Magnetic Disk Hindi में! मैग्नेटिक डिस्क क्या हैं?

Magnetic Disk Hindi.

Magnetic Disk Hindi

Magnetic Disk in Hindi:

मैग्नेटिक डिस्क एक स्टोरेज डिवाइस है जो डेटा write, rewrite और access करने के लिए मैग्नेटिज़ेशन प्रोसेस का उपयोग करता है। यह एक मैग्नेटिक कोटिंग के साथ कवर किया गया है और tracks, spots और sectors के रूप में डेटा स्टोर करता है।

हार्ड डिस्क, ज़िप डिस्क और फ्लॉपी डिस्क मैग्नेटिक डिस्क के सामान्य उदाहरण हैं।

एक मैग्नेटिक डिस्क में रोटेटिंग मैग्नेटिक सरफेस और एक मैकेनिकल आर्म होता है जो उस पर मूव होता है। मैकेनिकल आर्म डिस्क को read और write के लिए प्रयोग किया जाता है।

एक मैग्नेटिक डिस्क पर डेटा एक मैग्नेटिज़ेशन प्रोसेस का उपयोग कर Read और Write किया जाता है। डेटा को ट्रैक और सेक्टर के रूप में डिस्क पर आर्गनाइज़ किया जाता है, जहां ट्रैक डिस्क के गोलाकार डिवीजन होते हैं। ट्रैक को उन एरिया में विभाजित किया जाता है जिनमें डेटा के ब्लॉक होते हैं। मैग्नेटिक डिस्क पर सभी read और write के ऑपरेशन सेक्‍टर पर किए जाते हैं।

Magnetic Disk पारंपरिक रूप से कंप्यूटरों में प्राइमरी स्‍टोरेज के रूप में उपयोग किया गया है। Solid-State Drives (SSD) के आगमन के बाद, मैग्नेटिक डिस्क को अब एकमात्र विकल्प नहीं माना जाता, लेकिन इन्हें अभी भी आमतौर पर उपयोग किया जाता है।

मैग्नेटिक डिस्क 180-1,200 mm diameter और 2.5-5.0 mm thick होती हैं; Ni-Co-P या Co-W मिश्र धातु मैग्‍नेटिक कोटिंग के लिए उपयोग किया जाता है। डेटा को वर्किंग सरफेस पर concentric tracks में डिस्क पर मैग्नेटिकली रूप से रिकॉर्ड किया जाता है और एक एड्रेस द्वारा कोडित किया जाता है, जो डिस्क की संख्या और ट्रैक की संख्या को इंडिकेट्स करता है।

प्रत्येक ट्रैक पर रिकॉर्डिंग या रीडआउट के लिए एक फिक्‍स मैग्‍नेटिक हेड होता हैं या एक ही मूवेबल हेड होता हैं, जो कई tracks और कभी-कभी कई disks पर कॉमन होता हैं।

सिलेक्‍शन मैकेनिज़म का पिकअप लीवर, मैग्‍नेटिक हेड के साथ एक साथ माउंट होता हैं, एक इलेक्ट्रिक या नुमैटिक ऑपरेटिंग मैकेनिज़म द्वारा मूव किया जाता है जो हेड को किसी डिस्क पर किसी भी ट्रैक पर ले जाता है। सबसे आम डिजाइन में “फ़्लोटिंग” हेड होता हैं।

एक फ्लैट रोटेटिंग डिस्क मैग्‍नेटिक मटेरियल के साथ एक या दोनों तरफ कवर किया जाता हैं। इसके दो मुख्य प्रकार हार्ड डिस्क और फ्लॉपी डिस्क हैं।

“ट्रैक” नाम के concentric rings में डिस्क के दोनों या एक सरफेस पर डेटा स्‍टोर किया जाता है। प्रत्येक ट्रैक को “सेक्टर” के पूर्णांक संख्या में बांटा गया है। जहां एक ही axle पर मल्‍टीपल डिस्क लगाए जाते हैं, उनकी सभी सरफेसेस पर एक ही radius पर tracks के सेट को “सिलेंडर” के रूप में जाना जाता है।

डेटा को डिस्क ड्राइव द्वारा read और write किया जाता है जो डिस्क को रोटेट करता है और वांछित ट्रैक पर read/write हेड को पोजिशन देता है। बाद में रेडियल मूवमेंट को seeking के रूप में जाना जाता है। डेटा को स्टोर करने वाली प्रत्येक लेयर के लिए आम तौर पर एक हेड होता है। Rotational latency को कम करने के लिए, हालांकि, महंगा है, अलग-अलग कोणों पर कई हेड होते हैं।

हेड दो विरोधी ओरिएंटशंस में से एक में डिस्क के छोटे एरियाज या zones को मैग्‍नेटाइज़ करके बाइनरी डेटा लिखता है।

सिद्धांतीक रूप में, bits को pulse (one) या no pulse (zero) के टाइम सिक्‍वेंस के रूप में वापस पढ़ा जा सकता है। हालांकि, zeros का एक रन सिग्नल की लंबी अनुपस्थिति प्रदान करेगा, जिससे मोटर गति की विविधता के कारण सिग्नल को अलग-अलग बिट्स में सटीक रूप से विभाजित करना मुश्किल हो जाता है। Run Length Limited इस क्‍लॉक रिकवरी की समस्या का एक आम समाधान है।

 

Magnetic Disk Hindi.

Magnetic Disk Hindi, Magnetic Disk in Hindi. What is Magnetic Disk in Hindi.

सारांश
आर्टिकल का नाम
Magnetic Disk in Hindi
लेखक की रेटिंग
51star1star1star1star1star