Floating Apps: अब होगी असली मल्टीटास्किंग आपके एंड्रॉइड पर

96

Floating Apps for Android Multitasking

Floating Apps for Android Multitasking

मोबाइल डिवाइस पर, एंड्रॉइड दो ऐप्स के साथ मल्टीटास्किंग को सपोर्ट करता है जो स्प्लिट-स्क्रीन मोड में साइड-बाय-साइड या एक-के-ऊपर-दूसरा रन होता हैं। इसके अलावा, सिस्टम आपके ऐप को फ़ुल-स्क्रीन मोड में दिखाता है, जबकि अन्य एक्टिव या ओपन किए गए ऐप को बैकग्राउंड में रखता है।

यदि आप कंप्यूटर का उपयोग करते हैं, तो आपने देखा होगा की, यह डेस्कटॉप सिस्टम द्वारा ओपन किए गए कई एप्स पर अलग तरीके से काम करता है, जो एक ही समय में फ्लोटिंग विंडो या एक-दूसरे पर ओवरलैड में दिखाए जा सकते हैं, जिससे डेस्कटॉप पर मल्टीटास्किंग काफी आसान हो जाती है।

तो क्या मल्टीटास्किंग के लिए आप ऐसा ही कुछ अपने एंड्रॉइड पर करना चाहते हैं? तो अच्छी खबर यह है कि प्ले स्टोर में कई ऐप हैं जो एंड्रॉइड मोबाइल पर मल्टीटास्किंग को बढ़ा सकते हैं और ओपन किए गए ऐप्स को आपके सामने अधिक सुलभ रख सकते हैं। ऐसे ही एक उल्लेखनीय ऐप है Floating Apps

 

Floating Apps

Google Play से डाउनलोड करें:

Floating Apps (निःशुल्क)

 

Google Play से डाउनलोड करें:

Floating Apps (रुपए 240/-)

 

जब आप इसे इंस्टॉल करते हैं, तो आप उपयोग किए जाने वाले फ़्लोटिंग विंडो में अक्सर उपयोग किए जाने वाले ऐप ओपन कर सकते हैं या उन्हें फ़्लोटिंग आइकनों में resize या minimize कर सकते हैं ताकि आपको जिस ऐप पर अभी काम कर रहे हैं उसे छोड़े बिना एक से दूसरे पर स्विच करने के लिए सुविधाजनक हों ।

चाहे आपको कोई नोट जोड़ना हो, कोई कैलकुलेशन करना हो, या व्हाट्सएप मैसेज पढ़ रहे हों या वेब सर्फिंग करते समय यूट्यूब म्यूजिक सुनते रहना हो, मल्टीटास्किंग के प्रवाह को सहज और दर्द रहित बनाने के लिए यह एक जरूरी टूल हो सकता हैं।

Floating Apps, फ्लोटिंग विंडो में एक ही समय में अधिक एप्स को ओपन रखने और एंड्रॉइड मोबाइल डिवाइसेस पर एक वास्तविक मल्टीटास्किंग अनुभव प्रदान करने के लिए एक उत्कृष्ट टूल है।

Floating Apps for Android Multitasking

टूल में 40 से अधिक फ्लोटिंग ऐप जैसे नोट्स, कैलकुलेटर, कॉन्टैक्ट्स, यूट्यूब, म्यूजिक प्लेयर आदि आते हैं, जिन्हें सेट और उपयोग के लिए तैयार किया गया है। इसके अलावा, ऐप विजेट्स और URL के साथ अपने खुद के फ्लोटिंग ऐप बनाने की अनुमति देता है।

आप इस टूल के मुख्य इंटरफ़ेस से फ्लोटिंग ऐप्स तक पहुँच सकते हैं, या अधिक आसानी से किसी भी होम स्क्रीन पर स्लाइड-इन मेनू से।

इस टूल की खूबी यह है कि फ्लोटिंग एप्स को स्क्रीन पर रिसाइज और रिपोजिशन किया जा सकता है, उनके साइज और पोजिशंस को अगले ओपनिंग के लिए सेव किया जाता है। स्क्रीन स्पेस को बचाने और सिर्फ एक टैप से इसके विंडो के आकार में लौटने के लिए इन्हें फ्लोटिंग आइकन्स में भी छोटा किया जा सकता है।

Floating Apps के बीच, YouTube को हाल ही में Google के नियमों और शर्तों का पालन करने के लिए इस टूल से हटा दिया गया था। हालाँकि, इस टूल से डिफ़ॉल्ट रूप से इसका minimize बटन हटाए जाने के बाद इसे बहाल किया गया है। संभवतः, Google चाहता है कि आप YouTube को बिना minimize किए इसके विज्ञापन देखें। इस तरह से, टूल आपको यूआरएल या विजेट के साथ अपने स्वयं के फ्लोटिंग एप्लिकेशन बनाने की अनुमति देता है।

चूंकि एंड्रॉइड में विंडोज जैसा टास्कबार नहीं है, इसलिए फ्लोटिंग एप्स में एक एक्टिव विंडोज आइकन शामिल होता है जो सभी ओपन और मिनिमाइज एप्स को एक ही स्थान पर सूचीबद्ध करता है।

इस टूल का मुफ्त संस्करण फ़ुल-स्क्रीन विज्ञापनों द्वारा समर्थित है जो कभी-कभी फ़्लोटिंग ऐप को एक्‍सेस करने पर दिखाई देते हैं। पेड़ वर्शन में आपको विज्ञापन नहीं दिखाई देंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.