Ethernet Hindi में! इथनेट क्‍या हैं? इथनेट लैन का फंडामेंटल

Ethernet Hindi.

Ethernet Hindi

Ethernet वह तकनीक है जो आमतौर पर वायर्ड लोकल एरिया नेटवर्क (LAN) में उपयोग की जाती है। LAN कंप्यूटर और अन्य इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसेस का एक नेटवर्क है जो एक कमरे, ऑफिस या बिल्डिंग जैसे छोटे एरिया को कवर करता है।

इसका उपयोग Wide Area Network (WAN) के विपरीत किया जाता है, जो बहुत बड़े भौगोलिक क्षेत्र पर फैलता है।

Ethernet एक नेटवर्क प्रोटोकॉल है, जो यह कंट्रोल करता है कि LAN पर डेटा कैसे ट्रांसमिट किया जाए। तकनीकी रूप से इसे IEEE 802.3 प्रोटोकॉल के रूप में जाना जाता है।

यह प्रोटोकॉल प्रति सेकंड एक गिगाबिट की स्‍पीड से डेटा ट्रांसफर करने के लिए समय के साथ विकसित और सुधार हुआ है।

कई लोगों ने अपने पूरे जीवन में Ethernet टेक्‍नोलॉजी का उपयोग इसे बिना जाने ही किया है। इस बात की सबसे अधिक संभावना है कि आपके ऑफिस में, बैंक में और घर पर कोई भी वायर्ड नेटवर्क ईथरनेट लैन है।

अधिकांश डेस्कटॉप और लैपटॉप कंप्यूटर एक इंटिग्रेटेड ईथरनेट कार्ड के साथ आते हैं ताकि वे ईथरनेट लैन से कनेक्ट होने के लिए तैयार हों।

 

Ethernet in Hindi:

1973 में, Xerox Corporation के पालो Palo Alto Research Center (आमतौर पर PARC के रूप में जाना जाता है) में, शोधकर्ता बॉब मेटकाल्फ ने पहले Ethernet नेटवर्क का डिजाइन और परीक्षण किया।

जेरोक्स के “अल्टो” कंप्यूटर को एक प्रिंटर से जोड़ने के तरीके पर काम करते हुए, मेटकाल्फ ने ईथरनेट पर कनेक्टेड डिवाइस के साथ-साथ केबल पर कम्युनिकेशन को कंट्रोल करने वाले स्‍टैंडर्ड को केबलींग करने की फिजिकल मेथड डेवलप की।

ईथरनेट तब से दुनिया में सबसे लोकप्रिय और सबसे व्यापक रूप से नेटवर्क टेक्‍नोलॉजी बन गया है।

ईथरनेट स्‍टैंडर्ड नई टेक्नोलॉजीज को शामिल करने के लिए उभरा है क्योंकि कंप्यूटर नेटवर्किंग परिपक्व हो गई है, लेकिन हर ईथरनेट नेटवर्क के लिए ऑपरेशन के मैकेनिक्स आज मेटकाल्फ के मूल डिजाइन से ही बने हैं।

मूल ईथरनेट ने नेटवर्क पर सभी डिवाइसेस द्वारा शेयर किए गए एक केबल पर कम्‍युनिकेशन को डिस्‍क्राइब किया। एक बार इस केबल से डिवाइस कनेक्‍ट होने पर, इसमें किसी भी अन्य अटैच डिवाइस के साथ कम्‍युनिकेट करने की क्षमता होती हैं।

यह नेटवर्क पर पहले से ही मौजूद डिवाइसेस को मॉडिफिकेशन किए बिना समा लेने के लिए नेटवर्क का विस्तार करने की अनुमति देता है।

 

What is Ethernet in Hindi:

ईथरनेट क्या है:

Ethernet Meaning In Computer

Ethernet लोकल एरिया नेटवर्क (LAN) में उपयोग की जाने वाली एक नेटवर्किंग टेक्नोलॉजीज और सिस्‍टम की एक श्रृंखला है, जहां कंप्यूटर प्राथमिक फिजिकल स्‍पेस के भीतर कनेक्‍टेड होते हैं।

Ethernet कम्युनिकेशन का उपयोग करने वाले सिस्टम डेटा स्ट्रीम को पैकेट में विभाजित करते हैं, जिन्हें फ्रेम के रूप में जाना जाता है। फ्रेम्स में सोर्स और डेस्‍टीनेशन एड्रेस इनफॉर्मेशन होती हैं। साथ ही इसमें ट्रांसमिटेड डेटा और रिट्रांसमिशन रिक्‍वेस्‍ट के एरर का पता लगाने के लिए उपयोग की जाने वाला मैकेनिजम शामिल हैं।

 

Ethernet Terminology in Hindi:

Ethernet नियमों के एक साधारण सेट का पालन करता है जो इसके बेसिक ऑपरेशन को कंट्रोल करता है। इन नियमों को बेहतर ढंग से समझने के लिए, ईथरनेट टर्मिनोलॉजी के बेसिक को समझना महत्वपूर्ण है।

Medium – ईथरनेट डिवाइस एक कॉमन मीडियम से अटैच होते हैं जो एक पथ प्रदान करता है जिसके साथ इलेक्ट्रॉनिक सिग्नल ट्रैवल करेंगे।

ऐतिहासिक रूप से, यह मीडियम Coaxial Copper केबल होती है, लेकिन आज यह आमतौर पर एक Twisted Pair या Fiber Optic केबलिंग है।

Segment – इसे हम एक सिंगल शेयर मीडियम को ईथरनेट सेगमेंट के रूप में देखते हैं।

Node – उस सेगमेंट से अटैच डिवाइस, जो स्टेशन या नोड्स हैं। नोड्स कंप्यूटर, राउटर, और अन्य जैसे डिवइसेस हैं जो ईथरनेट के माध्यम से कम्‍युनिकेट करते हैं।

Frame – नोड्स शॉर्ट मैसेज में कम्‍युनिकेट करते हैं, जिसे फ़्रेम कहा जाता हैं। जो इनफॉर्मेशन के विभिन्न आकार के होते हैं।

फ्रेम्स मानव भाषा में वाक्यों के समान हैं। हिंदी में, हमारे पास हमारे वाक्य बनाने के लिए नियम हैं: हम जानते हैं कि प्रत्येक वाक्य में एक विषय और विशेषण होना चाहिए।

ईथरनेट प्रोटोकॉल फ्रेम बनाने के लिए नियमों का एक सेट निर्दिष्ट करता है। फ्रेम के लिए स्पष्ट न्यूनतम और अधिकतम लंबाई हैं, और इनफॉर्मेशन के आवश्यक टुकड़ों का एक सेट जो फ्रेम में दिखाई देना चाहिए।

प्रत्येक फ्रेम में, उदाहरण के लिए, एक डेस्टिनेशन एड्रेस और एक सोर्स एड्रेस दोनों शामिल होने चाहिए, जो मैसेज के रेसिपिएंट और सेंडर की पहचान करता है।

एड्रेस विशिष्ट रूप से नोड की पहचान करता है, जैसे कि एक नाम किसी विशेष व्यक्ति की पहचान करता है। दो ईथरनेट डिवाइसों का कभी भी एक ही एड्रेस नहीं होना चाहिए।

 

How Ethernet Works in Hindi:

वायर्ड कनेक्शन पर कंप्यूटर, राउटर और प्रिंटर जैसे डिवाइसेस को कनेक्‍ट करने का स्‍टैंडर्ड तरीका ईथरनेट है।

ईथरनेट में, डिवाइस प्रतीक्षा करते हैं और नेटवर्क में कम्‍युनिकेशन करने के लिए फ्री टाइम स्लॉट की तलाश करते हैं।

जब मीडियम पर डेटा ट्रांसमिट करने वाला कोई डिवाइस नहीं होता, तो प्रतीक्षा करने वाला डिवाइस डेटा ट्रांसमिट करने का अवसर लेता है।

चूंकि ईथरनेट मीडियम पर एक सिग्‍नल प्रत्येक अटैच नोड तक पहुंचता है, इसलिए डेस्टिनेशन एड्रेस फ्रेम के इच्छित रेसिपिएंट की पहचान करने के लिए महत्वपूर्ण है।

 

Ethernet Hindi

उदाहरण के लिए, ऊपर दिए गए इमेज में, जब कंप्यूटर A प्रिंटर D पर ट्रांसमिट करता है, तो कंप्यूटर B और C भी इस फ्रेम प्राप्त करेंगे और चेक करेंगे।

हालांकि, जब किसी स्टेशन पर फ्रेम प्राप्त होता है, तो पहले यह इसके डेस्टिनेशन एड्रेस को चेक करता है कि यह फ्रेम स्वयं के लिए है या नहीं। यदि ऐसा नहीं है, तो स्टेशन इसके कंटेंट को चेक किए बिना ही फ्रेम को त्याग देता है।

ईथरनेट एड्रेसिंग के बारे में एक दिलचस्प बात इसका ब्रॉडकास्ट एड्रेस का इम्प्लीमेंटेशन है।

फ्रेम के डेस्टिनेशन एड्रेस उसके ब्रॉडकास्ट एड्रेस के बराबर होते हैं और वे नेटवर्क पर प्रत्येक नोड के लिए होते है, और प्रत्येक नोड इस प्रकार के फ्रेम को प्राप्त और प्रोसेस करता हैं।

CSMA/CD सबसे व्यापक रूप से इस्तेमाल ईथरनेट प्रोटोकॉल है। इस प्रोटोकॉल का discarded, lost, या corrupted पैकेट को हैंडल करना है।

जैसा कि पहले उल्लेख किया गया है, ईथरनेट में, नेटवर्क डिवाइस नेटवर्क पर मैसेज (फ्रेम) को ट्रांसमिट करने के लिए मुक्त पथ की प्रतीक्षा करते हैं। यदि दो डिवाइस एक ही समय में मैसेज को ट्रांसमिट करते हैं, तो collision होता है और मैसेज (फ्रेम) discarded किया जाता है।

CSMA/CD प्रोटोकॉल का उपयोग इस तरह के collision से डेटा लॉस्‍ट को रोकने के लिए किया जाता है।

ईथरनेट डिवाइस बैकवर्ड कम्पेटिबल हैं। उदाहरण के लिए, 10BASE-T नेटवर्क इंटरफ़ेस कार्ड (NIC) वाला कंप्यूटर डिवाइस 100BASE-T माध्यम से कनेक्ट होता है, कम्युनिकेशन 10 Mbps स्‍पीड पर किया जाता है।

इसी प्रकार, जब 100BASE-T NIC वाला नेटवर्क डिवाइस 1000BASE-T माध्यम से कनेक्ट होता है, तो कम्युनिकेशन स्‍पीड 100 Mbps तक सीमित होती है।

Limitations of Ethernet:

एक ही शेयर्ड केबल एक पूर्ण ईथरनेट नेटवर्क के आधार के रूप में कार्य कर सकती है, जैसे हमने ऊपर चर्चा की है। हालांकि, इस मामले में हमारे ईथरनेट नेटवर्क कि साइज के लिए कुछ व्यावहारिक सीमाएं हैं। पहली चिंता शेयर्ड केबल की लंबाई है।

विद्युत सिग्‍नल केबल के साथ बहुत जल्दी प्रसारित होते हैं, लेकिन वे ट्रैवल करते समय कमजोर होते जाते हैं। इसके साथ ही पड़ोसी डिवाइसेस (उदाहरण के लिए फ्लोरोसेंट लाइट) के इलेक्ट्रिक हस्तक्षेप सिग्नल को भंग कर सकते हैं।

एक नेटवर्क केबल इतनी छोटी होना चाहिए कि दोनों छोर के डिवाइस एक दूसरे के सिग्नल स्पष्ट रूप से और न्यूनतम देरी में प्राप्त कर सके।

यह ईथरनेट नेटवर्क पर दो डिवाइसेस के बीच अधिकतम दूरी (नेटवर्क व्यास) कि लिमिटेशन रखता है।

इसके साथ ही, चूंकि CSMA/CD में केवल एक ही डिवाइस किसी दिए गए समय पर ट्रांसमिट हो सकता है, ऐसे डिवाइसेस की संख्या के लिए व्यावहारिक सीमाएं हैं जो एक नेटवर्क में हो सकती हैं।

नेटवर्क में बहुत ज्यादा डिवाइसेस होने पर ट्रांसमिशन में collision हो सकता हैं और ट्रांसमिशन करने का मौका मिलने से पहले हर डिवाइस को एक असाधारण लंबे समय तक इंतजार करना पड़ सकता है।

 

Ethernet Standards in Hindi:

ईथरनेट मूल रूप से 10 Mb/s की डेटा ट्रांसमिशन रेट के साथ IEEE 802.3 के रूप में स्टैन्डर्डाइज़्ड किया गया था। हाई डेटा रेट की ऑफर के लिए हाल ही में ईथरनेट के नए वर्जन पेश किए गए।

फास्ट ईथरनेट और गीगाबिट ईथरनेट क्रमशः 100 Mbps और 1 Gbps (1000 Mbps) के डेटा रेट को सपोर्ट करते हैं।

एक ईथरनेट लैन coaxial केबल (10Base2), Unshielded Twisted Pair केबल (10BaseT, 100BaseT and 1000BaseT), या फाइबर ऑप्टिक केबल का उपयोग कर सकता है।

ईथरनेट डिवाइस Collision Detection (CSMA/CD)के साथ कैरियर सेंस मल्टीपल एक्सेस नामक प्रोटोकॉल का उपयोग करके नेटवर्क एक्‍सेस के लिए प्रतिस्पर्धा करते हैं।

इंटरनेट, वाई-फाई, IEEE 802.11 द्वारा स्टैन्डर्डाइज़्ड वायरलेस लैन टेक्‍नोलॉजी की समृद्धि के साथ पोर्टेबिलिटी प्रदान करने के लिए इथरनेट लैन के साथ हाइब्रिड में प्रयोग किया जाता है।

 

Types of Ethernet Networks in Hindi:

Types of Ethernet In Hindi

कई प्रकार के ईथरनेट नेटवर्क हैं, जैसे फास्ट ईथरनेट, गिगाबिट ईथरनेट, और स्विच ईथरनेट। एक नेटवर्क एक साथ कनेक्‍ट दो या दो से अधिक कंप्यूटर सिस्टम का एक ग्रुप है।

 

1) Fast Ethernet:

इसमें twisted-pair cable या fiber-optic cable का इस्तेमाल होता हैं।

फास्ट ईथरनेट नेटवर्क में twisted-pair cable या fiber-optic cable का उपयोग करके 100 Mbps की दर से डेटा ट्रांसफर हो सकता है।

पुराने 10 Mbps ईथरनेट का अभी भी उपयोग किया जाता है, लेकिन ऐसे नेटवर्क कुछ नेटवर्क-बेस वीडियो ऐप्‍लीकेशन के लिए आवश्यक बैंडविड्थ प्रदान नहीं करते।

फास्ट ईथरनेट CSMA/CD Media Access Control (MAC) प्रोटोकॉल पर आधारित है, और मौजूदा 10BaseT केबलिंग का उपयोग करता है। डेटा किसी भी प्रोटोकॉल ट्रांसमिशन या एप्लिकेशन और नेटवर्किंग सॉफ्टवेयर में परिवर्तन किए बिना 10 Mbps से 100 Mbps तक जा सकता है।

 

2) Gigabit Ethernet

गीगाबिट ईथरनेट नेटवर्क का यह टाइप twisted-pair या fiber optic केबल पर 1000 Mbps की दर से डेटा ट्रांसफर करने में सक्षम है, और यह बहुत लोकप्रिय है।

गिगाबिट ईथरनेट को सपोर्ट करने वाले twisted-pair केबल्स का टाइप Cat 6 केबल है, जहां केबल के ट्विस्टेड वायर के सभी चार जोड़े हाई डेटा ट्रांसफर रेट को प्राप्त करने के लिए उपयोग किए जाते हैं।

10 Gigabit Ethernet एक लेटेस्‍ट जनरेशन ईथरनेट हैं जो twisted-pair या fiber optic केबल का उपयोग करके 10 Gbps की दर से डेटा ट्रांसफर करने में सक्षम है।

 

3) Switch Ethernet:

लैन में कई नेटवर्क डिवाइसेस को नेटवर्क स्विच या हब जैसे नेटवर्क डिवाइसेस की आवश्यकता होती है। नेटवर्क स्विच का उपयोग करते समय, एक क्रॉसओवर केबल के बजाय एक नियमित नेटवर्क केबल का उपयोग किया जाता है। क्रॉसओवर केबल में एक छोर पर ट्रांसमिशन पेयर होती है और दूसरी तरफ एक रिसिविंग पेयर होती है।

नेटवर्क स्विच का मुख्य कार्य उसी नेटवर्क पर एक डिवाइस से दूसरे डिवाइस तक डेटा को फॉरवर्ड करना है।

 

Different Types of Ethernet Cables:

ईथरनेट टेक्‍नोलॉजी के विभिन्न प्रकारों को नीचे दिए गए केबल्स के टाइप और diameter के अनुसार नामित किया गया है:

10Base2: एक पतली coaxial केबल का इस्तेमाल होता है: thin Ethernet

10Base5: एक मोटी coaxial केबल का इस्तेमाल होता है: thick Ethernet

10Base-T: Twisted-pair का इस्तेमाल किया जाता हैं और प्राप्त स्‍पीड लगभग 10 Mbps है।

100Base-FX: मल्टीमोड फाइबर ऑप्टिक का उपयोग करके 100 Mbps की स्‍पीड प्राप्त करना संभव बनाता है।

100Base-TX: 10Base-T के समान, लेकिन 10 गुना अधिक (100 Mbps) की स्‍पीड के साथ।

1000Base-T: कटैगरी 5 केबल्स की एक डबल-ट्विस्ट जोड़ी का उपयोग करता है और प्रति सेकंड एक गिगाबिट तक की स्‍पीड देता है।

1000Base-SX: मल्टीमोड फाइबर ऑप्टिक के आधार पर 850 नैनोमीटर (770 से 860 nm) के एक शॉर्ट wavelength signal का उपयोग करता है।

1000Base-LX: मल्टीमोड फाइबर ऑप्टिक के आधार पर 1350 nm (1270 से 1355 nm) के लंबे wavelength signal का उपयोग करता है। ईथरनेट व्यापक रूप से उपयोग की जाने वाली नेटवर्क तकनीक है क्योंकि ऐसे नेटवर्क की लागत बहुत अधिक नहीं है।

 

Ethernet Hindi.

Ethernet Hindi, Ethernet in Hindi.

सारांश
आर्टिकल का नाम
Ethernet in Hindi
लेखक की रेटिंग
51star1star1star1star1star