क्या आपके पीछे कोई आपकी फाइलों को एक्‍सेस कर रहा हैं? तो कैनरी आपको बताएगा

546

Canarytokens Tells When Anyone Open File Hindi

क्या आप इस बात से चिंतित रहते हैं कि कोई आपके पीछे आपके पीसी पर किसी फोल्‍डर को ओपन करता हैं? या वह वेब साइट ओपन करता हैं, जो आप नहीं चाहते? या किसी वर्ड या पीडीएफ फाइल को ओपन करता हैं?

इन सभी सवालों का आपका जवाब शायद “मैं आशा नहीं करता” ऐसा हो सकता हैं। लेकिन आप निश्चित रूप से सुनिश्चित नहीं हो सकते हैं। और यही वह जगह है जहां Canarytokens आपके काम आता है।

 

Canarytokens:

यदि आप प्रारंभिक वॉर्निंग सिस्‍टम के रूप में कैनरी के आइडिया से परिचित नहीं हैं, तो इसकी उत्पत्ति कोयला खनन में हुई थी। खनिक एक पिंजरे में एक छोटी पक्षी (आमतौर पर एक कैनरी) ले जाया करते थे। यदि वह खदान खतरनाक गैसों से भर जाती थी, और एक विस्फोट या दम घुटने वाली स्थिति बन जाती थी, तो कैनरी जल्दी मर जाती थी। इसने खनिकों को चेतावनी मिल जाती थी और उन्हें सुरक्षा से एरीया से बाहर निकलने का समय मिल जाता था।

आजकल, निश्चित रूप से, इलेक्ट्रॉनिक डिटेक्टरों का उपयोग पिंजड़े में बंद पक्षियों के स्थान पर किया जाता है, लेकिन नाम अभी भी वही हैं।

जब भी कोई आपके पीसी पर एक वेब यूआरएल, ईमेल एड्रेस, डयॉक्‍युमेंट फ़ाइल, पीडीएफ फ़ाइल या फ़ोल्‍डर को एक्‍सेस करता हैं तो यह एक्‍शन तुरंत canary token को ट्रिगर करेगा।

सर्वर तब कैनरी टोकन के मालिक को एक ई-मेल से सूचित करेगा कि किसी ने इसे एक्सेस करने का प्रयास किया था।

तो यह उपयोगी क्यों है? कल्पना कीजिए कि आप अपनी फाइलें ड्रॉपबॉक्स पर रखते हैं। आपको संदेह है कि किसी और ने आपके पासवर्ड का अनुमान लगाया है और आपकी फाइलें देख रहा है, लेकिन आप इसे साबित नहीं कर सकते हैं। वर्ड डयॉक्‍युमेंट के रूप में एक कैनरी टोकन बनाएं और इसे अपने ड्रॉपबॉक्स फ़ोल्डर में रख दें। अगर कोई उस फ़ाइल को एक्‍सेस करता है, तो आपको उस व्यक्ति के IP Address के साथ एक ईमेल प्राप्त होगा जिसने इसे एक्सेस करने का प्रयास किया था।

समान रूप से, यदि आपके पास अपनी वेबसाइट का पासवर्ड-सुरक्षित एरिया है जो केवल आपके निजी उपयोग के लिए है, तो वहां एक कैनरी टोकन HTML फ़ाइल डालें। अगर कोई उस पेज को एक्‍सेस करने का प्रयास करता है, तो आपको अधिसूचित किया जाएगा। और यदि आपके पास ईमेल एड्रेस का डेटाबेस है, तो एक ईमेल एड्रेस बनाएं जो वास्तव में एक कैनरी टोकन है और इसे अपने डेटाबेस में एड करें। अगर कोई डेटाबेस को चुरा लेता है और उस कैनरी एड्रेस पर ईमेल भेजने का प्रयास करता है, तो आप जान पाएंगे।

सही हैं?

 

टोकन प्राप्त करने के लिए:

कैनरी टोकन बनाना वास्तव में आसान, मजेदार और मुफ्त है।

इस साइट पर जाएँ

http://canarytokens.org

Canarytokens Tells When Anyone Open File Hindi

सबसे पहले अपना टोकन सिलेक्‍ट करें।

अपना ईमेल एड्रेस एंटर करें। (यह केवल टोकन ट्रिगर होने पर आपको सूचित करने के लिए उपयोग किया जाता है, किसी अन्य उद्देश्य के लिए इस मेल का उपयोग नहीं किया जाता।)

Canarytokens Tells When Anyone Open File Hindi

अब यह टोकन कब ट्रिगर होना चाहिए वह सिलेक्‍ट करें। उदाहरण के लिए यदि आपने ऊपर फ़ोल्‍डर एक्‍सेस होने पर ट्रिगर होने के लिए चुना हैं, तो यहां पर उस फ़ोल्‍डर को पाथ एंटर करें और यदि वेब साइट के लिए चुना हैं तो उस Web URL को एंटर करें।

अपना टोकन प्राप्त करने के लिए Generate Token पर क्लिक करें।

फिर इसे डाउनलोड करें।

इस फ़ाइल को फ़ोल्डर में अनजिप करें। टोकन की इस कॉपी को अपने पीसी पर कहीं पर भी सेव करें।

अब बस ट्रिगर होने की प्रतीक्षा करें, इस पॉइंट पर आपको एक ईमेल प्राप्त होगा।

Canarytokens Tells When Anyone Open File Hindi

 

यदि मौजूद है, तो अलर्ट में ब्राउजिंग करने वाले यूजर का नेटवर्क डोमेन और यूजरनेम शामिल होगा।

 

Canarytokens Tells When Anyone Open File Hindi.

Canarytokens Tells When Anyone Open File Hindi, Canarytokens Tells When Anyone Open File in Hindi.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.