Google Maps Hindi में! – सब कुछ आपको जो कुछ पता होना चाहिए!

Google Maps Hindi

Google Maps ऐप्पल के मूल मैप ऐप के लिए एक वैकल्पिक मैपिंग सर्विस है। यह अब लगभग एक दशक पुराना हो चुका है। यदि आप Google Maps के बारे में अधिक जानना चाहते हैं, तो यहां आपके लिए वह सब कुछ हैं, जो आप जानना चाहते है।

 

What is Google Maps in Hindi:

Google Maps एक वेब-बेस सर्विस है जो भौगोलिक क्षेत्रों और दुनिया भर की साइटों के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान करती है। पारंपरिक रोड मैप के अतिरिक्त, Google Maps कई स्थानों के हवाई और उपग्रह दृश्य प्रदान करता है। कुछ शहरों में, Google Maps वाहनों से ली गई तस्वीरों सहित सड़क दृश्य पेश करता है।

Google Maps बड़े वेब एप्लिकेशन के हिस्से के रूप के अलावा कई सारी सर्विसेस प्रदान करता है।

एक रूट प्‍लानर ड्राइवरों, बाइक, वॉकर को डाइरेक्‍शन ऑफर करता हैं और यूजर्स को पब्लिक ट्रांसपोर्टेशन ऑफर करता हैं, जो एक विशिष्ट स्थान से दूसरे स्थान पर ट्रैवल करना चाहते हैं।

Google Maps का एप्लिकेशन प्रोग्राम इंटरफ़ेस (API) वेब साइट एडमिनिस्ट्रेटर्स के लिए अपनी साइट जैसे रियल इस्‍टेट में गूगल मैप को एम्बेड करना संभव बनाता है।

मोबाइल के लिए Google Maps मोटर चालकों के लिए एक लोकेशन सर्विस प्रदान करता है जो मोबाइल डिवाइस (यदि उपलब्ध हो) के Global Positioning System (GPS) स्थान का उपयोग वायरलेस और सेलुलर नेटवर्क से डेटा के साथ करता है।

Google Street व्यू यूजर्स को दुनिया भर के विभिन्न शहरों की हॉरिजंटल और वर्टिकल पैनोरैमिक स्ट्रिट लेवल की इमेजेज के माध्यम से देखने और नेविगेट करने में सक्षम बनाता है। पूरक सेवाएं हॉबी खगोलविदों के लिए चंद्रमा, मंगल और आकाश की इमेजेज प्रदान करती हैं।

 

History of Google Maps in Hindi:

Google Maps पहली बार सिडनी स्थित कंपनी कहां 2 टेक्नोलॉजीज में दो डेनिश भाइयों लार्स और जेन्स एइलस्ट्रप सेन द्वारा डिजाइन किए गए C ++ प्रोग्राम के रूप में शुरू हुआ।

इसे पहले यूजर को अलग से डाउनलोड करने के लिए डिज़ाइन किया गया था, लेकिन बाद में गूगल मैनेजमेंट में कंपनी ने पूरी तरह से वेब-बेस प्रॉडक्‍ट के लिए विचार किया और इसके डिस्‍ट्रीब्‍यूशन मेथड में बदलाव हो गया।

अक्टूबर 2004 में, कंपनी को GoogleInc द्वारा अधिग्रहित किया गया, जहां यह वेब एप्लिकेशन Google Maps में बदल गया। उसी महीने, Google ने Keyhole भूस्‍थानिक डेटा विज़ुअलाइजेशन कंपनी, (सीआईए से विवादास्पद निवेश के साथ) का अधिग्रहण किया, जिसका मार्की एप्लिकेशन सूट, Earth Viewer 2005 में अत्यधिक सफल Google Earth ऐप्‍लीकेशन के रूप में उभरा, जबकि इसकी मूल तकनीक के अन्य पहलुओं को Google Maps में इंटिग्रेट किया गया। सितंबर 2004 में Google ने ज़िप-डैश का अधिग्रहण किया, एक कंपनी जिसने रियल-टाइम ट्रैफिक विश्लेषण प्रदान किया।

ऐप्‍लीकेशन को 8 फरवरी, 2005 को Google ब्लॉग पर पहली बार घोषित किया गया था, और Google पर स्थित था। यह मूल रूप से केवल इंटरनेट एक्सप्लोरर और मोज़िला वेब ब्राउज़र के यूजर्स को सपोर्ट करता था, लेकिन 25 फरवरी, 2005 को ओपेरा और सफारी के लिए सपोर्ट को एड किया गया।

अप्रैल 2005 में, Google ने Google Map का उपयोग करके Google Ride Finder बनाया। जून 2005 में, Google ने Google Map API जारी किया।

जुलाई 2005 में, Google ने रोड मैप सहित जापान के लिए Google Maps और Google Local services की शुरुआत की। 22 जुलाई, 2005 को, Google ने “हाइब्रिड व्यू” जारी किया। इस परिवर्तन के साथ, सैटेलाइट इमेज डेटा कोप्लेट कैरी से मर्केटर प्रक्षेपण में परिवर्तित कर दिया गया था, जो समशीतोष्ण जलवायु अक्षांश में एक कम विकृत इमेज बनाता
था।

जुलाई 2005 में, अपोलो चंद्रमा लैंडिंग की छठी वर्षगांठ के सम्मान में, Google Moon लॉन्च किया गया था। सितंबर 2005 में, तूफान कैटरीना के बाद, Google Maps ने न्यू ऑरलियन्स की अपनी सैटेलाइट इमेजरी को तुरंत अपडेट किया ताकि यूजर्स को उस शहर के विभिन्न हिस्सों में बाढ़ की सीमा को देख सके।

जनवरी 2006 से, Google Maps ने संयुक्त राज्य अमेरिका, प्यूर्टो रिको, कनाडा, यूनाइटेड किंगडम, जापान और आयरलैंड गणराज्य के कुछ शहरों के लिए रोड मैप दिखाए। 2006 शीतकालीन ओलंपिक के लिए ट्यूरिन के आसपास के क्षेत्र का कवरेज जोड़ा गया था। 23 जनवरी, 2006 को, Google मैप को उसी सैटेलाइट इमेज डेटाबेस का उपयोग Google Earth के रूप में करने के लिए अपडेट किया गया था।

12 मार्च, 2006 को, Google Mars लॉन्च किया गया था, जिसमें मंगल ग्रह के एक ड्रैगगेबल मैप और सैटेलाइट इमेजरी शामिल थी। अप्रैल 2006 में, Google Local को मुख्य Google Maps साइट में विलय कर दिया गया था। 3 अप्रैल, 2006 को, Maps API का वर्शन 2 जारी किया गया था। 11 जून, 2006 को, Google ने API में जियोकोडिंग क्षमताओं को जोड़ा, इस सेवा के लिए सबसे डेवलपर-अनुरोधित सुविधा को संतुष्ट किया।

 

Google की सरल और संक्षिप्त हिस्‍ट्री:

Google Maps ने एक व्हाइटबोर्ड पर अनियमित scribbles की एक श्रृंखला के रूप में व्यक्त एक विचार के रूप में अपना जीवन शुरू किया।

2004: आइडिया शुरू होआ।

2005: आइडिया को ने ऑस्ट्रेलियाई मैपिंग कंपनी द्वारा Google को बेचा।

2006: Google Maps ने यूएस और यूरोप क्षेत्रों के लिए रोड मैप्स दिखाए।

2007: मैप पर अपग्रेडेड मैप और लोकल ट्रैफिक की जानकारी उपलब्ध हुई।

2008: यूजर बेस सर्च फैसिलिटी को एड किया गया और Geo tagging और Map Maker जैसे Mapping टूल को जोड़ा गया।

2009: Street View फीचर को जोड़ा गया (सीमित क्षेत्र के साथ)।

2010: Google Maps Labs जोड़ा गया था।

2011: एक प्रीमियम लाइसेंस प्राप्त सर्विस को पेश किया गया।

2012: मुफ्त मैप उपयोग की पेशकश। Google maps को अन्य मैपिंग कंपनियों के लिए अपने अपमानजनक प्रभुत्व के लिए कानूनी मुद्दों का सामना करना पड़ा।

2013: मैप को अपडेट और अपग्रेड किए गए मैप और नक्शे में नए एक्सपिरियंस को जोड़ा गया और नक्शे से थर्ड पार्टी के इंटरैक्शन हटा दिए गए (जैसे विकी जियोकोड्स)।

2014: Google ने एक नया Google Maps इंटरफ़ेस पेश किया।

2015: क्लासिक Google Maps को नए Google Maps पर अग्रेषित किया गया था।

2016: Google ने लैंडसैट 8 से दुनिया भर में नई सैटेलाइट इमेजरी शुरू की।

2017: एंड्रॉइड के लिए Google Maps को नए UI के साथ अपडेट किया गया था जिसमें ट्रांसिट टाइम, ट्रैफिक डेटा, लोकल प्‍लेसेस और सिफारिशों की सुविधा शामिल है।

 

How Does Google Maps Work in Hindi:

Google Maps कैसे काम करता है?

Google Maps अब एक दशक से अधिक समय से इंटरनेट का प्रमुख रहा है, लेकिन कुछ ही यूजर्स वास्तव में जानते हैं कि यह कैसे काम करता है। हममें से बाकी के लिए, Google Maps जादू से सिर्फ एक कदम दूर है।

किसी भी तरह से ये सभी जटिल फीचर्स बहुत अच्छी तरह से काम करते हैं, यही कारण है कि हम में से कई लोग रोज़ाना नेविगेशन के लिए Google Maps पर भरोसा करते हैं। तो क्या यह सही समय नहीं है कि हम यह सीखे कि यह सब कैसे काम करता है? पर्दे के पीछे जादू देखने के लिए पढ़ना जारी रखें।

 

Why Did Google Launch Maps

Google ने Maps लॉन्च क्यों किया?

Google का सार्वजनिक मिशन हैं –

“दुनिया की जानकारी को ऑर्गनाइज़ करना और इसे सार्वभौमिक रूप से उपलब्ध और उपयोगी बनाना”

कंपनी के वर्तमान-दिन के प्रोजेक्‍ट में से सभी तो नहीं लेकिन कुछ लोग इस मिशन पर ध्यान केंद्रित करते हैं – एक मिशन जो डेटा के लाखों गीगाबाइट एकत्र करने, ऑर्गनाइज़ करने और व्याख्या करने पर निर्भर है।

लेकिन Google जो इनफॉर्मेशन को ऑर्गनाइज़ करने की कोशिश कर रहा है वह केवल ऑनलाइन नहीं है। इसमें से अधिकांश ऑफ़लाइन है। Google Maps के वरिष्ठ उत्पाद प्रबंधक ने समझाया: “जैसे ही हम अपने जीवन के बारे में सोचते हैं, तो हम वास्तविक दुनिया और [ऑनलाइन दुनिया] के बिच के अंतर को  ब्रिज करने की कोशिश करते हैं और इसी में मैप अपनी भूमिका निभा रहा हैं।

बहुत ही बेसिक लेवल पर, Google Maps ने ऑफ़लाइन इनफॉर्मेशन की एक बड़ी मात्रा ली है और इसे ऑनलाइन पब्‍लीश किया है। हम हाईवे नेटवर्क, रोड सिग्‍नल, स्ट्रिट नेम, और बिज़नेस नेम जैसी चीजें के बारे में बोल रहे हैं। लेकिन जैसा कि नीचे संकेत दिया है, Google उम्मीद करता है कि Maps भविष्य में बहुत कुछ करने में सक्षम होंगे।

 

How Google Maps Collects Data in Hindi:

जब Google Maps को बनाए रखने और सुधारने में सहायता के लिए डेटा कलेक्‍शन की बात आती है, तो ऐसा लगता है कि यह कभी भी पर्याप्त नहीं हो सकता है – और प्रभावशाली बिट यह है कि उस इनफॉर्मेशन में से कोई भी तीन वर्ष से अधिक पुराना नहीं है। यह विशाल पैमाने का एक प्रोजेक्‍ट है।

i) Map Partners

इस प्रयास में सहायता के लिए, Google अपने बेस मैप पार्टनर प्रोग्राम के माध्यम से “सबसे व्यापक और आधिकारिक डेटा स्रोत” के साथ साझेदार है। बड़ी संख्या में एजेंसियां ​​Google के पास विस्तृत वेक्टर डेटा जमा करती हैं, और इन एजेंसियों में USDA Forest Service, US National Park Service, US Geological Survey, विभिन्न शहर और काउंटी परिषद शामिल हैं।

इस डेटा का उपयोग बदलती सीमाओं और जलमार्गों की सीमाओं के लिए किया जाता है, नए बाइक पथों को अन्य चीजों के साथ प्रदर्शित करता है, और इससे “बेस मैप” को यथासंभव अपडेट रखने में मदद मिलती है।

 

ii) Street View

Google Street View एक कभी न समाप्त होने वाली सड़क यात्रा है। वाहनों की एक बड़ी टीम ग्रह के चारों ओर फैले हैं, उनका उद्देश्य वे जहां भी जाते हैं, वहां के 360 डिग्री फोटो लेते हैं।

उन वाहनों के GPS निर्देशांक के आधार पर, Google अपने बेस मैप के टॉप पर अपनी Street View इमेजेज को ओवरले करता है।

Street View सड़कों और स्थलों के सिर्फ एक पैनोरमा से कहीं अधिक प्रदान करता है। हमेशा इंप्रूव होने वाले ऑप्टिकल कैरेक्टर रिकॉग्नाइजेशन (ओसीआर) क्षमताओं का उपयोग करके, Google सड़क सिग्‍नल, ट्रौफिक साइन और बिजऩनेस नामों जैसी चीजें “पढ़” सकता है।

 

iii) Satellites

Google Maps का एक और लेयर इसका सैटेलाइट दृश्य है। इसका Google Earth के साथ घनिष्ठ सहयोग है, जो ऊपर के सैटेलाइट द्वारा ग्रहण किए गए ग्रह की हाई-रिज़ॉल्यूशन वाली तस्वीरों को एक साथ जोड़ रहा है।

इन इमेजेज को डेटा की अन्य लेयर्स के साथ क्रॉस-चेक किया जाता है, जैसे स्ट्रीट व्यू के साथ-साथ एक्‍सटर्नल एजेंसियों द्वारा प्रस्तुत डेटा। यह मैप को भूगर्भीय परिवर्तन, नई और बदली इमारतों इत्यादि को कैप्‍चर करने में मदद करता है।

 

iv) Location Services

Maps को अपडेट रखने के लिए Google वास्तव में मोबाइल लोकेशन सर्विस का उपयोग करने के तरीके के बारे में अधिक जानकारी नहीं है, लेकिन यह स्पष्ट रूप से एक बड़ी भूमिका निभाता है।

हां, यह सही है: यदि Google के पास आपके स्मार्टफ़ोन द्वारा एकत्र किए गए लोकेशन डेटा का एक्‍सेस है, तो आप Maps को बेहतर बनाने और विस्तार करने के लिए Google के ऑपरेशन का हिस्सा हैं।

आपके लोकेशन डेटा का उपयोग रीयल-टाइम ट्रैफ़िक अपडेट जैसी चीजों के लिए किया जा सकता है, वर्तमान ट्रैफिक स्‍पीड का अनुमान लगाया जा सकता है, और सड़क डाइवर्शन को इंगित कर सकता है। यदि एक व्यस्त मार्ग में अचानक कोई ट्रैफिक नहीं है, तो मैप्स मान सकता है कि वहां एक मोड़ है और तदनुसार दिशाओं को एडजस्‍ट करेगा।

Google इस डेटा का उपयोग उन घंटों का अनुमान लगाने के लिए भी करता है जब व्यक्तिगत बिज़नेस बिज़ी होंगे। यह व्यक्तिगत इमारतों के नीचे की यातायात पर टैब रखकर ऐसा करता है। शायद थोड़ा डरावना, लेकिन यह ऑफ़लाइन इनफॉर्मेशन ऑनलाइन लाने का एक और प्रयास है।

 

v) Google Maps Users

Google Map Maker एक और तरीका है जिसमें Google अपने मैप्स ऑपरेशन को बना रहा है, और यह एक ऐसा प्रोग्राम है जो 2008 से (Google के कई अन्य सर्विसेस के बीच) रहा है।

Open Street Map के रूप में वैसे ही काम करता हैं, Google Map Maker किसी को भी अपने स्थानीय ज्ञान को Google Maps में योगदान करने की अनुमति देता है। अच्छी खबर यह है कि इस कार्यक्षमता में से अधिकांश को Maps में ही शामिल किया जा रहा है, और संक्रमण पूरा हो जाने के बाद 2017 में मैप मेकर को बंद कर दिया जाएगा।

 

संक्षेप में, यूजर्स अपने निजी योगदान के साथ Google के Maps एडिट कर सकते हैं। आप स्थानों, नई सड़कों, भवनों की रूपरेखा, और लंबी पैदल यात्रा के निशान जोड़ने और एडिट करने में सक्षम हैं। और यदि आपको लगता है कि आप बर्बरता से दूर हो सकते हैं, तो फिर से सोचें: यूजर्स कि एडिट की समीक्षा अन्य यूजर्स द्वारा की जा सकती है।

इसका मतलब है कि पब्लिक एडिटर्स की एक बड़ी सेना है जो Google Maps को 24/7अपडेट रखती है। यह विशेष रूप से कठिन पहुंचने वाले स्थानों पर मैप करने और ज्ञान एकत्र करने के लिए उपयोगी है जो अन्यथा Google की पहुंच या जागरूकता से बाहर होगा।

 

vi) Local Guides

एडिटर्स की सेना के साथ ही, Google के पास लाखों तथाकथित Local Guides भी हैं। स्थानीय गाइड एक ऐसी सुविधा है जो आपको फोरस्क्वेयर की याद दिलाएगी और Google के अपने बेस मैप को रखने के लिए अधिक व्यक्तिपरक डेटा की एक लेयर एकत्र करने का प्रयास है।

जब आप Google Maps में हों, तो My Contributions पर जाएं और आप अपने क्षेत्र में विभिन्न स्थानों की खोज कर सकते हैं। समीक्षा छोड़कर, कुछ प्रश्नों का उत्तर देकर, और एक फोटो सबमिट करके, आप डेटा की इस अतिरिक्त लेयर में योगदान दे सकते हैं।

यह स्थानीय ज्ञान मैप्स को कैफे जैसी चीज़ों को जानने में मदद करता है, चाहे एक होटल में पार्किंग हो या क्या रेस्तरां में शाकाहारी ऑप्‍शन हैं। योगदान के बदले में, यूजर्स Google Drive में अधिक स्‍टोरेज जैसे पुरस्कार कमा सकते हैं।

 

Making Sense of the Data

जैसा कि आप देख सकते हैं, Google द्वारा एकत्र किए जा रहे डेटा की मात्रा आश्चर्यजनक है – और हमने अभी तक Google की बिज़नेस लिस्‍टींग जैसे कुछ अन्य सर्विसेस इंटिग्रेशन को स्पर्श भी नहीं किया है।

डेटा की ये लेयर्स, प्रोसेस होने पर, हमें Google Maps पर मिली सारी इनफॉर्मेशन एक्‍सेस होती हैं। लेकिन वास्तव में उस डेटा को समझने में क्या होता है?

यह बड़े पैमाने पर एल्गोरिदम के प्रकार को उबालता है जो Google के आधार पर एक कंपनी के आधार पर बनाते हैं। ये एल्गोरिदम, जो बेहद जटिल और गोपनीय होते हैं, डेटा को क्लिन करने के लिए काम करते हैं, असंगतता को चिह्नित करते हैं, और इसे अधिक उपयोगी बनाने के लिए इसे एक साथ जोड़ते हैं।

उदाहरण के लिए, जब Street View रोड साइन और बिज़नेस नामों की इमेजेज को स्‍कैन करता है, तो एल्गोरिदम उन सड़क सिग्‍नल को समझकर रोड नेटवर्क की समझ बनाने का प्रयास कर सकता है। साथ ही, ए से बी तक सबसे तेज़ मार्गों की गणना करते समय लोकेशन डेटा को ध्यान में रखा जा सकता है।

हालांकि एल्गोरिदम हमेशा सुधार कर रहे हैं, वे केवल इतना ही कर सकते हैं, इसलिए इस डेटा को मानव भागीदारी के एक टन डेटा के साथ जोड़ा जाता है। अगर कुछ ऐसा है जो Google के एल्गोरिदम का एहसास नहीं कर सकता है, तो एक टीम सदस्य मैन्युअल रूप से इसे देखेगा और चीजों को सीधे सेट करेगा।

अक्सर, इंटरसेक्शन लॉजिक मैन्युअल रूप से इनपुट किया जाता है और नई सड़कों को “पॉलिश” किया जाता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि कभी-कभी सड़क पर जो देखा जाता है उसे समझने का सबसे अच्छा तरीका यह है कि वह कार्य मानव को सौंपना है।

यह बिना किसी संदेह के एक बड़ा काम है। यही कारण है कि Google की दुनिया भर में टीमों को हर देश में चीजों को अपडेट रखने के लिए समर्पित है जिसमें यह संचालित होता है।

 

What Google Maps Can Do For You

Google Maps केवल पिछले कुछ ही वर्षों से आपके आसपास रहा है, लेकिन बहुत से लोग इस सर्विस की सीमा से पूरी तरह से अनजान हैं। आज, हम उन 10 चीजों को देखने जा रहे हैं जिन्हें आप Google Maps के साथ कर सकते हैं।

1) Transportation Directions

Google Maps आपको दिशा-निर्देश प्रदान करने में वास्तव में अच्छा है जिस पर किसी भी स्थान पर ट्रांसपोर्टेशन मेथड उपलब्ध है और साथ ही उन मेथड के साथ आने वाले विवरण भी उपलब्ध हैं। यदि आप जानना चाहते हैं कि आप बस या रेल कहां से पकड़ सकते हैं, तो आप वह जानकारी पा सकते हैं।

 

2) Creating Maps

यदि आपका स्थान विशेष रूप से अस्पष्ट है, तो आपको एक  समझने में सरल डायग्राम खोजने में परेशानी हो सकती है जो सटीक दिशा प्रदान करता है। ऐसे मामलों में, बस अपना खुद का मैप बनाओ।

 

3) Distance And Estimated Time Of Arrival

Maps फीचर का उपयोग करते समय, किसी विशेष पॉइंट पर क्लिक करने से आप यह जान सकते हैं कि यह आपके वर्तमान स्थान से कितना दूर है और वहां पहुंचने में कितना समय लगता है। इससे आपको अपनी र्टैवल की योजना बनाने और अपना शेड्यूल व्यवस्थित करने में मदद मिलेगी।

 

4) Mixing Maps Info

इस भाग के लिए, आपको कुछ तकनीकी जानकारियों की आवश्यकता होगी। यदि आप जानते हैं कि आप मूल रूप से Maps पर कुछ और विवरण जोड़ सकते हैं। आप सेलिब्रिटी व्यूइंग, विशेष अवसरों आदि जैसे चीजें जोड़ सकते हैं।

 

5) Finding Your Location

बस अगर आप कहीं नए जगह पर ट्रैवल कर रहे हैं और आप नहीं जानते कि आप कहां हैं, तो आप अपना सटीक स्थान ढूंढ सकते हैं। खो जाने से यह बहुत अच्छा है।

 

6) Setting Routes

यदि आपके मन में कोई विशेष मार्ग है, तो आप इसे सेट कर सकते हैं और केवल निर्देशों का पालन कर सकते हैं। अनुकूलन आपको सुविधा प्रदान करता है।

 

7) Traffic Information

ट्रैफिक जैम में आप फंस सकते है। सौभाग्य से, Google Maps आपको बता सकता है कि दिन के किस समय के दौरान कौन से स्थान पर ट्रैफिक होगी।

 

8) Verbal Instructions

यदि आप पहले से ही नहीं जानते थे, तो आप बस उस स्थान के बारे में Google Maps को टाइप करने के बजाय बता सकते हैं जहां पर आप जाना चाहते हैं। जब आप गाड़ी चला रहे हों तो यह बहुत अच्छा है।

 

9) Locations Sharing

अपने दोस्तों के साथ हुक करने की आवश्यकता महसूस कर रहे हैं? अपना लोकेशन शेयर करें।

 

10) Location Editing

Google Maps परफेक्‍ट नहीं है। यदि आपको लगता है कि कुछ लोकेशन डिटेल्‍स गलत हैं, तो आप आगे बढ़ सकते हैं और यदि आप चाहें तो इसे एडिट कर सकते हैं।

 

Google Maps Hindi.

Google Maps Hindi, What is Google Maps in Hindi.

सारांश
आर्टिकल का नाम
Google Maps in Hindi
लेखक की रेटिंग
51star1star1star1star1star