेकिन कैसे? चलो देखते हैं-

मोडेम का क्या मतलब है?

Meaning of Modem in Hindi:

मॉडेम नाम का मतलब modulator और demodulator है। Modem यह शब्‍द MODulator और DEModulator से बना है।

जब इंटरनेट पहली बार बनाया गया था, तब मॉडेम का उपयोग एनालॉग सिग्नल को modulate (या कन्‍वर्ट) करने के लिए किया जाता था, जिसे टेलीफोन लाइनें डिजिटल सिग्नल में उपयोग करती हैं जिसे कंप्यूटर और अन्य डिवाइस समझ सकते हैं। फिर एक मॉडेम आपके डिवाइसेस से सिग्नल को वापस एनालॉग सिग्नल में बदल देगा, इसलिए इसे एक टेलीफोन लाइन पर भेजा जा सकता है।

जबकि अब अधिक एडवांस तकनीक का उपयोग किया जाता है, मॉडेम शब्द वही रह गया है।

अधिकांश मोडेम में केवल तीन पोर्ट होते हैं, एक जो इंटरनेट से कनेक्ट होता है, एक जो राउटर से कनेक्ट होता है, और एक जो पावर स्रोत से कनेक्ट होता है। पुराने मोडेम टेलीफोन लाइनों के माध्यम से इंटरनेट से जुड़ते हैं, जबकि नए मोडेम केबल या फाइबर ऑप्टिक कनेक्शन का उपयोग करते हैं। राउटर या कंप्यूटर से कनेक्ट करने के लिए मोडेम में कम से कम एक ईथरनेट पोर्ट भी होगा।

मॉड्यूलेशन और डिमोड्यूशन क्या है?

Basics of Modulation and Demodulation in Hindi:

मॉड्यूलेशन और डिमोड्यूशन की बेसिक बातें

एक मॉडेम हमारे कंप्यूटर को एक स्‍टैंडर्ड फोन लाइन या केबल से कनेक्‍ट करता है, जिससे हमें डाटा भेज या डेटा प्राप्त कर सकते है।

मॉडेम एक कन्वर्शन टूल है जो एक डिवाइस के सिग्नल को अन्य डिवाइस रिड कर सके ऐसे सिग्नल में कन्‍वर्ट करता हैं।

उदाहरण के लिए, मॉडेम कंप्यूटर के डिजिटल डेटा को एक एनालॉग सिग्नल में कन्‍वर्ट करता है जिसे टेलिफोन लाइन द्वारा भेजा जा सकता है।

मॉडेम का modulator पार्ट, डिजिटल सिग्नल को एनालॉग सिग्नल में कनवर्ट करता है, और demodulator पार्ट एनालॉग सिग्नल को डिजिटल सिग्नल में कन्‍वर्ट करता है।

modulation and demodulation in modem in Hindi

राउटर और मॉडेम में क्या अंतर है?

एक मॉडेम और एक राउटर के बीच मुख्य अंतर यह है कि एक मॉडेम आपको इंटरनेट से जोड़ता है और एक राउटर आपके डिवाइस में इंटरनेट कनेक्शन वितरित करता है। राउटर आपको अपने आप इंटरनेट से नहीं जोड़ता है।

एक मॉडेम आपको वाइड एरिया नेटवर्क (WAN) या इंटरनेट से जोड़ता है। दूसरी ओर, एक राउटर आपके उपकरणों को आपके लोकल एरिया नेटवर्क (LAN) या वाईफाई नेटवर्क से जोड़ता है, और यह आपके डिवाइसेस को एक दूसरे के साथ वायरलेस तरीके से संचार करने देता है।

मूल रूप से, एक मॉडेम इंटरनेट के लिए आपका प्रवेश द्वार है, जबकि एक राउटर आपके डिवाइसेस के लिए एक सेंट्रल हब है।

मॉडेम का इतिहास क्या है?

History of Modems in Hindi

History of Modems in Hindi- मोडेम्स का इतिहास:

Modem नाम का पहला डिवाइस एनालॉग टेलिफोन लाइनों पर ट्रांसमिशन करने के लिए डिजिटल डेटा को कन्‍वर्ट करता हैं। इन मॉडम की स्‍पीड को ऐतिहासिक रूप से बॉड (Emile Baudot के नाम पर रखा गया युनिट) में मापा गया था, हालांकि कंप्यूटर टेक्‍नोलॉजी डेवलप होने के बावजूद इसे बिटस् पर सेकंड में कन्‍वर्ट किया गया।

पहले कमर्शियल मॉडेम 110 bps की स्‍पीड को सपोर्ट करते थे और यू.एस. डिपार्टमेंट ऑफ़ डिफेंस, न्यूज सर्विस, और कुछ बड़े बिजनेसेस द्वारा इसका इस्तेमाल किया गया था।

मॉडेम धीरे-धीरे यूजर्स से ’80 के दशक के अंत तक पब्‍लीक मैसेज बोर्ड के रूप में परिचित हो गए। इसके बाद CompuServe जैसी न्‍यूज सर्विस ने शुरुआती इंटरनेट इंफ्रास्ट्रक्चर बनाया।

फिर, 1990 के दशक के मध्य और अंत में World Wide Web के विस्फोट के साथ, dial-up modems दुनिया भर के कई घरों में इंटरनेट एक्सेस के प्राइमरी रूप के रूप में उभरा।

पहला मोडेम “डायल-अप” था, जिसका अर्थ था कि उन्हें ISP से कनेक्ट करने के लिए एक फोन नंबर डायल करना पड़ता था। ये मॉडेम स्‍टैंडर्ड एनालॉग फोन लाइनों पर ऑपरेट होता है और टेलीफोन कॉल के ही फ्रीक्वेंसी का इस्तेमाल करते है, जिसका अधिकतम डाटा ट्रांसफर रेट को 56 Kbps तक सीमित था।

Dial-up modems को लोकल टेलीफोन लाइन का पूरा उपयोग करने की आवश्यकता होती है, जिसका अर्थ है कि एक बार में आप या तो इंटरनेट चला सकते हैं या वॉइस कॉल्स कर सकते हैं।

मॉडर्न मॉडेम आमतौर पर DSL या केबल मोडेम होते हैं, जिन्हें “ब्रॉडबैंड” डिवाइस माना जाता है। DSL मॉडेम स्‍टैंडर्ड टेलीफोन लाइनों पर ऑपरेट होते हैं, लेकिन एक वाइड फ्रीक्वेंसी रेंज का उपयोग करते हैं। इससे डायल-अप मॉडेम की तुलना में अधिक डेटा ट्रांसफर रेट मिलता है। केबल मोडेम स्‍टैंडर्ड टेलीविजन लाइनों पर डेटा भेजते और प्राप्त करते हैं, जो आमतौर पर कोएक्सिअल केबल होती हैं।

अधिकांश मॉडर्न केबल मोडेम डॉक्सिस DOCSIS (Data Over Cable Service Interface Specification) को सपोर्ट करते हैं, जो एक ही केबल लाइन पर टीवी, केबल इंटरनेट और डिजिटल फ़ोन सिग्‍नल को ट्रांसमिट करने का एक प्रभावी तरीका प्रोवाइड करता है।

मॉडेम कितने प्रकार के होते हैं?

Types of Modem in Hindi

1) Dial-Up Modems in Hindi:

डायल-अप नेटवर्क पर इस्तेमाल किए जाने वाले ट्रेडिशनल मॉडेम्‍स, टेलीफोन लाइनों पर इस्तेमाल किए गए एनालॉग फॉर्म और कंप्यूटर पर इस्तेमाल किए जाने वाले डिजिटल फॉर्म के बीच डेटा कन्वर्ट करते हैं।

एक एक्‍सटर्नल dial-up modem में एक एंड पर एक कंप्यूटर प्लग होता है और दूसरे एंड में टेलीफोन लाइन।

Modern dial-up network modems, 56,000 बिट प्रति सेकंड की अधिकतम रेट पर डेटा ट्रांसमिट करते हैं। हालांकि, पब्‍लीक टेलीफोन नेटवर्क की अंतर्निहित लिमिटेशन अक्सर मॉडेम डेटा रेट को प्रैक्टिकल में 33.6 Kbps या उससे कम कर देती हैं।

2) Broadband Modems in Hindi:

DSL या केबल इंटरनेट एक्सेस के लिए उपयोग किए जाने वाले ब्रॉडबैंड मॉडेम ट्रेडिशनल डायल-अप मॉडेम की तुलना में हाई स्‍पीड हासिल करने के लिए एडवांस सिग्नलिंग टेक्‍नीक का उपयोग करते है।

ब्रॉडबैंड मोडेम को अक्सर हाई स्पीड मॉडेम के रूप में जाना जाता है। सेलुलर मॉडेम एक प्रकार के डिजिटल मॉडेम है जो मोबाइल डिवाइस और एक सेल फोन नेटवर्क के बीच इंटरनेट कनेक्टिविटी स्थापित करते है।

External broadband modems होम ब्रॉडबैंड Router या अन्य होम गेटवे डिवाइस को एक एंड पर प्लग करता है और दूसरे एंड पर एक्‍सटर्नल इंटरनेट इंटरफ़ेस जैसे कि केबल लाइन।

कुछ ब्रॉडबैंड routers में एक हार्डवेयर इंटिग्रेडेट मॉडेम शामिल होता है।

कई ब्रॉडबैंड इंटरनेट प्रोवाइडर्स अपने कस्‍टमर्स को बिना शुल्क या मासिक शुल्क पर उपयुक्त मॉडेम को सप्‍लाई करते हैं। हालांकि, स्‍टैंडर्ड मॉडेम दुकानों के माध्यम से खरीदा जा सकता है।

मॉडेम पर अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या मुझे अपना खुद का मॉडेम और राउटर खरीदना चाहिए?

मोडेम किराए पर लेने वाले अधिकांश आईएसपी भी आपको एक राउटर किराए पर देना चाहते हैं। (या, अधिक सामान्यतः, एक कॉम्बो डिवाइस।) जबकि एक मॉडेम किराए पर लेने के पक्ष और विपक्ष हैं, आप लगभग हमेशा अपना राउटर खरीदना बेहतर समझते हैं, खासकर यदि आप एक उच्च-स्तरीय मॉडेम का उपयोग कर रहे हैं

क्या मुझे मॉडेम और राउटर दोनों की आवश्यकता है?

राउटर और मोडेम परंपरागत रूप से दो अलग-अलग डिवाइस रहे हैं जो आपके होम नेटवर्क को बनाने के लिए एक साथ काम करते हैं। हालाँकि, आज की तकनीक के साथ, आपको एक अलग मॉडेम और अलग राउटर की आवश्यकता नहीं है, क्योंकि नए संयोजन मॉडेम और राउटर इकाइयाँ दो उपकरणों के कार्यों को एक शक्तिशाली गैजेट में मिला देती हैं।

क्या आप बिना मॉडेम के इंटरनेट प्राप्त कर सकते हैं?

हाँ, आप बिना मॉडेम के इंटरनेट से जुड़ सकते हैं यदि आपका इंटरनेट सेवा प्रदाता आपको ईथरनेट या वाईफाई के माध्यम से कनेक्टिविटी देता है। कुछ स्थानीय प्रदाता हैं जो सिर्फ एक ईथरनेट केबल छोड़ते हैं जिसे आप अपने सिस्टम से कनेक्ट कर सकते हैं या वे आपको अपने वायरलेस एक्सेस पॉइंट से कनेक्ट करने देते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.