10 कंप्यूटर की विशेषताएं! अभी जान ले तो बेहतर होगा

Characteristics Of Computer In Hindi

Characteristics Of Computer In Hindi

Characteristics Of Computer In Hindi

कंप्यूटर हमारे जीवन का हिस्सा बन गए हैं। हम अपने स्कूल में, घर पर, कार्यालय में, दैनिक आधार पर कंप्यूटर का उपयोग करते हैं। हम कंप्यूटर पर इतने आश्रित क्यों हैं? क्योंकि उन्होंने हमारे जीवन को आसान बना दिया है, वे हमें मनोरंजन प्रदान करते हैं, वे हमारे मूल्यवान डेटा को स्टोर कर सकते हैं, जब तक हम इसे रखना चाहते हैं, तब तक । कंप्यूटर की कुछ मुख्य निम्नलिखित विशेषताएं हैं।

 

Capabilities Of Computer In Hindi

कंप्यूटर सिस्टम की क्षमता, कंप्यूटर के गुण हैं जो इसपर सकारात्मक प्रकाश डालते हैं और यूजर एक्‍सपिरियंस को और अधिक कुशल बनाते हैं।

 

Computer Ki Visheshtaen in Hindi

कंप्यूटर की विशेषताएं

1) Speed:

जैसा कि आप जानते हैं कि कंप्यूटर बहुत तेजी से काम कर सकता है। कॅल्क्युलेशन्स के लिए केवल कुछ सेकंड लगते हैं जिन्हें पूरा करने में हमें घंटों लगते हैं। मान लीजिए कि आपको अपने पड़ोस में एक हजार लोगों की औसत मासिक आय की गणना करने के लिए कहा गया है। इसके लिए आपको सभी व्यक्तियों के लिए दिन के आधार पर सभी स्रोतों से आय को जोड़ना होगा और उनमें से प्रत्येक के लिए औसत का पता लगाना होगा। ऐसा करने में आपको कितना समय लगेगा? एक दिन, दो दिन या एक सप्ताह? क्या आप जानते हैं कि आपका छोटा कंप्यूटर इस काम को कुछ सेकंड में पूरा कर सकता है? मौसम का पूर्वानुमान जो आप हर दिन टीवी पर देखते हैं, यह कंप्यूटर पर विभिन्न स्थानों के तापमान, आर्द्रता, दबाव आदि पर डेटा की भारी मात्रा के संकलन और विश्लेषण का परिणाम है। कंप्यूटर को डेटा की इस बड़ी राशि को संसाधित करने और परिणाम देने में कुछ मिनट लगते हैं।

आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि कंप्यूटर लाखों (1,000,000) निर्देशों का प्रदर्शन कर सकता है और प्रति सेकंड इससे भी अधिक कर सकता है। इसलिए, हम माइक्रोसेकंड (एक सेकंड का 10-6 हिस्सा) या नैनो-सेकंड (एक सेकंड का 10-9 हिस्सा) के संदर्भ में कंप्यूटर की गति निर्धारित करते हैं। इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं कि आपका कंप्यूटर कितनी तेजी से काम करता है।

स्‍पीड कंप्यूटर की मुख्य विशेषता में से एक है। कंप्यूटर एक सेकंड में अरबों कैल्क्युलेशन्स कर सकता है। कंप्यूटर की स्‍पीड को Mega Hertz (MHz) या Gega Hertz (GHz) में मापा जाता है। उदाहरण के लिए, यदि कोई मनुष्य 639 x 913 कैल्क्युलेशन्स करता है तो उसे यह करने में कुछ मिनट लग सकते हैं, लेकिन कंप्यूटर सेकंड के अंश में ऐसे लाखों कैल्क्युलेशन्स कर सकता है।

कंप्यूटर की स्‍पीड को एक कार्य करने के लिए कंप्यूटर द्वारा लिया गया समय के रूप में परिभाषित किया गया जाता हैं। कैल्क्युलेशन्स के लिए केवल कुछ सेकंड लगते हैं जिन्हें हमें हल करने में घंटों लगते हैं। यह सेकंड के अंश में काम करता है। अधिकांश कंप्यूटर माइक्रो और नैनो सेकंड में काम करते हैं। इसकी स्‍पीड MHz (Mega Hertz) और GMZ (Giga Hertz) की अवधि में मापी जाती है।

 

2) Accuracy:

कंप्यूटर बहुत फास्‍ट ऑपरेशन्‍स परफॉर्म कर सकते हैं और डेटा को फास्‍ट प्रोसेस कर सकते हैं, लेकिन सटीक परिणामों के साथ और कोई एरर नहीं। परिणाम गलत हो सकते हैं यदि गलत डेटा कंप्यूटर को फिड किया जाता है या एक बग एरर का कारण हो सकता है।

कंप्यूटर एक्यूरेट मशीन हैं जो एरर के बिना बड़ी संख्या में कार्य कर सकती हैं, लेकिन यदि हम कंप्यूटर पर गलत डेटा फिड करते हैं तो यह गलत रिजल्‍ट देता हैं, जिसे GIGO (कचरा इन-कचरा आउट) कहा जाता हैं।

कंप्यूटर में एक्यूरेसी की डिग्री बहुत अधिक है और प्रत्येक कैल्क्युलेशन्स समान एक्यूरेसी के साथ किया जाता है। एक्यूरेसी लेवल कंप्यूटर के डिजाइन के आधार पर निर्धारित किया जाता है। कंप्यूटर में एरर मनुष्य की गलती और गलत डेटा के कारण होते हैं।

 

3) Diligence:

थके बिना दोहराए जाने वाले कार्य करने के कंप्यूटर की क्षमता को डिलिजेंस कहा जाता है। कंप्यूटर थकावट, एकाग्रता की कमी, थकान आदि से मुक्त है इसलिए यह बिना किसी एरर के घंटों तक काम कर सकता है। यहां तक ​​कि यदि लाखों कैल्क्युलेशन्स को करना होता हैं, तब भी कंप्यूटर प्रत्येक कैल्क्युलेशन्स को एक्यूरेसी के साथ करेगा।

 

4) Versatility:

कंप्यूटर एक वर्सटाइल मशीन है। वे विभिन्न क्षेत्रों में उपयोग किया जाता है। स्कूलों और कॉलेजों में, अस्पतालों में, सरकारी ऑर्गनाइज़ेशन में और घरों में मनोरंजन और कार्य उद्देश्यों के लिए उनका उपयोग किया जाता है।

एक ही समय में एक से अधिक कार्य करने के कंप्यूटर की क्षमता को कंप्यूटर की बहुमुखी प्रतिभा कहा जाता है। बहुमुखी प्रतिभा का मतलब है कि विभिन्न प्रकार के काम पूरी तरह से करने की क्षमता है।

 

5) Storage:

कंप्यूटर में बड़े पैमाने पर स्‍टोरेज सेक्‍शन है जहां हम भविष्य के उपयोग के लिए बड़ी मात्रा में डेटा स्टोर कर सकते हैं। आवश्यकता होने पर इस तरह के डेटा को आसानी से एक्‍सेस किया जा सकता हैं। हार्ड डिस्क, मैग्‍नेटिक टेप और ऑप्टिकल डिस्क का उपयोग बड़े पैमाने पर स्‍टोरेज डिवाइसेस के रूप में किया जाता है। कंप्यूटर की स्टोरेज क्षमता को Kilobyte (KB), Megabyte (MB), Gigabyte (GB), and Terabyte (TB) में मापा जाता है।

 

6) Automatic:

कंप्यूटर एक आटोमेटिक मशीन है जो यूजर्स के हस्तक्षेप के बिना काम करती है। यूजर्स को डेटा देना और परिणाम का उपयोग करना आवश्यक है लेकिन प्रोसेस आटोमेटिक होती है।

 

7) Processing:

प्रोसेसिंग के दौरान बडी मात्रा में डेटा को प्रोसेस किया जा सकता है। वहां इनपुट और आउट ऑपरेशन लॉजिकल है। तुलना ऑपरेशन, टेक्स्ट मैनिपुलेशन ऑपरेशन जैसे अलग प्रकार के ऑपरेशन इत्‍यादी होते है।

 

8) Non-intelligent:

कंप्यूटर एक डंब मशीन है जो यूजर्स के इंस्‍ट्रक्‍शन के बिना कोई काम नहीं कर सकता। इंस्‍ट्रक्‍शन जबरदस्त स्‍पीड और एक्‍युरेसी के साथ किया जाता है। कंप्यूटर अपना निर्णय नहीं ले सकता और इसमें फिलिग या इमोशन, स्वाद, ज्ञान और अनुभव आदि नहीं होते।

 

9) Communicate:

कंप्यूटर में कम्‍यूनिकेट करने की क्षमता होती है, लेकिन निश्चित रूप से इसके लिए कुछ प्रकार के कनेक्शन की आवश्यकता होती है। (या तो वायर्ड या वायरलेस कनेक्शन)। डेटा भेजने और प्राप्त करने के लिए दो कंप्यूटर कनेक्‍ट किए जा सकते हैं। टेक्स्ट और वीडियो चैट के लिए विशेष सॉफ्टवेयर का उपयोग किया जाता है। मित्र और परिवार इंटरनेट से कनेक्ट हो सकते हैं और ऑनलाइन फाइलें, फोटो और वीडियो फाइलें शेयर कर सकते हैं।

 

10) Multitasking:

मल्टीटास्किंग भी एक कंप्यूटर विशेषता है। कंप्यूटर एक समय में कई टास्‍क कर सकता  हैं। उदाहरण के लिए आप गाने सुन सकते हैं, फिल्में डाउनलोड कर सकते हैं, और एक ही समय में वर्ड डयॉक्‍यूमेंट तैयार कर सकते हैं।

 

Limitations of Computer Systems in Hindi

पहला कंप्यूटर ENIAC (Electronic Numerical Integrator and Computer) था। इसका आकार लगभग 1,800 वर्ग फुट का था। हालांकि यह उन समय के दौरान बहुत उपयोगी था, यह बहुत ही कुशल नहीं था। यह लगभग 50 टन वजन था। तब से कंप्यूटर बहुत विकसित हुए हैं, लेकिन जैसे ही प्रत्येक सिक्के के दो पहलू होते हैं। तो वैसे ही कंप्यूटर सिस्टम की क्षमताएँ और सीमाएं। आइए उन्हें और अधिक स्पष्ट रूप से समझें।

सीमाएं कंप्यूटर सिस्टम की कमी हैं, जहां पर मनुष्य उनसे बेहतर प्रदर्शन करते हैं।

 

Lack of common-sense

यह कंप्यूटर सिस्टम की प्रमुख लिमिटेशंस में से एक है। कोई फर्क नहीं पड़ता कि कितना कुशल, तेज़ और भरोसेमंद कंप्यूटर सिस्टम हो सकता है लेकिन अभी तक कोई सामान्य ज्ञान नहीं है क्योंकि कोई पूर्ण-प्रमाणित एल्गोरिदम प्रोग्राम में तर्क के लिए डिज़ाइन नहीं किया गया है। चूंकि कंप्यूटर स्‍टोर प्रोग्राम के आधार पर कार्य करता है, इसलिए उन्हें सामान्य ज्ञान की कमी होती है।

 

Lack of Decision-making

निर्णय लेने की एक जटिल प्रक्रिया है जिसमें सूचना, ज्ञान, बुद्धि, ज्ञान और न्याय करने की क्षमता शामिल है। कंप्यूटर सिस्टम में अपने फैसले लेने की क्षमता नहीं है क्योंकि उनके पास निर्णय लेने के सभी आवश्यक अधिकार नहीं हैं।

उन्हें ऐसे निर्णय लेने के लिए प्रोग्राम किया जा सकता है, जो पूरी तरह से प्रक्रिया उन्मुख हैं। यदि किसी कंप्यूटर को किसी विशेष निर्णय स्थिति के लिए प्रोग्राम नहीं किया गया है, तो यह ज्ञान और मूल्यांकन क्षमता की कमी के कारण निर्णय नहीं लेगा। दूसरी ओर, मनुष्यों के पास निर्णय लेने की इस महान शक्ति का अधिकार है।

 

Characteristics Of Computer Hindi.

Characteristics Of Computer Hindi, Characteristics Of Computer In Hindi, Computer Ki Visheshta In Hindi, कंप्यूटर की विशेषताएं