इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी क्या है? यह कैसे काम करती है?

2824

Information Technology In Hindi | इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी क्या है?

इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी क्या है? वैसे यह सरल है। Information technology (IT) कंप्यूटर और किसी भी प्रकार के टेलेकम्युनिकशन्स के अध्ययन और एप्‍लीकेशन को शामिल करती है जो इनफॉर्मेशन को संग्रहीत, पुनर्प्राप्त और भेजती है।

IT में हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर का एक संयोजन शामिल है जिसका उपयोग उन आवश्यक कार्यों को करने के लिए किया जाता है जिनकी लोगों को आवश्यकता होती है और हर रोज उपयोग करते हैं।

अधिकांश IT प्रोफेशनल एक ऑर्गनाइज़ेशन के साथ काम करेंगे और अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए तकनीकी रूप से समझेंगे कि उन्हें क्या जरूरत है, उन्हें यह दिखाते हुए कि मौजूदा तकनीक क्या है जो उनके आवश्यक कार्यों को करने के लिए उपलब्ध है, फिर अपने वर्तमान सेटअप में टेक्‍नोलॉजी को लागू करना, या एक संपूर्ण नया सेट अप निर्माण करना।

- Advertisement -

“Information Technology” और “IT” शब्द व्यापक रूप से व्यापार और कंप्यूटिंग के क्षेत्र में उपयोग किए जाते हैं। विभिन्न प्रकार के कंप्यूटर से संबंधित काम का जिक्र करते समय लोग सामान्य रूप से इन शब्दों का उपयोग करते हैं, जो कभी-कभी उनके अर्थ को भ्रमित करते हैं।

विषय-सूची

What Is Information Technology in Hindi?

इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी क्या है

Information technology (IT) का मतलब, कंप्यूटर, स्‍टोरेज, नेटवर्किंग और अन्य फिजिकल डिवाइसेस, इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर और इलेक्ट्रॉनिक डेटा के फॉर्म के लिए क्रिएट करने की प्रोसेस, स्‍टोर, सेक्‍युर और एक्‍सचेंज का उपयोग हैं।

सूचना प्रौद्योगिकी (संक्षिप्त में आईटी) का क्षेत्र अक्सर कंप्यूटर सिस्टम, हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर और डेटा के प्रसेसिंग और वितरण से संबंधित नेटवर्क से जुड़ा होता है। इनमें नेटवर्किंग हार्डवेयर, जैसे सर्वर और राउटर, और ऐसे एप्लिकेशन शामिल हैं जो विभिन्न नेटवर्क और बड़े पैमाने पर इंटरनेट पर कम्युनिकेशन की अनुमति देते हैं।

सरल शब्दों में इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी क्या है?

वर्तमान परिभाषाएँ डेटा के प्रोसेसिंग और वितरण से संबंधित कंप्यूटर सिस्टम, हार्डवेयर, सॉफ़्टवेयर और नेटवर्क के दायरे को परिशोधित करती हैं।

Information Technology Ki Puri Jankari

हार्वर्ड बिजनेस रिव्यू में 1958 के लेख में इनफॉर्मेशन टेक्‍नोलॉजी को संदर्भित किया गया है जिसमें तीन मूल भाग शामिल हैं: कम्प्यूटेशनल डेटा प्रोसेसिंग, डिसिजन सपोर्ट, और बिज़नेस सॉफ्टवेयर।

इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी कंप्यूटिंग तकनीक से संबंधित कुछ भी संदर्भित करती है, जैसे नेटवर्किंग, हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर, इंटरनेट, या इन तकनीकों के साथ काम करने वाले लोग।

कई कंपनियों के पास अब अपने कारोबार के कंप्यूटर, नेटवर्क और अन्य तकनीकी क्षेत्रों के मैनेजमेंट के लिए आईटी विभाग हैं। आईटी नौकरियों में कंप्यूटर प्रोग्रामिंग, नेटवर्क प्रशासन, कंप्यूटर इंजीनियरिंग, वेब डेवलपमेंट, तकनीकी सहायता, और कई अन्य संबंधित व्यवसाय शामिल हैं।

चूंकि हम “इनफॉर्मेशन कि दुनिया” में रहते हैं, इसलिए इनफॉर्मेशन टेक्‍नोलॉजी हमारे दैनिक जीवन का हिस्सा बन गई है। इसका मतलब है कि “IT” शब्द पहले से ही अत्यधिक उपयोग किया गया है।

आने वाले दशकों में, कई कॉर्पोरेशंस ने अपने व्यापार से संबंधित कंप्यूटर टेक्नोलॉजीज को मैनेज करने के लिए तथाकथित “आईटी विभाग” बनाया। जो कुछ भी इन विभागों ने काम किया वह इनफॉर्मेशन टेक्‍नोलॉजी की वास्तविक परिभाषा बन गया, जो कि समय के साथ विकसित हुआ है। आज, आईटी विभागों में इन क्षेत्रों में जिम्मेदारियां हैं –

  • कंप्यूटर तकनीक का सपोर्ट
  • बिज़नेस कंप्यूटर नेटवर्क और डेटाबेस एडमिनिस्ट्रेशन
  • बिज़नेस सॉफ्टवेयर डिप्लॉयमेंट
  • इनफॉर्मेशन सेक्‍युरिटी

खासकर 1990 के डॉट कॉम बूम के दौरान, इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी भी आईटी विभागों के स्वामित्व वाले लोगों के बाहर कंप्यूटिंग के पहलुओं से जुड़ी हुई थी। आईटी की इस व्यापक परिभाषा में ऐसे क्षेत्र शामिल हैं:

  • सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट
  • कंप्यूटर सिस्टम आर्किटेक्चर
  • प्रोजेक्‍ट मैनेजमेंट

इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी के एप्लिकेशन और लक्ष्य क्या हैं?

Application and Goal of Information Technology in Hindi

इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजीज जीवन को महत्वपूर्ण रूप से बदल रही हैं। नई टेक्नोलॉजीज, उपकरण, मशीनें और सेवाएं जो पहले से कहीं अधिक जानकारी के साथ व्यवहार करती हैं, सभी के आसपास हैं।

इनफॉर्मेशन नेटवर्क और सेवाएं उपलब्ध हैं जो सभी को जोड़ सकती हैं और उत्पादकता, सीखने और मनोरंजन के नए अवसर प्रदान कर सकती हैं। टेक्नोलॉजीज में कंप्यूटर, इंटरनेट, टेलीफोन, पेजर, सेलुलर फोन, टेलीविजन सेट और सार्वजनिक इलेक्ट्रॉनिक कियोस्क के माध्यम से जानकारी तक पहुंच शामिल है।

इन इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजीज में डेटाबेस को कम्यूनिकेट करने और एक्‍सेस करने के इलेक्ट्रॉनिक तरीके शामिल हैं जो हमें बैंक, खरीदारी, बिलों का भुगतान करने, पढ़ने के लिए किताबें प्राप्त करने, और घर से यात्रा योजना और व्यवस्था करने की अनुमति देते हैं।

वे टेलीकम्युनिकेशन को संभव बनाते हैं और घर से व्यवसाय चलाने के लिए अधिक विकल्प प्रदान करते हैं।

जब आवश्यक इनफॉर्मेशन संसाधनों और टेलीकम्युनिकेशन सेवाओं तक पहुंच प्रदान की जाती है, तो कई कार्य आसानी से किए जा सकते हैं। Pen Drive या वर्ल्ड वाइड वेब (WWW) पर मल्टीमीडिया शैक्षिक मटेरियल का एक्‍सेस छात्रों को ऐसे अनुभव प्रदान करती है जो पहले कभी संभव नहीं थे और कहीं भी कंप्यूटर का उपयोग करके उपलब्ध हैं।

कोर्सेस और डिग्री प्रोग्राम भी इलेक्ट्रॉनिक रूप से पेश किए जाते हैं और लोगों को अपने घरों या समुदायों को छोड़ने के बिना भाग लेना संभव बनाते हैं।

इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजीज मनोरंजन का भी एक बड़ा स्रोत भी हैं जैसे “वेब पर सर्फिंग” शौक, जगहों और लोगों के बारे में अधिक जानने और शेयर करने और नवीनतम मल्टीमीडिया गेम खेलने के लिए।

महत्वपूर्ण रूप से, इन टेक्नोलॉजीज में सभी लोगों की सेवा करने की क्षमता है। इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजीज लचीली हैं और उनके उपयोग को समझने वाले किसी के लिए भी सुलभ होने की क्षमता है।

दृष्टि, श्रवण, शारीरिक और संज्ञानात्मक सीमाओं वाले लोगों को इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी का उपयोग करने में सक्षम होना चाहिए। यह अक्सर अनुकूलनीय हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर और सेवाओं के साथ हासिल किया जाता है जिन्हें व्यक्तिगत और सार्वजनिक डिवाइसेस जैसे टेलीफोन, कंप्यूटर और कियोस्क में जोड़ा जा सकता है। इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी के डिजाइनरों को पहुंच को सुविधाजनक बनाने वाली सुविधाओं को जोड़कर विकलांग लोगों की जरूरतों और क्षमताओं को भी संबोधित करना चाहिए। यह सार्वभौमिक डिजाइन के अधिक व्यापक उपयोग के माध्यम से प्राप्त किया जा सकता है जिसमें विकलांग लोगों सहित अधिक से अधिक लोग इन विशेष रूप से डिज़ाइन किए गए उत्पादों का उपयोग करते हैं।

वर्तमान में, यूनिवर्सल डिज़ाइन को कई वेब पेजों के डिज़ाइन में और इलेक्ट्रॉनिक कियोस्क जैसे सार्वजनिक रूप से एक्सेस किए गए उपकरणों के डिज़ाइन में शामिल किया जा रहा है। इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजीज भी प्रभावित कर रही हैं कि विकलांग लोगों को सेवाएं कैसे प्रदान की जाती हैं।

USB ड्राइव और इंटरनेट पर प्रोग्राम, डेटाबेस और इलेक्ट्रॉनिक टेक्स्ट उपलब्ध तकनीक के बारे में और अधिक जागरूक होने के लिए मूल्यवान संसाधन हैं और इसका उपयोग कैसे किया जा रहा है। उपभोक्ता और सेवा प्रदाता दुनिया भर के अन्य लोगों के साथ अपने सहायक प्रौद्योगिकी प्रश्नों और समस्याओं पर विचार-मंथन करने के लिए इंटरनेट का उपयोग कर सकते हैं और निर्माताओं से वर्तमान जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

USB in Hindi: USB क्या है और USB का क्या अर्थ है?

इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी क्यों महत्वपूर्ण है?

इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी वाणिज्य और व्यापार क्षेत्र के निर्माण और विकास में मदद करती है और अधिकतम संभव उत्पादन उत्पन्न करती है। विभिन्न क्षेत्रों द्वारा व्यवसाय उत्पन्न करने में लगने वाला समय अब इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी में प्रगति के साथ कम से कम हो गया है। यह इलेक्ट्रॉनिक सुरक्षा, स्‍टोरेज और कुशल कम्युनिकेशन प्रदान करता है।

कार्य के संचालन के लिए इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी को कंप्यूटर अनुप्रयोगों की आवश्यकता होती है। कंप्यूटर आईटी को दुनिया के विभिन्न संगठनों से जोड़ते हैं। यह कर्मचारियों को विभिन्न कंपनियों के अपने कई ग्राहकों के रिकॉर्ड बनाए रखने में मदद करता है। यह रोगियों को चिकित्सकों से ऑनलाइन संपर्क करने और उनकी स्वास्थ्य समस्याओं के बारे में सलाह लेने में मदद करता है। साथ ही, सिस्टम द्वारा रोगियों के रिकॉर्ड को ठीक से प्रबंधित किया जा सकता है।

इनफॉर्मेशन एकत्र करने के लिए, प्रोग्रामिंग/कोडिंग, डेटा रूपांतरण, डेटा कम्युनिकेशन पुनर्प्राप्ति और स्‍टोरेज, सिस्टम एनालिसिस का उपयोग किया जाता है। इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी के आगमन के साथ शिक्षा क्षेत्र में भी नाटकीय रूप से बदलाव आया है। व्यवसाय को सही तरीके से चलाने के लिए और अपेक्षित परिणाम उत्पन्न करने के लिए, कंप्यूटर, सॉफ्टवेयर और इंटरनेट बहुत मदद करता है।

कंपनियों के पास अब Cloud Storage हैं जो स्टोरेज सिस्टम का एक नया रूप है जो यूजर्स को अपने डयॉक्‍यूमेंट कही से भी स्‍टोर करने या एक्‍सेस करने की अनुमति देता है। आईटी विभाग प्रभावी ढंग से संवाद करने के लिए एक मजबूत कम्युनिकेशन प्रणाली प्रदान कर रहा है।

Cloud Computing in Hindi: क्लाउड कम्प्यूटिंग कैसे काम करता है?

कंप्यूटर और इंटरनेट के उपयोग से शिक्षा की गुणवत्ता में वृद्धि होती है। शिक्षण और सीखने की शैक्षणिक पद्धति में सुधार किया गया है। छात्र आधुनिक तकनीकों के साथ सीखने के लिए अधिक खुले हैं और ऑनलाइन शिक्षण पर अधिक ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। उनके सीखने के तरीके शिक्षकों के साथ लाइव इंटरैक्‍शन और विशेष बच्चों के लिए विशेष कक्षाओं पर निर्भर हैं।

छात्र सीखने की उसी पुरानी पारंपरिक पद्धति का उपयोग करने के लिए बाध्य नहीं हैं। और यह सब शिक्षा के क्षेत्र में इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी की शुरूआत से संभव हुआ और प्रौद्योगिकी के महत्व को देखा जा सकता है।

इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी की आभा लगभग सभी क्षेत्रों में देखी जा सकती है, जिसमें कार्य, शिक्षा, अवकाश और स्वास्थ्य शामिल हैं। मंत्रालयों से लेकर कक्षाओं तक, हर क्षेत्र सर्वोत्तम परिणामों के लिए आईटी का उपयोग करता है।

चिकित्सक इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी का उपयोग रिकॉर्ड एंट्री, रोगी के इतिहास और उनकी निर्धारित खुराक को तदनुसार बदलने के लिए जांचने के लिए भी करते हैं।

इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी का उपयोग कृषि में और उत्पादकता बढ़ाने के लिए भी देखा जा सकता है। मानसून और धुंध की भविष्यवाणी करने के लिए उपग्रह कृषि से जुड़े हुए हैं। ड्रोन तकनीक के माध्यम से सामूहिक डेटा संग्रह, भूमि सर्वेक्षण, कीटनाशकों का उपयोग, बीज रोपण, जल सिंचाई और उर्वरकों का उपयोग संभव है।

इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी के क्या उपयोग हैं?

Uses Of Information Technology in Hindi

हम अपने समाज में कई क्षेत्रों में इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी के उपयोग और भूमिका को देख सकते हैं:

1. व्यापार

कंप्यूटर के आने के बाद से व्यापार जगत का पूरा चेहरा ही बदल गया है। व्यवसाय के विभिन्न विभागों को तेजी से चलाने के लिए इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी का उपयोग महत्वपूर्ण है और यह कंप्यूटर और सॉफ्टवेयर से संभव है। इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी का उपयोग वित्त, मानव संसाधन, विनिर्माण और सुरक्षा जैसे विभागों में देखा जा सकता है। आईटी की भूमिका को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है।

2. शिक्षा

प्रौद्योगिकी शिक्षकों को नई तकनीकों के साथ अपडेट होने में सक्षम बनाती है और अपने छात्रों को शिक्षा में टैबलेट, मोबाइल फोन, कंप्यूटर आदि जैसी नवीनतम तकनीकों के साथ अपडेट करने में मदद करती है। इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी न केवल छात्रों को नई चीजें सीखने में मदद करती है बल्कि कॉलेज छोड़ने वाले छात्रों की भी मदद करती है।

3. वित्त

इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी व्यापारियों और आम लोगों के लिए ऑनलाइन खरीदारी करने के दरवाजे खोलती है। बैंक सभी लेनदेन और खातों का रिकॉर्ड कंप्यूटर के माध्यम से रखते हैं। पहले के विपरीत, अब लेनदेन और अन्य सौदे तेज और आसान हो गए हैं।

4. स्वास्थ्य देखभाल

इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी के साथ, चिकित्सा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में जबरदस्त सुधार देखा जा रहा है। डॉक्टरों के लिए जानकारी भेजना और प्राप्त करना, मरीजों की जांच करना और अन्य विशेषज्ञों के साथ चर्चा करना बहुत सुविधाजनक हो गया है। साथ ही, यह कागजी कार्रवाई में लगने वाले समय को कम करता है।

5. सुरक्षा

ऑनलाइन ट्रांजेक्‍शन और सभी ऑनलाइन ट्रांजेक्‍शन का रिकॉर्ड रखना अब पहले के समय की तुलना में अधिक सुरक्षित है। केवल उचित प्रबंधन और सिस्टम के लिए जिम्मेदार व्यक्ति ही डेटा को ऑनलाइन एक्सेस कर सकता है। यह किसी भी यादृच्छिक व्यक्ति को विवरणों की जांच करने से रोकता है। यह सब सिस्टम पासवर्ड प्रूफ रखकर संभव किया गया है। केवल अनुमेय प्राधिकारी ही आपकी जानकारी को एक्‍सेस कर सकते हैं।

6. कम्युनिकेशन

इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी में सुधार के साथ, वैश्वीकरण में वृद्धि हुई है। दुनिया को करीब लाया गया है, और दुनिया की अर्थव्यवस्था तेजी से एक अन्योन्याश्रित प्रणाली बन रही है। दुनिया भर से इनफॉर्मेशनओं को जल्दी और आसानी से शेयर किया जा सकता है, और भाषाई और भौगोलिक सीमाओं की बाधाओं को तोड़ दिया जा सकता है क्योंकि लोग एक दूसरे के साथ विचारों और इनफॉर्मेशनओं को शेयर करते हैं।

7. रोज़गार

इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी के साथ, नई नौकरियों की शुरुआत की गई है। यह प्रोग्रामर, हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर डेवलपर्स, सिस्टम एनालाइजर, वेब डिजाइनर और कई अन्य लोगों के लिए नई नौकरियां पैदा करता है। इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी ने आईटी पेशेवरों के लिए पूरी तरह से नए क्षेत्र और हजारों नौकरियां खोल दी हैं।

इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी के क्या फायदे हैं?

Advantage of Information Technology in Hindi

इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी ने हमारे जीवन को काफी हद तक बदल दिया है। आप हर चीज से केवल एक क्लिक दूर हैं। तो यहाँ हमारे जीवन में इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी के लाभों की एक सूची है और साथ ही हर क्षेत्र में इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी की आवश्यकता है।

  • आईटी में प्रगति के साथ, कंपनी के सिस्टम को कहीं से भी एक्सेस किया जा सकता है। जरूरी नहीं कि अथॉरिटी अपने ऑफिस में ही हो। वे घर से भी अपना काम को कर सकते हैं। सिस्टम के एक्‍सेस ने निश्चित रूप से कार्यालय में व्यक्ति की किसी भी भौतिक उपस्थिति के बिना उनकी उत्पादकता में वृद्धि की है।
  • विभिन्न क्षेत्रों में आईटी पेशेवरों की भारी मांग है। मांग आईटी पेशेवरों के लिए क्षेत्र का पता लगाने और अपनी प्रतिभा दिखाने का एक बड़ा अवसर खोलती है। आईटी क्षेत्र लोगों को कंप्यूटर प्रोग्रामिंग, सिस्टम विश्लेषण, परीक्षण, सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर विकास, वेब एप्लिकेशन डिजाइन आदि के लिए काम करने की पेशकश करता है।
  • इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी की प्रगति के साथ, शिक्षा क्षेत्र ने अपना दृष्टिकोण बदल दिया है और शिक्षण और सीखने का एक आधुनिक तरीका अपनाया है। ब्लैकबोर्ड पर पढ़ाना अब पुरानी बात हो गई है। शिक्षक और संस्थान अपने छात्रों को पढ़ाने के लिए आधुनिक गैजेट्स का उपयोग कर रहे हैं। इंटरनेट कनेक्शन वाला कंप्यूटर छात्रों को नई चीजें सीखने और विषयों को आसानी से और गहराई से समझने में मदद करता है।
  • इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी रोगियों की भी मदद करती है। वे अब चिकित्सकों से जुड़ सकते हैं और ऑनलाइन सलाह ले सकते हैं। साथ ही, मार्गदर्शन प्रदान करने के लिए कई वर्चुअल हेल्थकेयर एप्लिकेशन उपलब्ध हैं। इलेक्ट्रॉनिक स्वास्थ्य रिकॉर्ड और टेली-मेडिसिन रोगियों को कुशल और गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य प्रदान कर रहे हैं।
  • प्रौद्योगिकी की दुनिया में इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी के साथ व्यावसायिक गतिविधियों में समय और दूरी की कमी को दूर किया गया है।
  • इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी के साथ अब खरीदना और बेचना बहुत आसान हो गया है। ग्राहक अपने स्थानीय और अंतरराष्ट्रीय विक्रेताओं से भी ऑनलाइन खरीदारी कर सकते हैं।
  • वायरलेस कम्युनिकेशन माध्यमों से समाचार प्रसारण इतना आसान हो गया है। दुनिया के किसी भी कोने से खबर जानने के लिए बस चंद सेकेंड्स चाहिए।
  • मोबाइल फोन, टैबलेट, लैपटॉप, आईपोड और अन्य गैजेट्स पर इंटरनेट का उपयोग हमें मनोरंजन के माध्यमों तक असीमित पहुंच प्रदान कर रहा है। लोग ओटीटी प्लेटफॉर्म पर फिल्में या नए गाने देख सकते हैं।
  • इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी के साथ, लोगों के बीच कम्युनिकेशन पहले से कहीं अधिक सस्ता, आसान और तेज हो गया है। टेक्स्टिंग, वीडियो कॉलिंग, ई-मेल भेजना आजकल इतना आसान हो गया है। इन सेवाओं को प्रदान करने के लिए ऑनलाइन बहुत सारे ऐप उपलब्ध हैं।
  • इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी के साथ, हमने वैश्वीकरण के अर्थ को देखा और समझा है। आज, दुनिया एक मंच पर है और राष्ट्रों के बीच कोई भौतिक बाधा नहीं है। लोग अब ‘वैश्विक’ नागरिक हैं।

इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी के सामने कौन से मुद्दे और चुनौतियां हैं?

Issues and Challenges in Information Technology in Hindi

चूंकि कंप्यूटिंग सिस्टम और क्षमताओं का दुनिया भर में विस्तार जारी हैं, इसलिए कई आईटी प्रोफेशनल्‍स के लिए डेटा ओवरलोड तेजी से महत्वपूर्ण मुद्दा बन गया है। उपयोगी बिऩनेस इन्टेलिजन्स को प्रोडयुस करने के लिए बड़ी मात्रा में डेटा को कुशलता से प्रोसेस करने के लिए, बड़े पैमाने पर प्रोसेसिंग पॉवर, परिष्कृत सॉफ्टवेयर और मानव विश्लेषणात्मक कौशल की आवश्यकता होती है।

अधिकांश व्यवसायों के लिए आईटी सिस्टम की जटिलता को मैनेज करने के लिए टीमवर्क और कम्युनिकेशन स्किल भी आवश्यक हो गए हैं। कई आईटी प्रोफेशनल उन बिज़नेस यूजर्स को सर्विस प्रोवाइड करने के लिए ज़िम्मेदार हैं जिन्हें कंप्यूटर नेटवर्किंग या अन्य इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी में प्रशिक्षित नहीं किया जाता है, लेकिन इसके बजाय अपने काम को कुशलतापूर्वक करने के लिए आईटी का उपयोग करने में रुचि रखते हैं।

सिस्टम और नेटवर्क सुरक्षा मुद्दे कई बिज़नेस अधिकारियों के लिए एक प्राथमिक चिंता है, क्योंकि कोई भी सुरक्षा घटना संभावित रूप से किसी कंपनी की प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचा सकती है और बड़ी मात्रा में पैसा खर्च करा सकती है।

कंप्यूटर नेटवर्किंग में इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी की भूमिका क्या हैं?

Computer Networking and Information Technology

चूंकि नेटवर्क कई कंपनियों के ऑपरेशन में सेंट्रल भूमिका निभाते हैं, इसलिए बिज़नेस कंप्यूटर नेटवर्किंग विषय इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी के साथ निकटता से जुड़े होते हैं। आईटी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हुए नेटवर्किंग रुझानों में शामिल हैं:

  1. Network Capacity And Performance: ऑनलाइन वीडियो की लोकप्रियता ने इंटरनेट बैंड और आईटी नेटवर्क पर नेटवर्क बैंडविड्थ की मांग में काफी वृद्धि की है। नए प्रकार के सॉफ़्टवेयर ऐप्‍लीकेशन जो रिच ग्राफिक्स को सपोर्ट करते हैं और कंप्यूटर के साथ गहन इंटरैक्‍शन से भी बड़ी मात्रा में डेटा उत्पन्न करते हैं और इसलिए नेटवर्क ट्रैफिक उत्पन्न करते हैं। इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी टीमों को न केवल अपनी कंपनी की वर्तमान जरूरतों के लिए बल्कि भविष्य में विकास के लिए उचित रूप से योजना बनानी चाहिए।
  2. Mobile and Wireless Usages: आईटी नेटवर्क एडमिनिस्ट्रेटर्स को अब पारंपरिक पीसी और वर्कस्टेशन के अलावा स्मार्टफोन और टैबलेट की विस्तृत श्रृंखला को सपोर्ट करना होगा। आईटी एनवायरनमेंट में रोमिंग क्षमता के साथ हाई परफॉर्मेंस वायरलेस हॉटस्पॉट की आवश्यकता होती है। बड़े ऑफिस बिल्डिंग में, डेवलपमेंट के लिए सावधानीपूर्वक योजना बनाई जाती है और डेड स्‍पॉट और सिग्नल हस्तक्षेप को खत्म करने के लिए परीक्षण किया जाता है।
  3. Cloud services: जबकि आईटी शॉप ने अतीत में ईमेल और बिज़नेस डेटाबेस होस्ट करने के लिए अपने स्वयं के सर्वर फार्म को बनाए रखा, कुछ क्लाउड कंप्यूटिंग एनवायरनमेंट में माइग्रेट हो गए हैं जहां थर्ड-पार्टी के होस्टिंग प्रोवाडर्स डेटा को बनाए रखते हैं। कंप्यूटिंग मॉडल में यह परिवर्तन नाटकीय रूप से किसी कंपनी नेटवर्क पर ट्रैफिक के पैटर्न को बदलता है, लेकिन ऐप्‍लीकेशन की इस नई नस्ल पर कर्मचारियों को प्रशिक्षण देने में भी महत्वपूर्ण प्रयास की आवश्यकता होती है।

इनफॉर्मेशन टेक्‍नोलॉजी कैसे काम करती हैं?

How Information Technology Works in Hindi:

इनफॉर्मेशन टेक्‍नोलॉजी, या आईटी, किसी भी तकनीक का वर्णन करती है जो किसी ऑर्गनाइज़ेशन के भीतर स्‍टोरेज, प्रोसेसिंग और इनफॉर्मेशन प्रवाह को पॉवर या सक्षम करती है। कंप्यूटर, सॉफ्टवेयर, नेटवर्क, इंट्रानेट, वेब साइट्स, सर्वर, डेटाबेस और टेलीकम्युनिकशन्स से जुड़ा कोई भी आईटी के नीचे आता है।

अधिकांश आधुनिक बिज़नेस, कर्मचारी के ई-मेल से लेकर डाटाबेस मैनेजमेंट से ई-कॉमर्स वेब साइटों तक इनफॉर्मेशन सिस्‍टम पर भारी निर्भर करते हैं। अस्पतालों में बनाए रखने के लिए रोगियों का बड़ा डेटाबेस होता हैं। विश्वविद्यालयों के प्रशासन के लिए चारों ओर फैले हुए नेटवर्क होते हैं। यहां तक ​​कि एक छोटे, होम-बेस कुकी व्यवसाय को ऑर्डर-ट्रैकिंग सिस्टम की आवश्यकता होती है।

आईटी प्रोफेशनल्‍स की मांग बहुत अधिक है। 2004 से 2014 तक, अनुमान लगाया गया है कि आईटी क्षेत्र में 1.3 मिलियन नौकरियाँ ओपन होंगी। आईटी जॉब मार्केट में यह 31 प्रतिशत की वृद्धि है। और कंप्यूटर विज्ञान, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग और इनफॉर्मेशन विज्ञान प्रमुखों के लिए औसत प्रारंभिक वेतन 50,000 रुपए है।

आईटी प्रोफेशनल कौन हैं, और वे क्या करते हैं?

कुछ आईटी लोग यह सुनिश्चित करने के लिए दृश्यों के पीछे काम करते हैं कि हमारे द्वारा दी जाने वाली सभी इनफॉर्मेशन सिस्‍टम आसानी से चल सके। ये डेटाबेस, नेटवर्क और सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर्स हैं।

अन्य ऑर्गनाइज़ेशन की जरूरतों के अनुसार इन इनफॉर्मेशन सिस्‍टम को डिजाइन करने में मदद करते हैं। ये डेटाबेस, नेटवर्क और सिस्टम ऐनलिस्ट हैं।

अन्य इन सिस्‍टम को अधिक मजबूत, भरोसेमंद और सुरक्षित बनाने के लिए हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर विकसित करने में मदद करते हैं। ये हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं।

फिर भी अन्य यह सुनिश्चित करते हैं कि यह इनफॉर्मेशन यूजर्स को स्पष्ट, उपयोगी, गतिशील तरीके से प्रस्तुत की जाए। ये वेब डेवलपर्स और डिजाइनर हैं।

ट्रैन आईटी प्रोफेशनल्‍स की बजाए हम अंडरग्रेजुएट, ग्रेजुएट और प्रोफेशनल सर्टिफिकेट प्रोग्राम को दखकर हम आईटी के व्यापक विषय से निपटेंगे।

फिर हम सबसे लोकप्रिय आईटी जॉब टाइटिल को विस्तार से देखेंगे, यह बताते हुए कि वह व्यक्ति क्या करता है और वे इसे कैसे करते हैं। हम आईटी करियर के लिए वेतन अपेक्षाओं और समग्र नौकरी के दृष्टिकोण पर नजर डालेंगे।

1. अंडरग्रेजुएट आईटी प्रोग्राम

अंडरग्रेजुएट आईटी डिग्री प्रोग्राम और प्रमुखों को तीन सामान्य श्रेणियों में विभाजित किया जा सकता है: इनफॉर्मेशन साइंस, कंप्यूटर साइंस और इंजीनियरिंग। हालांकि, यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि इनमें से प्रत्येक प्रमुखता से एक-दूसरे के साथ महत्वपूर्ण रूप से ओवरलैप होता है, कुछ कोर्स को एक स्कूल में कंप्यूटर विज्ञान और दूसरे में इंजीनियरिंग कहा जाता है।

इनफॉर्मेशन साइंस, वैकल्पिक रूप से इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी कहा जाता है, सबसे व्यापक और सबसे अधिक आईटी प्रमुखों में से एक है। इनफॉर्मेशन साइंस प्रमुख शुरुआत से शुरू होते हैं, सामान्य प्रोग्रामिंग भाषाओं और गणितीय एल्गोरिदम सीखते हैं जो हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर बनाते हैं। फिर वे ऑपरेटिंग सिस्टम, डेटाबेस, नेटवर्क और सुरक्षा के बारे में जानेंगे। एक बार उन्हें यह समझने के बाद कि यह बेसिक सिस्‍टम कैसे काम करती हैं, वे सीखते हैं कि किसी ऑर्गनाइज़ेशन या बिज़नेस की आवश्यकताओं का विश्लेषण कैसे किया जाए ताकि सर्वोत्तम और सबसे सुरक्षित इनफॉर्मेशन सिस्‍टम तैयार की जा सके।

2. ग्रेजुएट आईटी प्रोग्राम

Graduate स्कूल एक अध्ययन के एक विशेष क्षेत्र पर अपनी शिक्षा का ध्यान केंद्रित करने और इसे गहराई से समझने और एक्‍सप्‍लोर करने का समय होता है। ग्रेजुएट लेवल के आईटी प्रोग्राम में रुचि रखने वाले छात्रों के लिए, उपलब्ध प्रोग्राम की विविधता आईटी प्रोफेशन के रूप में विविध है।

यदि आप इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी, कंप्यूटर साइंस या कंप्यूटर इंजीनियरिंग में मास्टर डिग्री या डॉक्टरेट करते हैं, तो आप देखेंगे कि इस कोर्स में से कई कोर्स टाइटल ग्रेजुएट लेवल पर पाए जाते हैं। इन क्षेत्रों में अंडरग्रेजुएट और ग्रेजुएट प्रोग्राम के बीच मुख्य अंतर कोर्सवर्क की गहराई और मूल शोध के अवसरों की गहराई है।

उदाहरण के लिए, इलेक्ट्रिकल और कंप्यूटर इंजीनियरिंग में विश्वविद्यालय के ग्रेजुएट प्रोग्राम के छात्र ग्रेजुएट प्रोग्राम के समान पाठ्यक्रम लेते हैं, लेकिन उच्च स्तर पर, जैसे:

  • एडवांस डिजिटल इंटिग्रेटेड सर्किट डिजाइन
  • एडवांस कंप्यूटर आर्किटेक्चर
  • सिस्टम लेवल डिजाइन की कला और विज्ञान
  • कम्‍युनिकेशन में विशेष विषय: नेटवर्क मैनेजमेंट और कंट्रोल

चूंकि ग्रेजुएट स्कूल में आपके अध्ययन को कम करने का एक समय होता है, इसलिए विशिष्ट नौकरी से संबंधित कौशल विकसित करने के लिए कई ग्रेजुएट आईटी प्रोग्राम भी तैयार किए गए हैं। उदाहरण के लिए, नेटवर्क और सिस्टम विश्लेषकों या प्रशासकों की जॉब पर नजर रखने वाले छात्र Information Networking (MSIN) या Information Security Technology and Management (MSISTM) में मास्टर डिग्री प्राप्त कर सकते हैं।

3. आईटी सर्टिफिकेशन प्रोग्राम

आईटी जॉब मार्केट गर्म है, लेकिन सर्वोत्तम पेमेंट करने वाली, सबसे पुरस्कृत नौकरियों के लिए झगड़ा अभी भी बेहद प्रतिस्पर्धी है। शायद अधिकतर करियर से अधिक, आईटी नौकरियों को कर्मचारियों को नवीनतम तकनीकों, प्रवृत्तियों और तकनीकों को सीखने की आवश्यकता होती है। कई एम्प्लॉयर्स के लिए, कंप्यूटर विज्ञान में मास्टर डिग्री के साथ ग्रेजुएट करने के लिए पर्याप्त नहीं है। आईटी प्रोफेशनल को नौकरी सीखने, प्रोफेशनल डेवलपमेंट कोर्स और सर्टिफिकेशन प्रोग्राम के माध्यम से लगातार अपने अकादमिक ज्ञान आधार पर निर्माण की उम्मीद है।

कई आईटी सर्टिफिकेशन प्रोग्राम एक विशिष्ट कंपनी या विक्रेता से बंधे होते हैं। उदाहरण के लिए, माइक्रोसॉफ्ट, कई प्रोफेशनल आईटी प्रमाणन प्रदान करता है, उनमें से कई विशिष्ट माइक्रोसॉफ्ट प्रॉडक्‍ट से बंधे हैं। आप Microsoft SQL Server 2009 का उपयोग कर डेटाबेस डेवलपर के रूप में एक Microsoft प्रमाणित आईटी प्रोफ़ेशनल बन सकते हैं। या आप माइक्रोसॉफ्ट विंडोज सर्वर 2012 पर अपने Microsoft Certified Systems Administrator प्रमाणपत्र प्राप्त कर सकते हैं।

चूंकि ये प्रमाणपत्र व्यस्त प्रोफेशनल्‍स के लिए डिज़ाइन किए गए हैं, इसलिए उन्हें केवल कुछ कोर्स और अंतिम परीक्षा की आवश्यकता होती है। प्रत्येक कोर्स केवल 3 से 5 दिन चलाता है और कक्षा में, डिस्‍टेंस एजूकेशन (लाइव वीडियो प्रसारण), ई-लर्निंग (स्वयं-केंद्रित ऑनलाइन निर्देश), सीडी-रोम और यहां तक ​​कि कक्षा में लिया जा सकता है।

माइक्रोसॉफ्ट के अलावा, Oracle और Cisco दो अन्य लोकप्रिय प्रोफेशनल सर्टिफिकेशन प्रोग्राम चलाते हैं। Oracle University क्‍लासेस दर्जनों भाषाओं में उपलब्ध हैं और लोकप्रिय ओरेकल डेटाबेस, ओरेकल ई-बिजनेस सूट और सिबेल सीआरएम टूल समेत सभी कंपनी के प्रॉडक्‍ट में प्रमाण पत्र प्रदान करता हैं।

Cisco विशेषज्ञता के अपने क्षेत्रों, अर्थात् नेटवर्किंग, नेटवर्क सुरक्षा, राउटर और स्विचिंग, और VoIP में समकक्ष प्रमाणपत्र प्रदान करता है।

सूचना प्रौद्योगिकी में कैरियर की क्या संभावनाएं हैं?

Careers in Information Technology in Hindi

अगर यहां हजारों आईटी जॉब नहीं हैं, तो सैकड़ों हैं। चूंकि हम उन सभी के बारे में बात नहीं कर सकते हैं, हम छह सबसे लोकप्रिय आईटी करियर पर एक नज़र डालेंगे:

  • मैनेजर
  • एनालिस्ट
  • एडमिनिस्ट्रेटर
  • इंजीनियर
  • सपोर्ट
  • वेब विशेषज्ञ

बढ़ते बिज़नेस अब अधिक इनफॉर्मेशन टेक्‍नोलॉजी सिस्‍टम और वेब टेक्‍नोलॉजी पर निर्भर हो रहे हैं, आईटी मैनेजर की मांग बहुत अधिक है।

इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी पर अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

हमें इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी की आवश्यकता क्यों है?

हमें आज की दुनिया में तेजी से कम्युनिकेशन स्थापित करने, इलेक्ट्रॉनिक स्‍टोरेज बनाए रखने और रिकॉर्ड को सुरक्षा प्रदान करने के लिए इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी की आवश्यकता है। सरल तरीके से, आईटी कंपनी के रिकॉर्ड को सुरक्षा प्रदान करने के लिए इलेक्ट्रॉनिक स्‍टोरेज की एक सिस्‍टम बनाता है। ग्राहक सुरक्षित रखरखाव फाइलों की मांग करता है और यह सब आईटी द्वारा संभव किया गया है।

इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी हमारे दैनिक जीवन में क्यों महत्वपूर्ण है?

इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी हमारे जीवन में महत्वपूर्ण है क्योंकि यह हर दिन की गतिशील चीजों से निपटने में मदद करती है। प्रौद्योगिकी विकास को बढ़ावा देने और इनफॉर्मेशनओं के आदान-प्रदान के लिए विभिन्न उपकरण प्रदान करती है। ये दोनों चीजें आईटी का उद्देश्य कार्यों को आसान बनाना और कई समस्याओं को हल करना है।

क्या इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी एक अच्छा करियर है?

इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी में करियर एक सुरक्षित नौकरी और अच्छे वेतन के साथ विकास प्रदान करता है। इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी में डिग्री प्राप्त करने से न केवल अच्छे वेतन और नौकरी की सुरक्षा के साथ आईटी के विशेषज्ञ भी तैयार होते हैं।

इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी किस प्रकार की डिग्री है?

इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी प्रोफेशनल होने के लिए, छात्रों को आईटी में स्नातक की डिग्री प्राप्त करने की आवश्यकता होती है, चाहे वह कंप्यूटर विज्ञान हो या अन्य तकनीक से संबंधित क्षेत्र। आईटी में विज्ञान स्नातक एक सामान्य डिग्री मार्ग है जो प्रत्येक छात्र के पास होना चाहिए।

शिक्षा में इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी की क्या भूमिका है?

इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी दुनिया भर में ज्ञान साझा करने में सक्षम बनाती है। आईटी के साथ आज न केवल छात्र बल्कि शिक्षक भी इसका लाभ उठा रहे हैं और अप-टू-डेट रह रहे हैं। ज्ञान और इनफॉर्मेशन के सही आदान-प्रदान, शिक्षण और सीखने के लिए इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी महत्वपूर्ण है।

1 COMMENT

  1. wow sir this is really useful information for me and i have also such type of content about IT kya hai which is also helpful for your visiters
    Thankful to : itkhoj

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.