PC Benchmark Tests: वे क्या हैं, और क्या वास्तव में उनका महत्व हैं?

Benchmark Hindi.

Benchmark Hindi

Meaning of Benchmark in Hindi:

Benchmark Meaning In Hindi:

स्‍टैंडर्ड या स्‍टैंडर्ड का एक सेट, जिसे परफॉर्मेंस या क्‍वालीटी कि लेवल को रेफर करने के रूप में उपयोग किया जाता है।

 

What is Benchmark in Hindi?

बेंचमार्क क्या है?

बेंचमार्किंग कंपनी के प्रॉडक्‍ट, सर्विस या प्रोसेस के परफॉर्मेंस को इंडस्‍ट्री में बेस्‍ट माने जाने वाले प्रॉडक्‍ट, सर्विस या प्रोसेस के साथ मापने की एक प्रोसेस हैं।

कंप्यूटर की दुनिया में, अक्सर हार्डवेयर कंपोनेंटस्, सॉफ़्टवेयर प्रोग्राम्स और यहां तक कि इंटरनेट कनेक्शन के स्‍पीड या परफॉर्मेंस की तुलना करने के लिए मानक के रूप में बेंचमार्क का उपयोग किया जाता है।

 

आपको Benchmark Test क्यों रन करना चाहिएं? और Benchmarks Important क्‍यों हैं?

बेंचमार्क हार्डवेयर परफॉर्मेंस के लिए एक गाइड के रूप में उपयोगी हो सकते हैं। वे आपको दिखा सकते हैं कि एक पीढ़ी से अगली के पीढ़ी तक परफॉर्मेंस में कैसे सुधार हुआ है। यह आपके किसी प्रॉडक्‍ट कि वैल्‍यू फॉर मनी का आकलन करने में आपकी मदद कर सकता है, क्योंकि आप आसानी से देख सकते हैं कि यह इसी तरह की कीमत वाले ऑप्‍शन की तुलना में कैसे काम करता है।

आप अपने हार्डवेयर को किसी और के साथ तुलना करने के लिए बेंचमार्क रन कर सकते हैं।

यह टेस्‍ट करने के लिए कि नया हार्डवेयर वास्तव में वैसे ही काम कर रहा हैं, जैसा कि इसके विज्ञापन मे दिखाया जा रहा हैं, या यह देखने के लिए कि यह हार्डवेयर निश्चित मात्रा में वर्कलोड को सपोर्ट करता है।

यह बेंचमार्क टेस्‍ट कंप्यूटर हार्डवेयर, जैसे सीपीयू, मेमोरी (रैम) या वीडियो कार्ड के लिए सबसे आम है।

 

How to Run a Benchmark Test in Hindi:

विंडोज के कुछ वर्जन में बिल्‍ट-इन Computer Performance (Benchmark) टूल होता हैं।

विंडोज में इस टूल को ओपन करने के लिए Windows Key + R किज प्रेस करें और रन कमांड में “perfmon /report” टाइप करें।

अब Windows Resource Monitor कि विंडो ओपन होगी, जिसमें आपके पीसी के सारे डिटेल्‍स दिखाई देंगे।

Benchmark Hindi

विंडोज रिसोर्स मॉनिटर एक ग्रेट टूल है, जिसे पहली बार विंडोज 7 में पेश किया गया था और यह कंप्यूटर के ओवरऑल सिस्टम परफॉर्मेंस के डिटेल्‍स देता है। रिसोर्स मॉनिटर आपको डिस्क और नेटवर्क संबंधी जानकारी भी देता है।

इसके साथ ही विभिन्न प्रकार के मुफ्त बेंचमार्क सॉफ़्टवेयर टूल भी हैं जो विभिन्न हार्डवेयर कंपोनेंट टेस्‍ट करने के लिए उपयोग किए जा सकते हैं।

इनमें से Novabench एक मुफ्त बेंचमार्किंग टूल है जो विंडोज और मैक पर सीपीयू, हार्ड ड्राइव, रैम और वीडियो कार्ड को टेस्‍ट करता है। इसके रिजल्‍ट पेज के NovaBench Score कि तुलना आप अन्य ऑनलाइन यूजर्स के साथ कर सकते हैं।

 

Benchmarks Test रन करते समय इन बातों का ध्‍यान रखें

यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि जब आप किसी हार्डवेयर कि Benchmarks Test रन करते हैं, तो उस समय उसका इस्‍तेमाल नहीं कर रहे हैं।

उदाहरण के लिए, यदि आप अपनी हार्ड ड्राइव के लिए बेंचमार्क टेस्‍ट रन करने जा रहे हैं, तो आप ड्राइव को अनावश्यक रूप से उपयोग न करें, जैसे कि फ़ाइलों को कॉपी करना या प्रोग्राम को रन करना, आदि।

इसी तरह, यदि आप एक ही समय में फाइल डाउनलोड या अपलोड कर रहे हैं, तो आप अपने इंटरनेट कनेक्शन के बेंचमार्क टेस्‍ट के रिजल्‍ट पर भरोसा नहीं कर सकते।

 

Common Benchmark Tests in Hindi:

उपयोग किए गए सॉफ़्टवेयर या टेस्‍ट करने वाले व्यक्ति के आधार पर Benchmark tests भिन्न होते हैं। चूंकि वे अक्सर विभिन्न एरियाज पर ध्यान केंद्रित करते हैं, इसलिए हार्डवेयर परफॉर्मेंस की एक बड़ी तस्वीर पाने के लिए आपको कई टेस्‍ट का उपयोग करना पड़ सकता हैं।

यहां कुछ सबसे आम टेस्‍ट के डिटेल्‍स हैं –

 

1) प्रोसेसर:

i) फ़्लोटिंग प्वाइंट मैथ टेस्ट:

इसे अधिकांश टूल्‍स द्वारा उपयोग किया जाता है, यह प्रोसेसर की बेसिक मैथमेटिकल फंक्‍शन को परफॉर्म करने की क्षमता का टेस्‍ट होता है। इसके रिजल्‍ट आमतौर पर मिलीसेकंड में डिस्‍प्‍ले होते हैं, इसलिए कम नंबर फास्‍ट परफॉर्मेंस का संकेत हैं।

 

ii) कंप्रेशन टेस्‍ट:

ये उस स्‍पीड को टेस्‍ट करता है जिस पर प्रोसेसर डेटा के बड़े ब्लॉकों को दोषरहित तरीके से कंप्रेस करने में सक्षम होता है।

रिजल्‍ट स्‍पीड के रूप में दिखाए जा सकते हैं, प्रति सेकंड किलोबाइट में, इसलिए एक ज्‍यादा नंबर बेहतर है।

 

iii) सिंगल कोर टेस्‍ट:

इसे सिनेबेंच या पासमार्क जैसी सर्विसेस के द्वारा उपयोग किया जाता है। यह टेस्‍ट प्रोसेसर में एक कोर के परफॉर्मेंस पर ध्यान केंद्रित करती हैं।

अच्छा सिंगल कोर परफॉर्मेंस आवश्यक है, क्‍योकि बहुत सारे सॉफ़्टवेयर मल्‍टी-कोर प्रोसेसिंग के लिए ऑप्‍टीमाइज नहीं होते।

 

2) ग्राफिक्स कार्ड:

i) 2 डी ग्राफिक्स टेस्‍ट:

इस टेस्‍ट में 2 डी ग्राफिक्स ड्रॉइंग, मुविंग और स्केलिंग लाइन्‍स, फॉंट, यूजर इंटरफेस में एलिमेंटस् और आदि पर फोकस होता हैं।

यह अक्सर फ्रेम प्रति सेकंड में मापा जाता है, इसलिए इसके रिजल्‍ट में ज्‍यादा नंबर बेहतर होते है।

 

ii) 3 डी ग्राफिक्स टेस्‍ट:

गेमिंग और ग्राफिक्स इंटेसिंव ऐप्‍लीकेशन के लिए यह एक प्रमुख टेस्‍ट हैं और इसे हेवन बेंचमार्क या 3DMark जैसे टूल्‍स द्वारा उपयोग किया जाता है।

इन टेस्‍ट में स्क्रीन पर कुछ या बहुत से 3 डी ऑब्जेक्ट्स को प्रस्तुत करना शामिल है, जिसमें जटिलता के विभिन्न स्तरों पर विस्तार, छाया, एंटी-अलायज़िंग और अधिक शामिल हैं, साथ ही विभिन्न API (जैसे डायरेक्टएक्स और ओपनजीएल) को टेस्‍ट करना शामिल है।

 

3) हार्ड ड्राइव

i) सिक्वेन्शल टेस्‍ट:

हार्ड ड्राइव बेंचमार्क टेस्‍ट में अक्सर सिक्वेन्शल रिड और राइट स्‍पीड और रैंडम रिड और राइट स्‍पीड पर फोकस होता हैं।

Sequential फ़ाइलों को ड्राइव के एक भाग में स्‍टोर करने को रेफर किया जाता है, जैसे कि बड़ी फ़ाइलें नॉन-फ्रैंगमेंटेड हार्ड ड्राइव पर रिटन कि गई।

इसका रिजल्‍ट प्रति सेकंड MB में डिस्‍प्‍ले होता हैं, इसलिए ज्‍यादा नंबर मतलब बेहतर है।

 

ii) रैंडम टेस्‍ट:

पूरे हार्ड ड्राइव पर रैंडमली स्‍टोर बड़े डेटा को एक्‍सेस करते समय हार्ड ड्राइव के परफॉर्मेंस को टेस्‍ट किया जाता हैं।

रैंडम रिड और राइट टाइम, सिक्वेन्शल टाइम से काफी स्‍लो होता हैं।

 

4) स्मार्टफोन

स्मार्टफ़ोन केंद्रित बेंचमार्क ऐप्स वहीं एलिमेंट को टेस्‍ट करते हैं, जो डेस्‍कटॉप और लैपटॉप के करते हैं। लेकिन इसमें कुछ एक्‍सट्रॉ भी हैं, जैसे –

i) एसडी कार्ड रिड/राइट स्‍पीड:

हार्ड ड्राइव टेस्‍ट के समान, यह उस स्‍पीड को निर्धारित करता है जिस पर डेटा को मेमोरी कार्ड (या इंटरनल मेमोरी) में रिड या राइट किया जा सकता है।

हार्ड ड्राइव के साथ, यह MB पर सेकंड में मापा जाता है, इसलिए एक ज्‍यादा नंबर्स फास्‍ट परफॉर्मेंस को इंडिगेट करते है।

 

ii) डाटाबेस IO:

AnTuTu जैसे ऐप अधिकांश स्मार्टफ़ोन बेंचमार्किंग ऐप्स में उपयोग किया जाते है, यह डिवाइस पर डेटाबेस को रिड और राइट की स्‍पीड को मापते है।

स्‍लो परफॉर्मेंस यहां डिवाइस के ओवरऑल परफॉर्मेंस को प्रभावित कर सकता है।

 

क्‍या Benchmark Test और Stress Test एक समान हैं?

यह दोनों समान हैं, लेकिन एक अच्छे टेस्‍ट के लिए stress test और एक benchmark दो अलग-अलग शब्द हैं।

जबकि बेंचमार्क का उपयोग परफॉर्मेंस की तुलना करने के लिए किया जाता है, एक stress test यह देखने के लिए है कि यह ब्रेक होने से पहले कितना कुछ किया जा सकता है।

उदाहरण के लिए, आप अपने वीडियो कार्ड के लिए एक बेंचमार्क टेस्‍ट रन कर सकते हैं ताकि आप यह जान पाए कि जिस नए वीडियो गेम को आप इंस्‍टॉल करने जा रहे हैं, उसमें यह पर्याप्त परफॉर्मेंस दे सकता हैं।

हालांकि, आप उस वीडियो कार्ड के लिए एक स्‍ट्रेस टेस्‍ट रन करते हैं, अगर आप यह देखना चाहते हैं कि यह काम करना बंद करने से पहले कितने वर्कलोड को हैंडल कर सकता हैं।

 

Benchmark Hindi.

Benchmark Hindi, Meaning of Benchmark in Hindi, Benchmark Test in Hindi. Benchmark Meaning In Hindi.

सारांश
आर्टिकल का नाम
What is Benchmark
लेखक की रेटिंग
51star1star1star1star1star