ग्राफिक्स कार्ड क्या है? ग्राफिक्स कार्ड कैसे काम करते हैं

Graphic Card Hindi

Graphic Card Kya Hai

ग्राफिक्स कार्ड, कंप्यूटर हार्डवेयर का एक भाग है जो आपके द्वारा मॉनिटर पर दिखाई देने वाली इमेज का उत्पादन करता है।

 

Graphic Card Meaning in Hindi

एक प्रिंटेड सर्किट बोर्ड जो आउटपुट को डिस्प्ले स्क्रीन पर कंट्रोल करता है।

 

Graphic Card in Hindi:

आपके मॉनिटर पर आपके द्वारा देखे जाने वाले चित्र पिक्सेल नामक छोटे डॉट्स से बने होते हैं। अधिकांश सामान्य रिज़ॉल्यूशन सेटिंग्स में, एक स्क्रीन एक मिलियन पिक्सल से अधिक डिस्‍प्‍ले करती है, और कंप्यूटर को यह तय करना होता है कि इमेज बनाने के लिए हर एक के साथ क्या किया जाए। ऐसा करने के लिए, इसे एक ट्रांसलेटर की आवश्यकता है – CPU से Binary डेटा लेकर इसे एक पिक्‍चर में बदल देंना जिसे आप देख सकते हैं।

Binary in Hindi: Binary Number System क्या हैं?

जब तक किसी कंप्यूटर में ग्राफिक्स क्षमता मदरबोर्ड में निर्मित नहीं होती, तब तक वह ट्रांसलेटर ग्राफिक्स कार्ड पर होता है।

ग्राफिक्स कार्ड आपके मॉनिटर पर एक इमेज प्रदान करने के लिए जिम्मेदार है, यह डेटा को सिग्नल में परिवर्तित करके ऐसा करता है जिसे आपका मॉनिटर समझ सकता है।

जब ग्राफिक्स बेहतर होता हैं, तो वह एक बेहतर और साफ इमेज को उत्पादित किया जा सकता है। यह स्वाभाविक रूप से गेमर्स और वीडियो एडिटर्स के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।

ग्राफिक्स कार्ड को जॉब जटिल है, लेकिन इसके सिद्धांतों और घटकों को समझना आसान है। इस आर्टिकल में, हम एक वीडियो कार्ड के बेसिक पार्ट और उनके द्वारा किए गए कार्यों को देखेंगे। हम उन फैक्‍टर को भी चेक करेंगे जो एक तेज, कुशल ग्राफिक्स कार्ड बनाने के लिए एक साथ काम करते हैं।

अपने स्वयं के कला विभाग के साथ एक कंपनी के रूप में एक कंप्यूटर के बारे में सोचे। जब कंपनी के लोग कलाकृति का एक टुकड़ा चाहते हैं, तो वे कला विभाग को एक रिक्‍वेस्‍ट भेजते हैं। कला विभाग यह तय करता है कि इमेज कैसे बनाई जाए और फिर उसे कागज पर रखा जाता हैं। अंतिम परिणाम यह है कि किसी का विचार वास्तविक, देखने योग्य चित्र बन जाता है।

एक ग्राफिक्स कार्ड समान सिद्धांतों के साथ काम करता है। सॉफ्टवेयर एप्लीकेशन के साथ मिलकर काम करने वाला सीपीयू इमेज के बारे में जानकारी ग्राफिक्स कार्ड में भेजता है। पिक्‍चर बनाने के लिए ग्राफिक्स कार्ड स्क्रीन पर पिक्सेल का उपयोग करने का तरीका तय करता है। यह तब उस इनफॉर्मेशन को एक केबल के माध्यम से मॉनिटर को भेजता है।

बाइनरी डेटा से एक इमेज बनाना एक डिमांडिंग प्रोसेस है। 3-D इमेज बनाने के लिए, ग्राफिक्स कार्ड पहले सीधी रेखाओं से एक वायर फ्रेम बनाता है। फिर, इस इमेज को रेखापुंज करता है (शेष पिक्सेल में भरता है)। यह लाइटिंग, टेक्सचर और कलर्स भी जोड़ता है। फास्‍ट स्‍पीड वाले गेम के लिए, कंप्यूटर को प्रति सेकंड साठ बार इस प्रोसेस से गुजरना पड़ता है। आवश्यक गणना करने के लिए ग्राफिक्स कार्ड के बिना, कंप्यूटर को संभालने के लिए कार्यभार बहुत अधिक होगा।

 

ग्राफिक्स कार्ड चार मुख्य घटकों का उपयोग करके इस कार्य को पूरा करता है:

डेटा और पावर के लिए एक मदरबोर्ड कनेक्शन

स्क्रीन पर प्रत्येक पिक्सेल के साथ क्या करना है, यह तय करने के लिए एक प्रोसेसर

प्रत्येक पिक्सेल के बारे में जानकारी रखने के लिए और अस्थायी रूप से पूर्ण पिक्‍चर को स्‍टोर करने के लिए मेमोरी

एक मॉनिटर कनेक्शन ताकि आप एंड रिज़ल्‍ट देख सकें

 

Types of Graphics Cards in Hindi:

ग्राफिक्स कार्ड के प्रकार

1) Integrated

ग्राफिक्स को मदरबोर्ड में बिल्‍ट-इन किया जाता है जहाँ कोई ऐड-इन कार्ड का उपयोग नहीं किया जाता। आप इन्हें अधिकांश स्‍टैंडर्ड लैपटॉप और कंप्यूटर में बिल्‍ट-इन पाएंगे, ये एक लागत प्रभावी मॉडल हैं लेकिन इन्हें आसानी से अपग्रेड नहीं किया जा सकता।

 

2) PCI

Graphic Card Hindi

PCI ग्राफिक्स कार्ड ऐसे कार्ड हैं जो आपके कंप्यूटर से कनेक्ट करने के लिए आपके मदरबोर्ड पर PCI स्लॉट्स का उपयोग करते हैं। PCI graphics cards आमतौर पर अब बहुत पुराना मॉडल हो गया है। हालांकि, कई पुराने मदरबोर्ड में PCI स्लॉट होते हैं और कनेक्शन की नई किस्मों की कमी होती है। इस कारण से, अभी भी PCI ग्राफिक्स कार्ड खरीदने का एक कारण हो सकता है।

 

3) AGP

Graphic Card Hindi

AGP ग्राफिक्स कार्ड एक ही चीज़ के लिए नामित किए गए हैं PCI कार्ड हैं- स्लॉट जो वे मदरबोर्ड पर कनेक्ट करते हैं। AGP कार्ड में चार स्‍पीड हो सकती हैं, सबसे तेज 8x हैं। हालाँकि, यदि आपका मदरबोर्ड केवल एक कम स्‍पीड को सपोर्ट करता है, जैसे कि 1x, 2x, या 4x, तो आपका ग्राफिक्स कार्ड ऐसा व्यवहार करेगा जैसे कि यह वास्तविक गति के बजाय धीमी गति का हो। AGP कनेक्शन तकनीकी सीमाओं के कारण PCI-E slots के रूप में काफी फास्‍ट नहीं हैं, और परिणामस्वरूप हाई स्‍पीड पर चलने के लिए डेवलप नहीं किया जाता। हालांकि, PCI कार्ड की तरह, वे सबसे अत्याधुनिक कार्ड की तुलना में अधिक व्यापक रूप से कम्पेटिबल हैं।

 

4) PCI-Express

Graphic Card Hindi

PCI-E कार्ड सबसे एडवांस हैं, मदरबोर्ड के PCI-E स्लॉट से कनेक्‍ट होते हैं। PCI-E graphics cards को 16x तक accelerate किया जा सकता है। इसके अलावा, एक से अधिक PCI-E वाले मदरबोर्ड में एक से अधिक PCI-E ग्राफिक्स कार्ड कनेक्‍ट हो सकते हैं और उनकी पॉवर combine होती हैं। हालाँकि, यह एक दुर्लभ परिदृश्य है। अगर सही ढंग से प्‍लान नहीं किया जाए तो यह कम्पेटिबिलिटी समस्याओं का कारण बन सकता है; कुछ मदरबोर्ड PCI-E video card के विशिष्ट ब्रांडों के साथ बेहतर काम करते हैं।

 

How To Choose Good Graphics Card

एक अच्छा ग्राफिक्स कार्ड कैसे चुने

एक टॉप-लाइन ग्राफिक्स कार्ड को स्पॉट करना आसान है। इसमें बहुत सारी मेमोरी और एक फास्‍ट प्रोसेसर होता है। अक्सर, यह किसी अन्य चीज़ की तुलना में अधिक दिखने में आकर्षित होते है जो कंप्यूटर के केस में अंदर होते है। हाई-परफॉर्मेंस वीडियो कार्ड के बहुत सारे सचित्र हैं या सजावटी फैन या हीट सिंक लगे होते हैं।

लेकिन एक हाई-एंड कार्ड ज्यादातर लोगों को वास्तव में जरूरत से ज्यादा पॉवर प्रदान करता है। जो लोग मुख्य रूप से ई-मेल, वर्ड प्रोसेसिंग या वेब सर्फिंग के लिए अपने कंप्यूटर का उपयोग करते हैं, वे इंटिग्रेडेट ग्राफिक्स के साथ मदरबोर्ड पर सभी आवश्यक ग्राफिक्स सपोर्ट पा सकते हैं। अधिकांश अनौपचारिक गेमर्स के लिए एक मिड-रेंज कार्ड पर्याप्त है। जिन लोगों को हाई-एंड कार्ड के पॉवर की आवश्यकता होती है, उनमें गेमिंग के प्रति उत्साही और वे लोग शामिल होते हैं जो बहुत सारे 3-डी ग्राफिक काम करते हैं।

एक कार्ड के परफॉर्मेंस का एक अच्छा समग्र माप इसका फ्रेम रेट है, जिसे फ्रेम प्रति सेकंड (FPS) में मापा जाता है। फ्रेम रेट बताता है कि कार्ड प्रति सेकंड कितने पूर्ण इमेज डिस्‍प्‍ले कर सकता है। मानव आँख प्रत्येक सेकंड में लगभग 25 फ़्रेमों को रिसोर्स कर सकती है, लेकिन फास्ट-एक्शन गेम्स को साफ एनीमेशन और स्क्रॉलिंग रेट करने के लिए कम से कम 60 FPS की एक फ्रेम रेट की आवश्यकता होती है। फ्रेम रेट के घटक हैं:

i) Triangles or vertices per second:

3-D इमेजेज त्रिकोण या बहुभुज से बने होते हैं। यह माप बताता है कि GPU कितनी तेज़ी से पूरे polygon या vertices की गणना करता हैं, जो इसे परिभाषित करते है। सामान्य तौर पर, यह वर्णन करता है कि कार्ड कितनी जल्दी वायर फ्रेम इमेज बनाता है।

 

ii) Pixel fill rate:

यह माप बताता है कि GPU एक सेकंड में कितने पिक्सेल को प्रोसेस कर सकता है, जो ट्रांसलेट करता है कि यह इमेज को कितनी तेज़ी से rasterize कर सकता है।

ग्राफिक्स कार्ड का हार्डवेयर सीधे इसकी गति को प्रभावित करता है। ये हार्डवेयर स्पेसिफिकेशन्स हैं जो कार्ड की स्‍पीड और उन यूनिटस् को प्रभावित करते हैं जिनमें उन्हें मापा जाता है:

GPU clock speed (MHz)

Size of the memory bus (bits)

Amount of available memory (MB)

Memory clock rate (MHz)

Memory bandwidth (GB/s)

RAMDAC speed (MHz)

कंप्यूटर का CPU और मदरबोर्ड भी एक भूमिका निभाते हैं, क्योंकि बहुत फास्‍ट ग्राफिक्स कार्ड मदरबोर्ड की अक्षमता के लिए जल्दी से डेटा वितरित करने के लिए क्षतिपूर्ति नहीं कर सकता। इसी तरह, मदरबोर्ड से कार्ड का कनेक्शन और जिस स्‍पीड से यह CPU से निर्देश प्राप्त कर सकता है वह उसके परफॉर्मेंस को प्रभावित करता है।

 

Graphic Card Hindi

Graphic Card In Hindi, Graphic Card Kya Hai, Graphic Card Meaning in Hindi

सारांश
आर्टिकल का नाम
Graphic Card in Hindi
लेखक की रेटिंग
51star1star1star1star1star