Gmail Hindi में! Gmail क्‍या हैं? जीमेल का एक अल्‍टीमेट गाइड़

3503

Gmail Hindi.

Gmail in Hindi

What is Gmail in Hindi?

Gmail नाम Google Mail का संक्षिप्त रूप हैं।

Gmail, Google द्वारा दिए जाने वाली एक निशुल्क सर्विस हैं। इसमें यूजर्स इंटरनेट पर ई-मेल्‍स को भेज और प्राप्त कर सकते हैं।

- Advertisement -

जीमेल गूगल की मुफ्त ईमेल सर्विस है, जिसे आप mail.google.com पर Gmail को एक्‍सेस कर सकते हैं।

आपको Gmail का अकाउंट कैसे मिलेगा?

शुरुआती दिनों में Gmail केवल किसी के द्वारा इनविटेशन पर ही उपलब्ध था। इससे जीमेल कि सर्विस को विशिष्ट वर्ग तक सीमित रखकर प्रतिष्ठा बनाए रखने और इसकी मांग को बढ़ाने के साथ ही इसकी ग्रोथ को सीमित करने का मकसद था। तुरंत ही जीमेल सबसे लोकप्रिय ईमेल सर्विसेस में से एक हो गया। ई-मेल के लिए इनविटेशन को आधिकारिक रूप से 14 फरवरी, 2007 को समाप्त किया गया।

अब आप सीधे Gmail के लिए साइन अप कर सकते हैं।

जीमेल का उपयोग कैसे करें?

How To Use Gmail in Hindi:

जीमेल का उपयोग कैसे करें:

1) Sign Up:

जीमेल पर साइन अप कैसे करें?

Gmail अपना अकाउंट बनाने के लिए आपको पहले https://accounts.google.com/SignUp?hl=en

एड्रेस पर जाकर एक साइन-अप फॉर्म भरना होगा।

2) Sign In:

अकाउंट बनाने के बाद, बस ब्राउज़र के एड्रेस बार में (https://www.google.com/gmail/about/ ) जीमेल वेबसाइट यूआरएल एंटर करें।

SIGN IN बटन पर क्लिक करें।

Sign in -Gmail in Hindi

अपना यूजरनेम और पासवर्ड टाइप करके जीमेल अकाउंट में साइन-इन करें।

3) Sending a Message:

किसी को नया ईमेल भेजने के लिए, ऊपर बाईं ओर Compose Mail पर क्लिक करें।

अब Compose मेल का पॉपअप बॉक्‍स आ जाएगा।

Compose mail -Gmail in Hindi

फिर To एड्रेस फिल्‍ड में रिसीवर का एड्रेस लिखें। यदि आपने कॉन्‍टेक्‍ट में इस एड्रेस को पहले ही एड किया हैं या इससे पहले इसे ईमेल मैसेज भेजा हैं, तो आटोमेटिकली इसका एड्रेस यहां पर आ जाएगा।

Cc का मतलब Carbon Copy। यदि आप इस मेल कि कॉपी किसी और को भी भेजना चाहते हैं, जिनका रिस्पॉन्स आवश्यक नहीं है। Bcc का मतलब Blind Carbon Copy। जब आप किसी को मेल भेजते हैं तो Bcc के एड्रेस उनसे हाइड होंगे, वे इस एड्रेस को देख नहीं पाएंगे।

इसके बाद, Subject में अपना विषय एंटर करें और अपना मैसेज नीचे के बड़े मैसेज बॉक्‍स में लिखें।

नीचे के फॉर्मेटिंग टूल बॉक्‍स से आप इस मैसेज के टेक्‍स्‍ट को कलर, फॉन्‍ट आदि फॉर्मेट कर सकते हैं। इसके साथ ही यहां पर एक क्लिप आइकॉन पर क्लिक कर आप अपनी फ़ाइल को अटैच भी कर सकते हैं।

Gmail इस मैसेज को हर मिनट में आटोमेटिक draft में सेव करता हैं। जब आप अपने मैसेज को पूरा टाइप कर लें तो Send बटन पर क्लिक करें।

क्या जीमेल मैसेजेस में अपने विज्ञापन डालता है?

जीमेल AdSense ads द्वारा प्रायोजित है। जब आप जीमेल कि वेबसाइट ओपन करते हैं, तब ये विज्ञापन मेल मैसेजेस के साइड पैनल पर दिखाई देते हैं। यह एड्स बिना चहल पहल के और ईमेल मैसेज के किवर्ड से मैचींग होते हैं।

कुछ कॉम्पिटिटर्स के विपरीत, Gmail भेजे जाने वाले मैसेजेस में विज्ञापन नहीं डालता। ये विज्ञापन कंप्यूटर जनरेटेड होते हैं, जिन्हें मनुष्यों द्वारा नहीं रखा जाता।

जीमेल का इतिहास क्‍या हैं?

History of Gmail in Hindi:

Gmail का विचार इसे सार्वजनिक करने की घोषणा करने से कई साल पहले पॉल बुचेट ने की थी। इस प्रोजेक्‍ट कोड को Caribou नाम से जाना जाता था। इसके प्रारंभिक विकास के दौरान, प्रोजेक्‍ट को Google के अपने स्वयं के इंजीनियरों से सिक्रेट रखा गया था। जब यह प्रोजेक्‍ट बेहतर और बेहतर होता गया, तब 2004 की शुरुआत तक, लगभग सभी लोग कंपनी के इंटरनल ईमेल सिस्टम को एक्‍सेस करने के लिए इसका इस्तेमाल कर रहे थे।

1 अप्रैल 2004 को Google द्वारा सार्वजनिक रूप से Gmail को लिमिटेड बीटा रिलीज के रूप में घोषित किया गया था।

नवंबर 2006 में, Google ने मोबाइल फोन के लिए एक जावा-आधारित Gmail के ऐप्‍लीकेशन की पेशकश शुरू की।

अक्तूबर 2007 में, Google ने जीमेल द्वारा उपयोग किए जाने वाले कोड के कुछ हिस्सों को पुन: लिखने की प्रक्रिया शुरू की, इससे जीमेल कि सर्विस को अधिक फास्‍ट और नए फीचर्स को एड करना संभव हुआ। इसमें किबोर्ड शॉर्टकट और विशिष्ट मैसेज को बुकमार्क करने कि क्षमता और ईमेल में सर्च जैसे कई फीचर्स को जोड़ा गया।

जनवरी 2008 के आसपास एक अपडेट ने जीमेल के जावास्क्रिप्ट के उपयोग के एलीमेंट को बदल दिया और परिणामस्वरूप कुछ यूजर्स द्वारा उपयोग किए जा रहे थर्ड पार्टी स्क्रिप्ट विफल हुए। Google इस मुद्दे को स्वीकार किया और यूजर्स को वर्कआउट करने में मदद कि।

जीमेल 7 जुलाई, 2009 को बीटा स्‍टेटस से बाहर निकला।

दिसंबर 2013 से पहले, यूजर्स को ईमेल में इमेजेस को देखने के लिए अप्रूव लेना पड़ता था, जो सुरक्षा उपायों के रूप में काम करता था। यह दिसंबर 2013 में बदल दिया गया था, जब Google, बेहतर इमेज मैनेजमेंट का हवाला देते हुए इमेजेस को यूजर अप्रूवल के बिना विजिबल करने के लिए सक्षम किया गया।

जून 2012 में, Google ने घोषणा की कि जीमेल के विश्व स्तर पर 425 मिलियन एक्टिव यूजर्स हैं। मई 2015 में, Google ने घोषणा की कि जीमेल के पास 900 मिलियन एक्टिव यूजर्स हैं, जिनमें से 75% मोबाइल डिवाइस पर इस सर्विस का उपयोग कर रहे थे। फरवरी 2016 में, Google ने घोषणा की कि जीमेल ने 1 अरब एक्टिव यूजर्स कि संख्या को पार कर दिया है। जुलाई 2017 में, Google ने घोषणा की कि जीमेल 1.2 अरब एक्टिव यूजर्स को पार कर चुका है।

जीमेल के फीचर्स कौन से हैं?

Gmail Features in Hindi:

जीमेल के फीचर्स ई-मेल को आसान और अधिक सुविधाजनक बनाते है।

1) Gmail Storage Capacity:

Gmail सर्विस लॉन्च करने के बाद, जीमेल ने प्रति यूजर 1 GB की स्‍टोरेज कैपेसिटी ऑफर की थी, जो उस समय पर के अन्य ई-मेल सर्विसेस की तुलना में काफी अधिक थी। आज, जीमेल में आपको 15 GB स्‍टोरेज कैपेसिटी मिलती है।

Gmail Storage Capacity-Gmail in Hindi

आप जीमेल में अटैचमेंट के साथ 50 MB साइज़ तक ईमेल प्राप्त कर सकते हैं। इससे अधिक बड़ी साइज़ कि फ़ाइल को भेजने के लिए आप Google Drive का इस्तेमाल कर सकते हैं।

जीमेल का इंटरफ़ेस सर्च- ओरिएंटेड और इंटरनेट फ़ोरम के समान एक “कन्वर्सेशन व्‍यू”  है।

2) Spam Filtering:

अधिकांश ईमेल सर्विसेस इन दिनों Spam फ़िल्टरिंग ऑफर करते हैं, और Google का स्पैम फ़िल्टरिंग बहुत ही इफेक्टिव है। Gmail स्पैम, वायरस और फ़िशिंग प्रयासों को फ़िल्टर करने का प्रयास करता है, लेकिन कोई भी फ़िल्टर 100% प्रभावी नहीं है।

Spam Filtering-Gmail in Hindi

Google के मेल सर्वर स्वतः स्पैम और मैलवेयर को फ़िल्टर करने और ईमेल के आगे संदर्भ-संवेदनशील विज्ञापन जोड़ने जैसे कई उद्देश्यों के लिए ईमेल स्कैन करते हैं।

3) Two-step verification:

जीमेल two-step verification को सपोर्ट करता है। यूजर्स के लॉग-इन करने के दौरान लिए एक्स्ट्रा सिक्‍युरिटी के लिए यह अतिरिक्त ऑप्‍शन हैं।

एक बार इसे एनेबल करने पर, यूजर्स को एक नए डिवाइस पर लॉगइन करते समय अपना यूजर नेम और पासवर्ड एंटर करने के बाद, अपनी पहचान वेरिफाइ करना आवश्यक हो जाएगा।

Two-step verification-Gmail in Hindi

इसमें आपके मोबाइल फोन पर एक टेक्‍स्‍ट मैसेज के माध्यम से एक कोड भेजा जाएगा, जिसे आपको अपना यूजर नेम और पासवर्ड एंटर करने के बाद एंटर करना होगा।

इस two-step verification सिक्‍युरिटी फीचर को अक्टूबर 2014 में एक विकल्प के रूप में उपलब्ध कराया गया था।

4) Search:

ईमेल सर्च करने के लिए Gmail में सर्च बार शामिल है। सर्च बार में आप अपने ई-मेल के किसी सब्‍जेक्‍ट, मैसेज के अंदर के टेक्‍स्‍ट, कॉन्‍टैक्‍ट के साथ अपने गूगल ड्राइव में स्‍टोर फ़ाइल, गूगल कैलेंडर और गूगल साइट को भी सर्च कर सकते हैं।

Search -Gmail in Hindi

मई 2012 में, जीमेल ने यूजर के ईमेल से आटो- कम्पलीट प्रिडिक्शन्स को शामिल करने के लिए सर्च की कार्यक्षमता में सुधार किया।

5) Integration With Google Hangouts:

जीमेल डेस्कटॉप स्क्रीन के बाईं ओर आपके Hangouts (पहले Google टॉक) कॉन्‍टैक्‍ट दिखाता है, ताकि आपको यह बता सकें कि अभी कौन ऑनलाइन उपलब्ध हैं। आप उनके साथ इंस्‍टेंट मैसेज, वॉइस या वीडियो कॉल कर सकते हैं।

6) Free POP and IMAP:

POP और IMAP इंटरनेट प्रोटोकॉल हैं जो अधिकांश डेस्कटॉप मेल रिडर्स मेल मैसेजेस को रिट्रीव करने के लिए उपयोग करते हैं। इसका अर्थ है कि आप अपने जीमेल अकाउंट के मेल आउटलुक या एप्पल मेल जैसे प्रोग्राम का उपयोग कर सकते हैं।

Free POP and IMAP -Gmail in Hindi

7) Offline Access:

आप अपने Gmail अकाउंट को अपनी ब्राउज़र विंडो से एक्सेस कर सकते हैं, भले ही आपका कंप्यूटर इंटरनेट से कनेक्टेड न हो। इसके लिए आपको Gmail Offline क्रोम एक्सटेंशन को इंस्टॉल करना होगा।

जीमेल के फायदे और नुकसान क्या हैं?

जीमेल के फायदे

आपका ईमेल हर जगह

आउटलुक या थंडरबर्ड जैसे पारंपरिक क्लाइंट का उपयोग करने से जीमेल का एक फायदा यह है कि आप अपने ईमेल मैसेजेज को कहीं से भी प्राप्त कर सकते हैं – वे एक कंप्यूटर पर एक हार्ड ड्राइव में लॉक नहीं होते हैं। जीमेल आईओएस और एंड्रॉइड के लिए देशी मोबाइल ऐप और चलते-फिरते देखने के लिए मोबाइल-अनुकूलित संस्करण के साथ अपनी वेब एक्सेस का पूरक है।

एडवांस सर्च और फ़िल्टर

Google की ओर से, आप अपेक्षा करेंगे कि जीमेल शीघ्र और लचीली खोज की पेशकश करे, और यही स्थिति है। आप कीवर्ड, अटैचमेंट या कॉन्टैक्ट्स की तलाश में सेकंड में कई गीगाबाइट के ईमेल की क्वेरी कर सकते हैं, और यदि आवश्यक हो तो अपनी खोजों को तिथि के अनुसार प्रतिबंधित कर सकते हैं। किसी भी एडवंस सर्च को जल्दी से एक फ़िल्टर में भी बदल दिया जा सकता है, जिससे आप अपने ईमेल को आपके इनबॉक्स में आने पर स्वचालित रूप से संसाधित कर सकते हैं।

ऑनलाइन एक्‍सेस आवश्यक

जीमेल का ऑनलाइन लोकाचार आशीर्वाद और अभिशाप दोनों हो सकता है। आपका इंटरनेट कनेक्शन बंद हो जाने पर आप अपने ईमेल को एक्‍सेस नहीं कर सकते। ऑफ़लाइन होने पर Gmail में सीमित मात्रा में क्षमता होती है, लेकिन यह आपके पिछले सभी मैसेजेज को आपकी हार्ड ड्राइव पर संग्रहीत करने जैसा नहीं है। उदाहरण के लिए, यदि आपको पिछले वर्ष के अटैचमेंट की आवश्यकता है, तो आप तब तक अटके हुए हैं जब तक आपका इंटरनेट कनेक्शन बहाल नहीं हो जाता।

जीमेल के नुकसान:

ईमेल गोपनीयता

जीमेल को एक मुफ्त सेवा के रूप में पेश किया जाता है लेकिन यह इस समझ के साथ आता है कि साइट पर आपके ईमेल और आपकी कम्‍युनिकेशन का उपयोग आपके मैसेजेज के किनारों के आसपास विज्ञापन के साथ आपको लक्षित करने के लिए किया जाता है। जबकि स्कैनिंग एक स्वचालित और अनाम प्रक्रिया है, यह व्यक्तिगत गोपनीयता के मामले में कुछ लोगों के लिए एक कदम बहुत दूर हो सकता है।

अन्य उत्पादों के साथ इंटिग्रेशन

जीमेल अन्य Google सेवाओं, जैसे कि Google+ और Google कैलेंडर के साथ मजबूती से इंटिग्रेट है (इन सेवाओं के ईमेल में जीमेल को छोड़े बिना जवाब देने के विकल्प शामिल हैं)। जीमेल इंटरफेस में एक Google चैट विजेट भी है और आप बड़े अटैचमेंट भेजने के लिए Google ड्राइव का उपयोग कर सकते हैं। यदि आप नियमित रूप से Google की अन्य सेवाओं का उपयोग करते हैं, तो आपको यह सुविधा पसंद आएगी; दूसरों के लिए, यह एक नुकसान के रूप में सामने आ सकता है।

क्या जीमेल आपके ईमेल की सुरक्षा के लिए पर्याप्त सुरक्षित है?

अगर आप सोच रहे हैं कि जीमेल हैकर्स से सुरक्षित है या नहीं, तो इसका जवाब हां है, लेकिन कुछ हद तक ही। जीमेल आपके डेटा को ट्रांसफर करते समय TLS के साथ एन्क्रिप्ट किया गया है और यह इंडस्ट्री स्टैण्डर्ड 128-बिट एन्क्रिप्शन के साथ आपके ईमेल को आराम से सुरक्षित रखता है। आपका व्यक्तिगत डेटा अपेक्षाकृत सुरक्षित है (हालाँकि कुछ भी 100% सुरक्षित नहीं है)।

हालाँकि, भले ही बाहरी लोगों के लिए आपके डेटा को इंटरसेप्ट करना कठिन बनाने के लिए Google के पास कुछ सुरक्षा सुविधाएँ हों, लेकिन याद रखें कि यह केवल हैकर्स नहीं हैं जिनके बारे में आपको चिंतित होना चाहिए। आपका ईमेल प्रोवाइडर्स गुप्त रूप से आपके ईमेल भी पढ़ रहा होगा, और Google ऐसा करते हुए पकड़ा गया है। बाद में, Google ने ऐसा करना बंद कर दिया और आपके ईमेल को स्कैन करने और आपके बारे में बहुमूल्य जानकारी एकत्र करने के लिए बॉट्स को “नियोजित” किया।

हालांकि, कुछ ही देर बाद वे फिर फिसल गए। इस बार उन्होंने अपने पार्टनर को यूजर्स के ईमेल का पूरा एक्सेस दिया। यह सिर्फ बॉट नहीं बल्कि वास्तविक इंसान थे जो बिना उनकी जानकारी के जीमेल यूजर्स के ईमेल पढ़ रहे थे। उनके सहयोगियों और Google के अनुसार, उन्हें अपने AI को प्रशिक्षित करने के लिए इस जानकारी की आवश्यकता थी।

यदि आप वास्तव में अपनी गोपनीयता की परवाह करते हैं, आप संवेदनशील जानकारी से निपटते हैं, या आप इस विचार से कांपते हैं कि कोई आपके ईमेल पढ़ रहा है, तो आपको अपने जीमेल की सुरक्षा बढ़ाने पर विचार करना चाहिए।

जीमेल की सुरक्षा कैसे सुधारें?

1) अपना जीमेल एन्क्रिप्ट करें

यह सुनिश्चित करने के लिए अपने ईमेल एन्क्रिप्ट करें कि कोई भी आपकी जासूसी नहीं कर रहा है – यहां तक ​​कि Google भी नहीं – उन्हें पढ़ सकता है। चुनने के लिए कई थर्ड-पार्टी प्लगइन्स हैं, और कुछ को दूसरों की तुलना में अधिक तकनीकी जानकारी की आवश्यकता हो सकती है।

2) मजबूत पासवर्ड का प्रयोग करें

यदि आपका पासवर्ड password123 है या ऐसा ही कुछ आसान है, तो आप मुश्किल में हैं। यदि आप इसे अपने सभी अकाउंट के लिए उपयोग करते हैं, तो यह और भी बुरा है। ज्यादातर लोग कमजोर पासवर्ड का इस्तेमाल करते हैं। उनका आसानी से अनुमान लगाया जा सकता है या पहले कई डेटा उल्लंघनों में से एक में लीक हो चुका है, जिससे हैकर्स का काम काफी आसान हो जाता है। पासवर्ड मैनेजर से मजबूत पासवर्ड बनाना और उन्हें सुरक्षित रखना सीखें।

3) 2-स्‍टेप वरिफिकेशन का उपयोग करें

सुनिश्चित करें कि आपने 2-फैक्‍टर ऑथंटिफिकेशन (2FA) एक्टिवेट किया है। 2FA के साथ, आपको अपने अकाउंट के एक्‍सेस के लिए एक पासवर्ड के साथ-साथ आपके फ़ोन पर भेजे गए एक अद्वितीय कोड की आवश्यकता होगी। यह आपकी लॉगिन प्रक्रिया में एक अतिरिक्त कदम जोड़ता है; हालांकि, इसका मतलब है कि यह आपके जीमेल खाते में सेंध लगाने के लिए दोगुना कठिन बना देगा।

4) फ़िशिंग प्रयासों को पहचानना सीखें

यदि आप अपने ईमेल एड्रेस पर भेजे गए किसी संदिग्ध लिंक या नकली URL पर क्लिक करते हैं, तो इस बात की बहुत अधिक संभावना है कि आपका उपकरण मैलवेयर से संक्रमित हो जाएगा। हालांकि, फ़िशिंग प्रयासों को पहचानना सीखना आसान है।

Phishing in Hindi – फ़िशिंग क्या हैं, इसे कैसे पहचाने और इनसे कैसे बचें

जीमेल पर अक्‍सर पुछे जाने वाले सवाल

ईमेल और जीमेल में क्या अंतर है?

ईमेल इलेक्ट्रॉनिक मेल को संदर्भित करता है। जीमेल गूगल मेल को संदर्भित करता है। यह इलेक्ट्रॉनिक मैसेज भेजने और प्राप्त करने की प्रक्रिया है जिसमें टेक्स्ट, ग्राफिक्स, चित्र या वीडियो हो सकते हैं। यह एक ऐसा प्लेटफॉर्म है जिसके माध्यम से ईमेल भेजा या प्राप्त किया जा सकता है।

आपका जीमेल अकाउंट कितना सुरक्षित है?

अगर आप सोच रहे हैं कि जीमेल हैकर्स से सुरक्षित है या नहीं, तो इसका जवाब हां है, लेकिन कुछ हद तक ही। आपके डेटा को स्थानांतरित करते समय जीमेल टीएलएस के साथ एन्क्रिप्ट किया गया है और यह उद्योग-मानक 128-बिट एन्क्रिप्शन के साथ आपके ईमेल को आराम से सुरक्षित रखता है। आपका व्यक्तिगत डेटा अपेक्षाकृत सुरक्षित है (हालाँकि कुछ भी 100% सुरक्षित नहीं है)।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.